दुनिया

सेना-आईएसआई के आलोचक पाकिस्तानी ब्लॉगर और पत्रकार की हत्या

पाकिस्तान के 22 वर्षीय मोहम्मद बिलाल ख़ान के पिता ने कहा कि उनके शरीर पर किसी धारदार हथियार के निशान थे. इस संबंध में आतंकवाद रोधी कानून समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

मोहम्मद बिलाल खान. (फोटो साभार: ट्विटर)

मोहम्मद बिलाल खान. (फोटो साभार: ट्विटर)

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की शक्तिशाली सेना एवं जासूसी एजेंसी आईएसआई की आलोचना करने के लिए जाने जाने वाले 22 वर्षीय पाकिस्तानी ब्लॉगर एवं पत्रकार की यहां अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी.

‘डॉन’ समाचार पत्र ने पुलिस के हवाले से बताया कि मोहम्मद बिलाल खान अपने एक रिश्तेदार एहतेशाम के साथ थे, तभी उन्हें एक फोन आया जिसके बाद एक व्यक्ति रविवार रात को उन्हें निकटवर्ती जंगल लेकर गया.

खान के ट्विटर पर 16 हजार, यू-ट्यूब पर 48 हजार और फेसबुक पर 22 हजार फॉलोवर्स हैं.

पुलिस अधीक्षक सद्दर मलिक नईम ने बताया कि खान पर इस्लामाबाद के जी-9/4 इलाके में हमला किया गया. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन गंभीर रूप से घायल होने के कारण उनकी मौत हो गई.

उनका रिश्तेदार भी गंभीर रूप से घायल हो गया और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. नईम ने बताया कि संदिग्ध ने हत्या के लिए खंजर का इस्तेमाल किया. कुछ लोगों ने बंदूक चलने की भी आवाज सुनी.

ब्लॉगर एवं पत्रकार खान की हत्या के बाद हैशटैग ‘जस्टिसफॉरमोहम्मदबिलालखान’ सोशल मीडिया पर ट्रेंड होने लगा. कई ट्विटर यूजर्स ने कहा कि पाकिस्तानी सेना और आईएसआई के आलोचक होने के कारण उनकी हत्या की गई.

एक व्यक्ति ने ट्वीट किया, ‘पाकिस्तानी पत्रकार मोहम्मद बिलाल खान की इस्लामाबाद में रविवार रात गोली मारकर हत्या कर दी गई. खान को ताकतवर सेना एवं उसकी कुख्यात जासूसी एजेंसी के आलोचक के तौर पर जाना जाता था.’

मृतक के पिता अब्दुल्ला ने बताया कि खान के शरीर पर किसी धारदार हथियार के निशान थे. इस संबंध में आतंकवाद रोधी कानून समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. खान के पिता ने कहा कि इस घटना से लोगों में भय पैदा हो गया है.