भारत

उन्नाव रेप पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए इंडिया गेट पर प्रदर्शन, कहा- तुम अकेली नहीं हो

विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए लोगों ने कहा कि सरकार बेटी बचाओ नहीं, बल्कि बेटी डराओ अभियान चला रही है.

unnao rape case protest pti

इंडिया गेट पर इकट्ठा हुए प्रदर्शनकारी. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में एक सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हुई उन्नाव बलात्कार पीड़िता को इंसाफ दिलाने की मांग करने के लिए बीते सोमवार शाम दिल्ली के इंडिया गेट पर भारी संख्या में लोग इकट्ठा हुए.

स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव भी लोगों के साथ आ जुड़े. लोगों ने पीड़िता के प्रति एकजुटता प्रकट करते हुए इंसाफ की मांग की. इस दौरान लोग पोस्टर भी लिए हुए थे, जिस पर लिखा था- ‘तुम अकेली नहीं हो.’

यादव ने लोगों से संबोधित करते हुए कहा, ‘यह मामला महज दुर्घटना नहीं, हमला लगता है. पीड़िता के पिता की पहले ही हत्या कर दी गई, जब वह पुलिस हिरासत में थे और पिता की हत्या के गवाह की भी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई.’

प्रदर्शन में हिस्सा लेने वाली शिल्पी राज ने कहा कि यह चलन बन चुका है जो भी महिला उत्पीड़न के खिलाफ आवाज उठाते हैं, उन्हें और प्रताड़ित किया जाता है. उन्होंने आरोप लगाया, ‘सरकार बेटी बचाओ नहीं, बल्कि बेटी डराओ अभियान चला रही है.’

दिल्ली स्थित जामिया मिलिया इस्लामिया की छात्रा ऋत्विका भल्ला ने कहा कि एक तरफ ताकतवर पुरुष #मीटू अभियान का विरोध कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ बलात्कार के मामले में शिकायत दर्ज कराने के लिए महिला को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र जयंत ने कहा कि इस मामले में विधायक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करना सिर्फ एक खानापूर्ति थी, अभी तक मामले में कोई खास कार्रवाई नहीं हुई है.

मालूम हो कि उन्नाव रेप पीड़िता के एक्सीडेंट मामले में सोमवार को भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत 10 नामजद तथा 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया.

वहीं उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्नाव से भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली पीड़िता की रायबरेली में हुई सड़क दुर्घटना की जांच सीबीआई को सौंपेने की बीते सोमवार देर रात सिफारिश कर दी है.

बीते रविवार को रायबरेली में एक तेज रफ्तार ट्रक ने एक कार को टक्कर मार दी थी, जिसमें पीड़िता और उनकी रिश्तेदार तथा वकील सवार थे. हादसे में पीड़िता के दो रिश्तेदारों की मौत हो गई और पीड़िता एवं वकील हालत बेहद नाजुक है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)