भारत

हरियाणा के पलवल में कथित गोरक्षक की गोली मारकर हत्या

मृतक की परिजन ने गोतस्करों द्वारा हत्या किए जाने का आरोप लगाया. पलवल पुलिस ने बताया कि हत्या के संबंध में अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ केस दर्ज कर लिया गया है, लेकिन अब तक गोतस्करों द्वारा हत्या किए जाने का कोई सबूत नहीं मिला है.

Palwal

नई दिल्ली: हरियाणा के पलवल जिले में बीते सोमवार की शाम एक कथित गोरक्षक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. बताया जा रहा है कि 35 वर्षीय गोपाल स्थानीय गोरक्षा दल के सदस्य थे.

संगठन के अन्य सदस्यों ने आरोप लगाया है कि गायों की तस्करी कर रहे एक वाहन का पीछा करते हुए गोपाल पर हमला किया गया और उनकी हत्या कर दी गई.

हालांकि पुलिस ने गोतस्करी से संबंधित मामला होने से इनकार किया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार पलवल पुलिस अधीक्षक नरेंद्र बिजरनिया ने बताया, ‘हम हत्या के मामले की जांच कर रहे हैं. हत्या में गोतस्करों का हाथ होने का अब तक कोई सबूत नहीं मिला है.’

यह घटना पलवल ज़िले के होडल-नूह हाइवे पर हुआ. यह 42 किलोमीटर का राष्ट्रीय राजमार्ग है जो पलवल जिले के होडल कस्बे को नूह से जुड़ता है.

मृतक गोपाल के छोटे भाई जलवीर की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में कहा गया है, ‘वह (गोपाल) एक गोरक्षा दल का सक्रिय सदस्य था और गोतस्करों को उससे दिक्कत थी. सोमवार शाम हमें जानकारी मिली कि हमारे भाई को गोली मार दी गई है.’

एफआईआर में जलवीर ने बताया, ‘मैं अपने घर पहुंचा और देखा कि उसके निजी अंगों में गोली मारी गई थी.’

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, गोपाल सौंदहद गांव के रहने वाले थे. पुलिस ने हत्या के संबंध में अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

रिपोर्ट के अनुसार, शव का पोस्टमॉर्टम होने के बाद गोरक्षा दल के सदस्यों ने नेशनल हाईवे नंबर-19 पर स्थित आगरा चौक पहुंच गए और शव ले जा रहे एंबुलेंस को मार्ग के बीच में खड़ा कर जाम लगा दिया. पुलिस ने हलका बल प्रयोग करते हुए गोरक्षकों को मार्ग से खदेड़ कर एंबुलेंस को रवाना करा दिया था.