भारत

अर्जुन अवॉर्ड के लिए दुती चंद और खेल रत्न के लिए हरभजन सिंह के नाम ख़ारिज

खेल मंत्रालय द्वारा धावक दुती चंद और क्रिकेटर हरभजन सिंह के नाम इसलिए ख़ारिज कर दिए गए क्योंकि संबंधित राज्य सरकारों ने पुरस्कार के लिए दोनों का नामांकन निर्धारित समयसीमा के अंदर नहीं भेजा था.

दुती चंद और हरभजन सिंह. (फोटो साभार: पीटीआई/विकिपीडिया)

दुती चंद और हरभजन सिंह. (फोटो साभार: पीटीआई/विकिपीडिया)

नई दिल्ली: खेल मंत्रालय ने अर्जुन अवॉर्ड के लिए धावक दुती चंद और खेल रत्न के लिए क्रिकेटर हरभजन सिंह का नामांकन खारिज कर दिया है. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि इन पुरस्कारों के लिए इन दोनों खिलाड़ियों के नाम संबंधित राज्य सरकारों ने खेल मंत्रालय को निर्धारित समयसीमा के अंदर नहीं भेजा था.

स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (साई) से जुड़े एक सूत्र ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, ‘पुरस्कार के लिए तय समयसीमा के बाद राज्य सरकारों ने नामांकन भेजा था. इस वजह से उनके नाम खारिज हो गए हैं.’

सूत्र ने बताया, ‘खासकर दुती चंद के मामले में न सिर्फ समयसीमा के बाद नामांकन भेजा गया, बल्कि निर्धारित तारीख तक उनके पदक रैंकिंग के अनुसार क्रम में नहीं थे. खेल मंत्रालय ने एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एएफआई) से नामांकन के लिए उनका रैंकिंग क्रम देने को कहा था. इस क्रम में वह पांचवें स्थान पर थीं, इसलिए भी उनका नामांकन खारिज कर दिया गया.’

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में दुती चंद ने कहा, ‘मुझे पता चला है कि पुरस्कार के लिए मेरा नाम खारिज कर दिया गया है क्योंकि नाम भेजने में सरकार ने देरी कर दी. उस वक्त चुनाव हो रहे थे इसलिए मेरे नाम की फाइल भेजने के काम में देरी हो गई.’

उन्होंने कहा, ‘मैं मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से मिली थी. मैंने उन्हें अपने मेडल दिखाए थे और खेल मंत्री से सलाह लेने के बाद मुख्यमंत्री से अपना नाम पुरस्कार के लिए दोबारा भेजने के लिए कहा था. उन्होंने मुझसे कहा था कि वह उनका नामांकन फिर से भेज देंगे और उनसे (खेल मंत्री) मेरे बारे में बाद करेंगे. उन्होंने कहा था कि मैं अपना ध्यान ट्रेनिंग और आने वाली प्रतियोगिताओं पर केंद्रित करूं.’

मालूम हो कि हाल ही में ओडिशा की दुती चंद विश्व यूनिवर्सिटी खेलों (वर्ल्ड यूनिवर्सियाड) में 100 मीटर की दौड़ में स्वर्ण पदक जीतकर इन खेलों में अव्वल रहने वाली पहली भारतीय महिला ट्रैक और फील्ड खिलाड़ी बन गई हैं.

इटली के नेपाली शहर में हुए विश्व यूनिवर्सिटी खेलों में 23 बरस की दुती ने 11.32 सेकंड का समय निकालकर यह रेस अपने नाम किया था.

दुती वैश्विक स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाली हिमा दास के बाद दूसरी भारतीय एथलीट हैं. दुती के नाम 100 मीटर रेस में राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी दर्ज है. 100 मीटर की दौड़ उन्होंने रिकॉर्ड 11.24 सेकेंड में पूरा की थी.

वहीं पंजाब से ताल्लुक रखने वाले भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह एक विशेषज्ञ स्पिन गेंदबाज हैं. टेस्ट क्रिकेट में किसी ऑफ स्पिनर द्वारा सबसे ज़्यादा विकेट लेने में वह दूसरे नंबर पर हैं. पहले नंबर पर श्रीलंकाई गेंदबाज मुथैया मुरलीधरन हैं.

हरभजन ने टेस्ट क्रिकेट के 103 मैचों में कुल 417 विकेट और 236 एकदिवसीय मैचों में 269 विकेट अपने नाम किए हैं. टी–20 के 28 मैचों में उन्हें कुल 25 विकेट मिले हैं. इसके अलावा उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 2224 और वनडे में कुल 1237 रन बनाए हैं.