भारत

गुजरात: 3000 करोड़ की लागत से बने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की दर्शक दीर्घा में पानी घुसा

गुजरात के नर्मदा जिले के केवड़िया में 182 मीटर ऊंची सरदार पटेल की स्टैच्यू ऑफ यूनिटी दुनिया में अपनी तरह की सबसे ऊंची प्रतिमा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल 31 अक्टूबर को उसका उद्घाटन किया था.

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (फोटो: पीटीआई)

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (फोटो: पीटीआई)

राजपिपला: गुजरात में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की दर्शक गैलरी में वर्षा का पानी घुस गया है और पर्यटकों ने फर्श पर पानी फैलने एवं छत से पानी टपकने का वीडियो साझा किया है.

अधिकारियों ने बताया कि 135 मीटर ऊंची इस गैलरी के सामने ग्रिल लगा है जिससे भारी वर्षा के दौरान तेज हवा के साथ पानी घुस जाता है. सोशल मीडिया पर वीडियो साझा करने वालों ने इस स्थिति पर निराशा प्रकट की है.

नर्मदा जिले के केवड़िया में 182 मीटर ऊंची सरदार पटेल की स्टैच्यू ऑफ यूनिटी दुनिया में अपनी तरह की सबसे ऊंची प्रतिमा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल 31 अक्टूबर को उसका उद्घाटन किया था. इसे बनाने में लगभग 3000 करोड़ रुपये का खर्चा आया था.

एक पर्यटक ने संवाददाताओं से कहा, ‘हम दुनिया की इस सबसे ऊंची प्रतिमा को देखने के लिए बड़ी आस के साथ आए थे. लेकिन हमें प्रतिमा वर्षा में देख बहुत बुरा लग रहा है. अभी तो भारी वर्षा हुई भी नहीं है लेकिन मुख्य सभागार और दर्शक गैलरी में पानी भर गया है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है.’

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, हालांकि, स्टेच्यू के अधिकारियों का कहना है कि गैलरी के फर्श पर आ रहे पानी को लीकेज नहीं कहा जा सकता है.

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) आईके पटेल ने कहा, ‘गैलरी के खुले होने के कारण इसका फर्श पानी से भर जाता है.’

उन्होंने कहा, ‘गैलरी को खुला रखने का उद्देश्य लोगों को प्राकृतिक रूप में वहां की प्राकृतिक सुंदरता का आनंद लेने देने का था. पीछे की तरफ एक कांच लगा है और वहां कोई पानी इकट्ठा नहीं है.’

उन्होंने कहा, ‘हालांकि, स्टेच्यू की छाती पर गैलरी के सामने डिजाइन के अनुसार खुला है और यह स्वाभाविक है कि वहां बारिश का पानी आ जाएगा. इस हिस्से में कोई रिसाव नहीं है क्योंकि छत से टपकने वाला पानी भी उसी बारिश का पानी है.’

हालांकि, पटेल इस बात से सहमत थे कि शनिवार सुबह सीलिंग के कई हिस्सों से बेस में प्रदर्शनी हॉल के रिसाव की सूचना है.

पटेल ने कहा, ‘हमने प्रदर्शनी हाल को तुरंत सही करने के लिए एल एंड टी से कहा है. कहीं और कोई लीकेज नहीं है. हालांकि, उन्होंने कहा कि गैलरी का जो अगला हिस्सा खुला है उसे बंद नहीं किया जाएगा.’