राजनीति

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में नौ राज्यों की 72 सीटों पर मतदान शुरू

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में भाजपा नेता गिरिराज सिंह, बाबुल सुप्रियो, बैजयंत पांडा, कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद, उर्मिला मातोंडकर, मिलिंद देवड़ा, सीपीएम के कन्हैया कुमार, समाजवादी पार्टी की डिंपल यादव की चुनावी किस्मत ईवीएम में कैद होगी.

Election Voting PTI4_29_2019_000072B

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में सोमवार को वोट डालने के लिए लाइन में लगे लोग. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: लोकसभा चुनावों के चौथे चरण में सोमवार को नौ राज्यों की 72 संसदीय सीटों पर मतदान शुरू हो गया.

भाजपा और उसकी सहयोगी पार्टियों के लिए चुनावों का यह चरण काफी अहम माना जा रहा है, क्योंकि 2014 के लोकसभा चुनावों में इन 72 में से 56 सीटों पर उन्हें जीत मिली थी. बाकी बची 16 सीटों में से दो पर कांग्रेस को जीत मिली थी जबकि शेष सीटें तृणमूल कांग्रेस (छह) और बीजद (छह) जैसी विपक्षी पार्टियों के खाते में गई थी.

सोमवार को महाराष्ट्र की 17, राजस्थान और उत्तर प्रदेश की 13-13, पश्चिम बंगाल की आठ, मध्य प्रदेश एवं ओडिशा की छह-छह, बिहार की पांच और झारखंड की तीन सीटों पर मतदान हो रहा है. इसके अलावा, जम्मू-कश्मीर की अनंतनाग लोकसभा सीट पर भी मतदान होगा. अनंतनाग सीट पर तीन चरणों में मतदान कराया जा रहा है.

चौथे चरण में राजस्थान और मध्य प्रदेश की कुल 54 सीटों पर मतदान की शुरुआत भी हो गई. साल 2014 में इन दोनों राज्यों की कुल 54 सीटों में से 52 पर भाजपा को जीत मिली थी. पिछले साल इन दोनों राज्यों की सत्ता में वापसी कर कांग्रेस ने अपनी स्थिति 2014 के मुकाबले काफी मजबूत कर ली है.

लोकसभा चुनावों के पहले तीन चरणों में 302 सीटों पर मतदान हो चुका है जबकि अंतिम तीन चरणों में 168 सीटों पर मतदान होगा.

चौथे चरण में केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा नेता गिरिराज सिंह, सुभाष भामरे, एसएस आहलूवालिया और बाबुल सुप्रियो तथा पूर्व केंद्रीय मंत्रियों एवं कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद और अधीर रंजन चौधरी सहित 961 उम्मीदवारों की चुनावी किस्मत ईवीएम में कैद होगी. इस चरण में करीब 12.79 करोड़ वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे.

सीपीएम के कन्हैया कुमार, भाजपा के बैजयंत पांडा, कांग्रेस की उर्मिला मातोंडकर, समाजवादी पार्टी की डिंपल यादव, तृणमूल कांग्रेस की शताब्दी रॉय और कांग्रेस के मिलिंद देवड़ा सहित कई अन्य उम्मीदवार भी चौथे चरण में चुनाव लड़ रहे नामी चेहरों में शामिल हैं.

चुनाव आयोग ने 1.40 लाख मतदान केंद्र बनाए हैं और सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं.

चौथे चरण के चुनाव के साथ ही महाराष्ट्र की सभी सीटों पर चुनाव संपन्न हो जाएगा. राज्य में विपक्षी कांग्रेस को उत्तरी महाराष्ट्र और मुंबई में अपना खोया जनसमर्थन फिर से हासिल करने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है. कांग्रेस की सहयोगी एनसीपी को भी ठाणे जिले और पश्चिमी महाराष्ट्र में फिर से वापसी का इंतजार है. चौथे चरण में महाराष्ट्र की जिन 17 सीटों पर मतदान हो रहा है, वे सभी सीटें 2014 में भाजपा ने जीती थी.

राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत, जयपुर के पूर्व राज परिवार की सदस्य दीया कुमारी और दो केंद्रीय मंत्री सहित 115 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद होगी. जोधपुर सीट पर वैभव का मुकाबला केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से है.

राजस्थान की सभी 25 लोकसभा सीटों पर 2014 में भाजपा ने जीत दर्ज की थी. लेकिन अब कांग्रेस वापसी की पुरजोर कोशिश कर रही है.

उत्तर प्रदेश में सोमवार को जिन 13 सीटों पर मतदान होना है, उनमें ज्यादातर पर भाजपा और सपा-बसपा गठबंधन के बीच सीधी टक्कर है. कन्नौज सीट सपा के लिए प्रतिष्ठा का विषय है, क्योंकि अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव इस सीट से पार्टी की उम्मीदवार है. साल 2014 में भाजपा ने इन 13 सीटों में से 12 पर जीत दर्ज की थी.

कम से कम तीन सीटों – उन्नाव, फर्रुखाबाद और कानपुर – पर कांग्रेस की अच्छी मौजूदगी है. अनु टंडन उन्नाव, सलमान खुर्शीद फर्रुखाबाद और श्रीप्रकाश जायसवाल कानपुर से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं.

पश्चिम बंगाल के चार जिलों में फैली आठ लोकसभा सीटों पर सोमवार को मतदान हो रहे हैं. इन सीटों पर तृणमूल कांग्रेस, भाजपा, कांग्रेस और वाम मोर्चा के बीच चतुष्कोणीय मुकाबला है.

ओडिशा में लोकसभा के साथ-साथ विधानसभा के भी चुनाव हो रहे हैं. ओडिशा की जिन छह लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है, उन पर 2014 में बीजद ने जीत दर्ज की थी. लेकिन इस बार भाजपा बीजद के जनाधार में सेंध लगाने की पूरी कोशिश कर रही है. राज्य की कुल 147 विधानसभा सीटों में से 41 विधानसभा सीटों पर भी सोमवार को मतदान हो रहा है.

बिहार में जिन पांच लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है, वे सभी सीटें अभी भाजपा और उनकी सहयोगी पार्टियों के पास हैं. लेकिन इस बार भाजपा और उनकी सहयोगी पार्टियों को राजद-कांग्रेस गठबंधन से अच्छी चुनौती मिलती दिख रही है.

खासकर बेगूसराय सीट पर लोगों की नजरें हैं, जहां सीपीएम के कन्हैया कुमार और भाजपा नेता गिरिराज सिंह के बीच मुकाबला बताया जा रहा है. हालांकि, राजद उम्मीदवार तनवीर हसन ने पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार को कड़ी टक्कर दी थी और इस बार भी उनके अच्छे प्रदर्शन की संभावनाएं जताई जा रही हैं.

मध्य प्रदेश की छह सीटों पर कांग्रेस और भाजपा के बीच सीधी टक्कर होने के आसार हैं. छिंदवाड़ा सीट से नौ बार लोकसभा सांसद रह चुके मुख्यमंत्री कमलनाथ विधानसभा उप-चुनाव जबकि उनके बेटे नकुल नाथ लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं.

झारखंड की जिन तीन सीटों पर सोमवार को मतदान हो रहा है, उन पर 45.26 लाख से ज्यादा वोटर 59 उम्मीदवारों की किस्मत तय करेंगे. केंद्रीय मंत्री सुदर्शन भगत लोहरदगा (एसटी) सीट से किस्मत आजमा रहे हैं.

जम्मू-कश्मीर की अनंतनाग लोकसभा सीट के हिस्से कुलगाम जिले में भी आज मतदान हो रहा है. अनंतनाग सीट चार जिलों – अनंतनाग, कुलगाम, शोपियां और पुलवामा – में फैली हुई है, जिसमें कुल 16 विधानसभा क्षेत्र हैं. सुरक्षा कारणों से अनंतनाग सीट पर तीन चरण में मतदान कराए जा रहे हैं.

11 अप्रैल और 19 मई के बीच सात चरणों में लोकसभा की 542 सीटों के लिए चुनाव कराए जा रहे हैं. धनबल के इस्तेमाल के मामले सामने आने के बाद तमिलनाडु की वेल्लोर सीट पर चुनाव रद्द कर दिए गए हैं. लोकसभा चुनावों के नतीजे 23 मई को घोषित किए जाएंगे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)