भारत

गुड़गांव में मवेशी तस्करी के संदेह में दो की पिटाई, दोनों पीड़ित गिरफ़्तार

गुड़गांव पुलिस के पीआरओ सुभाष बोकन ने कहा कि पलवल जिले के निवासी शथील अहमद और तैयद को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अस्पताल से छूटने के बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. बरामद किए गए मीट को टेस्ट के लिए लेबोरेटरी में भेज दिया गया है.

Gurugram-Screenshot-2019-05-27-at-9.25.33-AM-1200x600

गुड़गांव: हरियाणा के गुड़गांव जिले में मंगलवार को मवेशियों की तस्करी के संदेह में दो व्यक्तियों पर भीड़ ने कथित रूप से हमला किया.

समूह का नेतृत्व करने वाली सविता कटारिया ने कहा कि यहां से तीन किमी दूर सेक्टर 38 में स्थित इस्लामपुर गांव के पास कथित ‘गौ रक्षा इकाई’ के एक समूह ने दो पिकअप वैन को सुबह के समय रोका.

गुड़गांव पुलिस के पीआरओ सुभाष बोकन ने कहा कि पलवल जिले के निवासी शथील अहमद और तैयद को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां पर उनकी हालात स्थिर है. वहीं, मौके से भागे दो अन्य लोगों की तलाश जारी है.

हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार, पुलिस ने सेक्टर-9 में गौशाला चलाने वाली महिला की शिकायत के आधार पर दोनों व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस ने कहा कि उनके बयान दर्ज किए जाने अभी बाकी हैं.

पुलिस के अनुसार, यह घटना इस्लामपुर गांव में एक अस्पताल के पास सुबह के 6 बजे घटित हुई. पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत में अपनी पहचान गौरक्षक के रूप में बताने वाली महिला ने कहा कि सुबह के 5:30 बजे उसे और उसके कुछ लोगों को जानकारी मिली कि कुछ लोग एक पिक-अप गाड़ी में गौमांस लेकर नूह से दिल्ली जा सकते हैं.

महिला ने कहा, ‘हम इस्लामपुर गांव गए और दो ऐसे पिक-अप को रोका जो नूह से दिल्ली को जा रही थीं. रोकने के बाद चार लोग गाड़ी में से निकले और भागने लगे. गाड़ी में मांस भरे थे. लोगों को भागते देख भीड़ ने उन्हें दौड़ा लिया. उनमें से दो को पकड़ लिया गया जबकि बाकी भागने में कामयाब रहे. इसके बाद भीड़ उन्हें पीटने लगी.’

वहीं, पुलिस ने कहा, ‘उन्हें सुबह के 6:40 बजे घटना की सूचना मिली और मौके पर पहुंचकर उन्हें दोनों जीप को कब्जे में ले लिया.’

बोकन ने कहा, ‘दो लोगों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस जांच कर रही है. अस्पताल से छूटने के बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. पुलिस ने कहा कि बरामद किए गए मीट को टेस्ट के लिए लेबोरेटरी में भेज दिया गया है.’

पुलिस ने कहा कि वे उन लोगों की पहचान करने में जुटे हैं जिन्होंने शथील और तैयद पर हमला किया. मंगलवार को सदर पुलिस स्टेशन में आरोपियों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)