राजनीति

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: वाराणसी में नरेंद्र मोदी आगे

निर्वाचन कार्यालय से मिले शुरुआती आंकड़ों के अनुसार, उत्तर प्रदेश की वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 30,589 वोट, सपा प्रत्याशी शालिनी यादव को 15,895 वोट और कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय को 8,779 वोट मिले हैं.

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi during a 'thanksgiving' meeting with the Union council of ministers at BJP headquarters, in New Delhi, Tuesday, May 21, 2019, two days ahead of Lok Sabha polls results. (PTI Photo/Manvender Vashist) (PTI5_21_2019_000121B)

(फोटो: पीटीआई)

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी में लोकसभा चुनाव के लिए डाले गए मतों की गिनती जारी है और शुरुआती रुझानों के अनुसार, मोदी अपने सभी प्रतिद्वंद्वियों से आगे चल रहे हैं.

निर्वाचन कार्यालय से मिले आंकड़ों के अनुसार, शुरुआती रुझानों में भाजपा प्रत्याशी नरेंद्र मोदी वाराणसी में सपा-बसपा गठबंधन की शालिनी यादव से 14,694 वोटों से आगे चल रहें हैं. पहले दौर की गणना के अनुसार, मोदी को 30,589 वोट, सपा प्रत्याशी शालिनी यादव को 15,895 वोट और कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय को 8,779 वोट मिले हैं.

उत्साह से भरे भाजपा कार्यकर्ता जहां प्रधानमंत्री मोदी की एकतरफा जीत का दावा कर रहे हैं, वहीं विपक्षी पार्टियां अपने प्रत्याशियों द्वारा मोदी को कड़ी टक्कर दिए जाने की दलील दे रही हैं.

भाजपा के जिला कोषाध्यक्ष कालिंदी उपाध्याय ने कहा, ‘पिछली बार की तरह इस बार भी लोगों ने प्रधानमंत्री मोदी पर विश्वास जताया है. जनता जानती है कि मोदी के नेतृत्व में देश सुरक्षित है. इस बार भी भाजपा पूर्ण बहुमत के साथ केंद्र में सरकार बनाएगी.’

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष पीयूष यादव का कहना है, ‘अभी तो मतगणना शुरू हुई है. आगे के परिणाम समाजवादी पार्टी के अनुकूल रहने वाले हैं. शाम तक इंतजार करें, स्थिति स्पष्ट हो जाएगी.’

कांग्रेस के वरिष्ठ कार्यकर्ता प्रो. अनिल उपाध्याय ने कहा, ‘वाराणसी में शुरू से ही आचार संहिता का उल्लंघन किया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भले ही तकनीकी रूप से चुनाव जीत जाएं, परंतु जनता के दिलों में उन्हें पराजय मिली है. लगातार कई जगहों से ईवीएम में गड़बड़ी की खबरें आईं, परंतु चुनाव आयोग ने कोई जांच बैठाना मुनासिब नहीं समझा. भाजपा यदि इस बार देश में अपनी सरकार बनाती है तो यह देश में लोकतंत्र की हार होगी.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्तमान में वाराणसी से ही सांसद हैं.  साल 2014 में नरेंद्र मोदी ने तीन लाख वोटों के अंतर से दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को हराया था.

मोदी को पांच लाख 81 हज़ार वोट मिले थे, वहीं कांग्रेस के अजय राय सिर्फ़ 75 हज़ार वोट ही पा सके थे. अजय राय इस सीट पर तीसरे स्थान पर आए थे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)