भारत

मथुरा में दूषित पानी पीने से सौ से अधिक बीमार, एक बच्ची की मौत

यह घटना मथुरा के आन्यौर गांव की है, जहां बुधवार को उल्टी, दस्त और पेट में दर्द की शिकायत पर लोगों को गांव के ही अस्पतालों में भर्ती कराया गया. बीमार हुए 100 से अधिक लोगों में 50 बच्चे भी शामिल हैं.

water-l-reuters

(फोटोः रॉयटर्स)

मथुराः उत्तर प्रदेश के मथुरा के एक गांव में बीते कुछ दिनों में दूषित पानी पीने से 100 से अधिक लोग बीमार हो गए हैं, जिनमें से 50 बच्चे हैं.  वहीं, एक डेढ़ साल की बच्ची की मौत हो गई है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, यह घटना मथुरा के आन्यौर गांव की है, जहां बुधवार को उल्टी, दस्त और पेट में दर्द की शिकायत पर लोगों को गांव के ही अस्पतालों में भर्ती कराया गया.

गांव वालों का कहना है कि दूषित पानी पीने से सभी बीमार हुए हैं.  इस घटना के सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया है.

हालांकि, डॉक्टरों का कहना है कि इन मरीजों के अस्पताल में आने के कुछ घंटों में इन्हें डिस्चार्ज कर दिया है. किसी की भी हालत गंभीर नहीं है.

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ शेर सिंह ने बताया, ‘गोवर्धन के आन्यौर गांव में एक साथ बड़ी तादाद में लोगों को उल्टी-दस्त, पेट दर्द एवं बुखार होने की जानकारी हमें मिली थी. सूचना मिलते ही चिकित्सकों की एक विशेष टीम बनाकर भेज दी गई. जिस प्रकार की स्थिति बताई जा रही है, उससे लगता है कि ऐसा दूषित पानी पीने से ऐसा हुआ.’

उन्होंने बताया, ‘चिकित्सकों की टीम गांव में लगातार शिविर लगाकर सभी गांव वालों के स्वास्थ्य की जांच कर रही है. बीमारी के कारणों का सही-सही पता लगाने के लिए पानी के नमूने लेकर जांच के लिए भेजा गया है. लगभग हर घर से कोई न कोई व्यक्ति डायरिया का शिकार है.’

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी ने बताया, ‘हमने बुधवार को 60 मरीजों की जांच की और सभी में एक जैसे ही लक्षण थे. विस्तृत जांच के बाद सभी को दवाइयां दे दी गई हैं.’

गोवर्धन के उप जिलाधिकारी नागेंद्र प्रताप ने बताया, ‘सभी ग्रामीणों के इलाज के साथ-साथ गांव में सफाई अभियान भी चलाया जा रहा है तथा जल निगम को पानी की टंकी की सफाई के भी निर्देश दिए गए हैं.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)