भारत

यूपीए के समय वीडियो गेम में सर्जिकल स्ट्राइक होने की बात कर सेना का अपमान कर रहे मोदी: राहुल

कांग्रेस मुख्यालय पर आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि चुनाव आयोग विपक्ष के साथ पूरी तरह से भेदभाव कर रहा है.

अहमदाबाद में मंगलवार को एक जनसभा को संबोधित करते कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी. (फोटो साभार: ट्विटर/@INCIndia)

अहमदाबाद में मंगलवार को एक जनसभा को संबोधित करते कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी. (फोटो साभार: ट्विटर/@INCIndia)

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि यूपीए शासनकाल के दौरान सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक वीडियो गेम में की गई कहकर नरेंद्र मोदी कांग्रेस का नहीं बल्कि सेना का अपमान कर रहे हैं.

इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि चुनाव आयोग विपक्ष के साथ पूरी तरह से भेदभाव कर रहा है.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, कांग्रेस मुख्यालय पर आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल गांधी ने कहा, ‘कांग्रेस के एक आंतरिक सर्वेक्षण के अनुसार भाजपा मौजूदा लोकसभा चुनाव हार रही है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया और प्रधानमंत्री ने नौकरी या किसानों के बारे में एक शब्द नहीं बोला है.’

उन्होंने कहा, ‘इस समय सबसे बड़ी समस्या बेरोज़गारी और मोदी जी द्वारा बर्बाद की गई अर्थव्यवस्था है. देश पूछ रहा है कि मोजी जी आपके दो करोड़ नौकरियों के वादे का क्या हुआ.’

गांधी ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर को ब्लैकलिस्ट किए जाने का श्रेय लिए जाने पर भी मोदी पर हमला बोला.

उन्होंने कहा कि मोदी जी को बताना चाहिए कि अज़हर को पाकिस्तान किसने भेजा था. भाजपा समझौता करती है जबकि कांग्रेस आतंकवाद से सख्ती से निपटती है.

मोदी के वीडियो गेम टिप्पणी पर गांधी ने कहा कि भारतीय सेना उनकी व्यक्तिगत संपत्ति नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘सेना, वायुसेना और नौसेना नरेंद्र मोदी जी की व्यक्तिगत संपत्ति नहीं है, जैसा कि वह सोचते हैं. जब वह कहते हैं कि यूपीए के दौरान की गई सर्जिकल स्ट्राइक्स वीडियो गेम में की गई तब वह कांग्रेस का नहीं बल्कि सेना का अपमान कर रहे हैं.’

इस दौरान गांधी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के उस आरोप को खारिज़ कर दिया कि यूपीए शासन के दौरान उनके पूर्व कारोबारी साथी को रक्षा सौदे मिले थे. उन्होंने कहा, ‘आप जो जांच कराना चाहते हैं वह करा लीजिए. मैं तैयार हूं क्योंकि मुझे पता है कि मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है लेकिन कृपया जांच करवा लीजिए.’

न्याय योजना की तारीफ करते हुए गांधी ने कहा कि यह योजना एक मजबूत और अद्भुत सिद्धांत है. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी को ध्वस्त कर दिया है. उनकी बुनियाद झूठ पर टिकी है जो अगले कुछ दिनों में गिर जाएगी.’

कांग्रेस के जीतने पर अगले प्रधानमंत्री के बारे में पूछे जाने पर गांधी ने कहा, ‘यह मेरा काम नहीं है, देश के लोग फैसला करेंगे कि देश का प्रधानमंत्री कौन होगा. युवा, किसान, अर्थव्यवस्था सभी इस शासन से छुटकारा पाना चाहते हैं. हम देश में सभी को रास्ता दिखाना चाहते हैं.’

कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम मोदी पर कटाक्ष करते हुए उन्हें बहस के लिए चुनौती दी और कहा, ‘मैंने उन्हें कहा कि चलिए नौकरी, भ्रष्टाचार पर बहस करते हैं. अनिल अंबानी के घर को छोड़कर आप जहां चाहें बस मुझसे 10 मिनट बहस कर लीजिए.’