भारत

उत्तर प्रदेश: वीडियो में कांवड़िये के पैर दबाते नज़र आए शामली के एसपी

शामली पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से घटना का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा है कि सुरक्षा के साथ-साथ सेवा भी.

कांवड़िये का पैर दबाते शामली एसपी अजय कुमार. (फोटो: वीडियो ग्रैब)

कांवड़िये का पैर दबाते शामली एसपी अजय कुमार. (फोटो: वीडियो ग्रैब)

नई दिल्ली: सावन की शुरुआत होने के साथ शिव का जल चढ़ाने के लिए कांवड़ यात्रा शुरू हो गई है. इस बीच उत्तर प्रदेश में शामली जिले के एसपी अजय कुमार का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह एक कांवड़िये का पैर दबाते नजर आ रहे हैं.

शामली पुलिस ने खुद अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस वीडियो को शेयर किया है. शामली पुलिस ने ट्वीट कर लिखा है, ‘सुरक्षा के साथ-साथ सेवा भी. आज दिनांक 26.07.19 को एसपी शामली श्री अजय कुमार द्वारा चिकित्सा शिविर का उद्धघाटन किया गया तथा चिकित्सा शिविर में आए हुए भक्तों की सेवा की गई.’

इस ट्वीट में यूपी पुलिस और कुछ समाचार चैनलों के आधिकारिक ट्विटर हैंडल को भी टैग किया गया है.

वीडियो में एसपी वर्दी पहनकर एक कांवड़िये को फुट मसाज देते हुए नजर आ रहे हैं. कांवड़िये का पैर एक फुट मसाजर पर रखा हुआ है और एसपी उसके पैर के पंजों को दबा रहे हैं.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, एसपी अजय कुमार की एक फोटो भी सामने आई है, जिसमें वे कांवड़ियों पर फूल बरसाते हुए नजर आ रहे हैं.

एक अन्य ट्वीट में शामली पुलिस ने कहा है, ‘आज दिनांक 26.07.19 को अपर पुलिस अधीक्षक शामली द्वारा एसटी तिराहे पर शिव भक्तों को मिष्ठान व फल वितरित कर भक्तों की सेवा की गई. पुलिस की सेवा देख भक्तों ने कहा, सर एक सेल्फी प्लीज.’

मालूम हो कि इससे पहले पिछले साल एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार ने कांवड़ मार्ग का हवाई सर्वेक्षण करते हुए कांवड़ यात्रियों पर फूल बरसाए थे. उनके अलावा मेरठ कमिश्नर अनीता मेश्राम और कुछ दूसरे वरिष्ठ अधिकारियों ने भी कांवड़ यात्रियों पर फूल बरसाए थे.

फूल बरसाए जाने को लेकर तब एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार ने कहा था, ‘इसमें धार्मिक एंगल नहीं तलाशा जाना चाहिए. प्रशासन सभी धर्मों का आदर करता है और गुरुपरब, ईद, बकरीद और जैन धर्म के त्योहारों में सक्रियता से भाग लेता है.’