भारत

केंद्र सरकार ने चार नए राज्यपालों की नियुक्ति की, आनंदीबेन पटेल उत्तर प्रदेश भेजी गईं

केंद्र सरकार ने दो राज्यपालों का तबादला किया है. मध्य प्रदेश की राज्यपाल रहीं आनंदी बेन पटेल को उत्तर प्रदेश का राज्यपाल बनाया गया है. वहीं लालजी टंडन को मध्य प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.

modi-Anandi-PTI

नरेंद्र मोदी और आनंदीबेन पटेल. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्लीः सरकार ने शनिवार को चार राज्यों में नये राज्यपाल नियुक्त किए जबकि दो राज्यपालों का तबादला कर दिया गया.

सुप्रीम कोर्ट के प्रख्यात वकील और पूर्व सांसद जगदीप धनखड़ को राजनीतिक रूप से अशांत पश्चिम बंगाल का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.

1990-1991 में संसदीय मामलों के केंद्रीय उपमंत्री रहे धनखड़ (68) ने 2003 में कांग्रेस छोड़ दी और भाजपा के सदस्य बन गए. वह केशरीनाथ त्रिपाठी का स्थान लेंगे, जिनका कार्यकाल अगले सप्ताह के अंत में समाप्त हो जाएगा.

राष्ट्रपति भवन से जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (77) को उत्तर प्रदेश का राज्यपाल बनाया गया है और बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन उनका स्थान लेंगे. पटेल जनवरी 2018 में मध्य प्रदेश की राज्यपाल नियुक्त हुई थीं.

विज्ञप्ति के मुताबिक, दिग्गज भाजपा नेता और बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन मध्य प्रदेश में पटेल की जगह लेंगे. उन्हें पिछले साल अगस्त में राज्यपाल नियुक्त किया गया था.

विज्ञप्ति में कहा गया कि छत्तीसगढ़ से भाजपा के दिग्गज नेता रमेश बैस को त्रिपुरा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है. यह पदभार पिछले साल अगस्त से कप्तान सिंह सोलंकी के पास था.

सोलंकी जुलाई 2014 से हरियाणा और फिर त्रिपुरा के राज्यपाल बने थे.उनका कार्यकाल 27 जुलाई को समाप्त हो रहा है.

विज्ञप्ति के अनुसार, खुफिया ब्यूरो के सेवानिवृत्त विशेष निदेशक और नगा वार्ता के पूर्व वार्ताकार एन रवि को नगालैंड का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.

1976 बैच के आईपीएस अधिकारी रवि ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ मिलकर काम किया है और मुख्य रूप से उन्होंने सरकार के साथ समझौता के लिए प्रमुख नगा समूह एनएससीएन-आईएम के साथ संधि पर काम किया है.

इसमें कहा गया है कि फागू चौहान को बिहार का राज्यपाल नियुक्त किया गया है, जो लालजी टंडन का स्थान लेंगे.