भारत

गुजरात: सूरत के एक कोचिंग सेंटर में आग लगने से 15 छात्रों समेत 19 की मौत

सूरत के एक व्यावसायिक परिसर में चल रहे कोचिंग सेंटर में हुआ हादसा. आग से बचने के लिए कई लोग इमारत से कूदने लगे, जिसमें चार की मौत हो गई.

गुजरात के सूरत शहर के एक कोचिंग सेंटर में लगी आग. (फोटो साभार: ट्विटर/@SECULAR_IN)

गुजरात के सूरत शहर के एक कोचिंग सेंटर में लगी आग. (फोटो साभार: ट्विटर/@SECULAR_IN)

सूरत: गुजरात के सूरत शहर में एक व्यावसायिक परिसर में शुक्रवार दोपहर आग लगने के बाद एक कोचिंग सेंटर के छात्रों ने इमारत से कूदना शुरू कर दिया, जिससे 15 छात्रों समेत करीब 19 लोगों की मौत हो गई.

अधिकारियों ने बताया कि तक्षशिला परिसर की तीसरी और चौथी मंजिल पर आग लग गई थी.

टीवी चैनलों पर दिखाई जा रही वीडियो में छात्र इमारत की तीसरी और चौथी मंजिल से कूदते नजर आ रहे हैं.

अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि 19 दमकल गाड़ियों को मौके पर भेजा गया और आग पर काबू पाने के लिए दो हाइड्रोलिक प्लेटफार्म भी बनाए गए हैं.

स्थानीय लोग भी बचाव अभियान में अधिकारियों की मदद कर रहे हैं.

दमकल अधिकारी ने बताया, ‘छात्रों ने आग से बचने के लिए तीसरी और चौथी मंजिल से कूदना शुरू कर दिया था. कई बच्चों को बचाकर अस्पताल पहुंचाया गया है. आग पर काबू पाने की कोशिश जारी है.’

कोचिंग क्लास दूसरी मंजिल पर स्थित है, जहां आग लगी. यह वाणिज्यिक परिसर सूरत के सरथना इलाके में नेचर पार्क एंड जू के बगल में स्थित है और इसे सूरत नगर पालिका की ओर से संचालित किया जाता है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, छह बच्चे जो बिल्डिंग से कूदकर जमीन पर गिरे थे, उन्हें एसएमआईएमईआर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. हादसे में जो भी मारे गए हैं या घायल हुए हैं अभी उनकी पहचान नहीं हो सकी है.

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, जान बचाने के लिए 13 बच्चे चौथी मंजिल से कूद गए. चार की मौत इमारत से कूदने की वजह से हुई. आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट बताई जा रही है.

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने हादसे पर दुख जताते हुए मारे गए बच्चों के परिवारों के लिए मुआवजे का ऐलान किया है. उन्होंने दो दिन में हादसे की जांच रिपोर्ट देने को कहा है.

ट्विटर पर मुख्यमंत्री ने लिखा है, ‘सूरत में आग लगने से हुए हादसे से गहरा दुख पहुंचा है. अधिकारियों को जो भी जरूरी हो, करने का आदेश दिया गया है. हादसे में जो भी प्रभावित हुए हैं, उनके प्रति मेरी संवेदनाएं हैं. जो भी घायल हुए हैं उनके जल्द ठीक होने की कामना है. जो अब हमारे बीच नहीं हैं, उनके लिए मैं प्रार्थना करता हूं. ओम शांति.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा है, ‘सूरत में हुए हादसे से आहत हूं. दुखी परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं. हादसे में घायल लोग जल्दी ठीक हों. गुजरात सरकार और स्थानीय प्रशासन से प्रभावित लोगों को हरसंभव मदद देने के लिए कहा है.’

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘सूरत, गुजरात में हुए इस हादसे की ख़बर से बहुत दुख पहुंचा है. पीड़ित परिवारों के प्रति, मैं गहरी शोक और संवेदना व्यक्त करता हूं. घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)