राजनीति

लोजपा के सांसद रामचंद्र पासवान और दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का निधन

चार बार सांसद रहे राम चंद्र पासवान केंद्रीय मंत्री एवं लोजपा प्रमुख राम विलास पासवान के छोटे भाई थे. दिल का दौरा पड़ने के बाद उन्हें नई दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वहीं दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मांगे राम की सेहत उम्र संबंधी दिक्कतों के कारण ठीक नहीं थी.

लोजपा सांसद राम चंद्र पासवान (बाएं) और दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग. (फोटो साभार: ट्विटर)

लोजपा सांसद राम चंद्र पासवान (बाएं) और दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग. (फोटो साभार: ट्विटर)

नई दिल्ली: लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के सांसद राम चंद्र पासवान और दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का रविवार को निधन हो गया.

राम चंद्र पासवान केंद्रीय मंत्री एवं लोजपा प्रमुख राम विलास पासवान के छोटे भाई थे. उनका नई दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में दोपहर 1.24 बजे निधन हो गया. वह 57 वर्ष के थे.

राम चंद्र को पिछले सप्ताह दिल का दौरा पड़ा था जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनके परिवार में पत्नी, दो बेटे और एक बेटी है. उनका अंतिम संस्कार सोमवार को पटना में किया जाएगा.

राम विलास पासवान ने कहा, ‘बड़े दुख के साथ मैं सूचित कर रहा हूं कि मेरे सबसे प्रिय और छोटे भाई लोकसभा सदस्य राम चंद्र पासवान का आज दोपहर एक बजकर 24 मिनट पर डॉ. राममनोहर लोहिया अस्पताल, दिल्ली में निधन हो गया.’

राम विलास पासवान के बेटे चिराग पासवान ने कहा, ‘राम चंद्र पासवान जी का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शनों के लिए शाम पांच बजे से नई दिल्ली के 18, राजेंद्र प्रसाद मार्ग स्थित उनके आवास पर रखा जाएगा. इसके बाद पार्थिव देह को पटना ले जाया जाएगा और लोजपा कार्यालय में सुबह 11 बजे से अपराह्न तीन बजे तक रखा जाएगा. शाम चार बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.’

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला समेत कई नेताओं ने राम चंद्र पासवान के निधन पर शोक व्यक्त किया.

राम चंद्र चार बार सांसद रहे. वह 1999 में पहली बार, इसके बाद 2004 में और तीसरी बार 2014 में सांसद निर्वाचित हुए थे. मई 2019 में वह बिहार के समस्तीपुर से लोकसभा चुनाव जीते थे.

राष्ट्रपति कोविंद ने ट्वीट किया, ‘समस्तीपुर, बिहार से लोकसभा सदस्य श्री राम चंद्र पासवान के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं. वह जमीनी स्तर पर उन लोगों की सेवा करने के लिए प्रतिबद्ध रहे और बिहार के लोगों की भलाई में उन्होंने बहुत योगदान दिया. उनके परिवार और सहयोगियों के प्रति संवेदना.’

उपराष्ट्रपति ने कहा, ‘केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के भाई और लोकसभा सांसद राम चंद्र पासवान जी के असमय निधन पर मैं शोक व्यक्त करता हूं.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम चंद्र पासवान के निधन पर रविवार को शोक व्यक्त किया.

प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘श्री राम चंद्र पासवान जी ने गरीबों और दबे-कुचले लोगों के लिए अथक कार्य किया. हर मंच पर उन्होंने किसानों और नौजवानों के अधिकारों के लिए बेबाकी से बात की.’

उन्होंने कहा कि लोकसभा सदस्य ने समाजसेवा के लिए उल्लेखनीय प्रयास किए.

गृह मंत्री अमित शाह ने लोजपा सांसद राम चंद्र पासवान के निधन पर शोक व्यक्त किया. शाह ने कहा कि गरीबों और हाशिये पर रहे लोगों को सशक्त बनाने के वास्ते किए गए प्रयासों के लिए उन्हें हमेशा याद रखा जाएगा.

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, ‘बिहार के समस्तीपुर से सांसद श्री राम चंद्र पासवान जी के निधन के बारे में जानकर दुखी हूं. गरीबों और हाशिये पर रहे लोगों को सशक्त बनाने के वास्ते किए गए प्रयासों के लिए उन्हें हमेशा याद रखा जाएगा. दुख की इस घड़ी में पासवान परिवार और उनके समर्थकों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है.’

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सांसद के आवास पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी.

दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का निधन

दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का रविवार सुबह नई दिल्ली के एक अस्पताल में निधन हो गया. वह 83 वर्ष के थे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने गर्ग के निधन पर शोक व्यक्त किया.

मोदी ने ट्वीट किया, ‘श्री मांगेराम गर्ग जी का दिल्ली से गहरा जुड़ाव था. जिस तरह उन्होंने शहर के लोगों की नि:स्वार्थ सेवा की, उससे यह नजर आता है. उन्होंने दिल्ली में भाजपा को मजबूत करने में अहम भूमिका निभायी. उनका निधन दुखद है और दुख की इस घड़ी में उनके परिवार एवं समर्थकों के प्रति मेरी संवेदना है. ओम शांति.’

उन्होंने कहा, ‘श्री मांगे राम गर्ग जी जैसे नेता किसी भी पार्टी के लिए संपत्ति की तरह होते हैं. वे जमीन पर नि:स्वार्थ भाव से काम करते थे और विभिन्न सामुदायिक सेवाओं के माध्यम से उन्होंने तमाम लोगों के दिलों को छुआ था. गर्ग जी के अच्छे कामों को वर्षों तक याद किया जाएगा.’

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी गर्ग के निधन पर शोक जताया.

गर्ग का उत्तर दिल्ली के पश्चिम विहार में एक्शन बालाजी अस्पताल में सुबह करीब साढ़े सात बजे निधन हुआ. उम्र संबंधी दिक्कतों के कारण उनकी सेहत ठीक नहीं थी.

पार्टी के नेताओं ने बताया कि गर्ग के पार्थिव शरीर को अशोक विहार में उनके आवास पर ले जाया गया और फिर वहां से पार्थिक शरीर पंत मार्ग पर दिल्ली भाजपा कार्यालय ले जाया गया.

दिल्ली भाजपा कार्यालय में बड़ी संख्या में पार्टी नेता और कार्यकर्ता उनके अंतिम दर्शन के लिए आए.

परिवार के सदस्यों ने बताया कि गर्ग ने अपने अंग ‘दधीचि देह दान समिति’ को दान कर दिए थे जिसके लिए उनका पार्थिव शरीर दोपहर एक बजे लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया जाएगा.

गर्ग साल 2003 से 2008 तक वजीरपुर क्षेत्र से विधायक रहे. वह पार्टी में कई पदों पर रहे जिसमें कोषाध्यक्ष, जिलाध्यक्ष और भाजपा दिल्ली अध्यक्ष का पद शामिल है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)