भारत

सोनिया गांधी फिर चुनी गईं कांग्रेस संसदीय दल की नेता

राहुल गांधी ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि हम सभी संविधान और हर भारतीय के लिए लड़ रहे हैं. हमारे पास अभी भी 52 सांसद हैं और हम हर दिन भाजपा से लड़ेंगे.

Sonia-ANI

कांग्रेस की संसदीय दल की बैठक में सोनिया गांधी को सर्वसम्मति से दल का नेता चुनते सदस्य (फोटोः एएनआई)

नई दिल्लीः कांग्रेस की संसदीय दल की शनिवार को हुई बैठक में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी को सर्वसम्मति से कांग्रेस संसदीय दल का नेता चुना गया.

संसद के सेंट्रल हॉल में हुई बैठक में सोनिया गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की मौजूदगी में एक बार फिर संसदीय दल का नेता चुन गया.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, ‘ श्रीमती सोनिया गांधी को कांग्रेस संसदीय दल का नेता चुना गया है. उन्होंने सोनिया गांधी की तरफ से कहा कि हम कांग्रेस पार्टी में दोबारा विश्वास जताने के लिए 12.13 करोड़ लोगों का आभार जताते हैं.’

राहुल गांधी ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि सभी सदस्यों को एक बात याद रखनी चाहिए कि हम सभी संविधान और हर भारतीय के लिए लड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमारे पास अभी भी 52 सांसद हैं और हम हर दिन बीजेपी से लड़ेंगे.

बैठक में नई सरकार बनने के बाद 17 जून से शुरू हो रहे संसदीय सत्र के मुद्दों पर भी चर्चा हुई.

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद 25 मई को कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक हुई थी, जिसमें राहुल ने इस्तीफे की पेशकश कर दी थी. हालांकि, सीडब्ल्यूसी ने इसे ठुकरा दिया था. इसके बाद यह पहला मौका है, जब राहुल गांधी सार्वजनिक तौर पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मिले.

गौरतलब है कि इस लोकसभा चुनाव में विपक्ष के तौर पर कोई बड़ी पार्टी उभर कर सामने नहीं आई है. चुनाव में भाजपा 303 सीट तो कांग्रेस महज 52 सीटें जीत पाई है. विपक्ष का नेता बनने के लिए पार्टी के पास कुल 543 लोकसभा सीटों में से कम से कम 10 फीसदी यानी 55 सीटें होनी चाहिए.