भारत

तिहाड़ जेल की महिला कैदी ने कॉन्स्टेबल पर लगाया बलात्कार का आरोप, केस दर्ज

महिला कैदी का आरोप है कि यह घटना कथित तौर पर तीन अगस्त को नंदन कानन एक्सप्रेस के स्लीपर कोच में उस समय हुई, जब उन्हें पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद से अदालती सुनवाई के बाद दिल्ली लाया जा रहा था.

तिहाड़ जेल दिल्ली (फोटो: रायटर्स)

तिहाड़ जेल दिल्ली (फोटो: रायटर्स)

नई दिल्लीः दिल्ली के तिहाड़ जेल की एक महिला कैदी ने दिल्ली पुलिस के एक कॉन्स्टेबल पर बलात्कार करने का आरोप लगाया है.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला कैदी का आरोप है कि इस महीने की शुरुआत में उसे अदालती सुनवाई के बाद पश्चिम बंगाल से दिल्ली लाया जा रहा था, जहां उसकी सुरक्षा में तैनात दिल्ली पुलिस के कॉन्स्टेबल में से एक ने ट्रेन के शौचालय में उसका बलात्कार किया.

बताया जा रहा है कि यह घटना तीन अगस्त को नंदन कानन एक्सप्रेस के स्लीपर कोच में हुई. महिला कैदी ने अगले दिन तिहाड़ जेल की डॉक्टर को इस घटना की जानकारी दी.

आरोपी कॉन्स्टेबल दिल्ली सशस्त्र पुलिस (डीएपी) का जवान है, जो दिल्ली पुलिस की विंग है, जो अदालती सुनवाइयों के लिए कैदियों को लाती-ले जाती है. एक हेड कॉन्स्टेबल और दो महिला कॉन्स्टेबल इस कैदी को सुनवाई के लिए पश्चिम बंगाल लेकर गए थे.

तिहाड़ जेल के प्रवक्ता ने बताया कि पीड़िता महिला कैदी ने रविवार दोपहर को जेल की डॉक्टर को इसकी जानकारी दी, जिसके बाद उन्हें मेडिकल जांच के लिए सरकारी अस्पताल ले जाया गया. जांच में बलात्कार की पुष्टि हो गई.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, डीसीपी (रेलवे) दिनेश कुमार गुप्ता ने कहा, ‘महिला की शिकायत के आधार पर हमने एफआईआर दर्ज कर ली है और जांच जारी है.’

पुलिस का कहना है कि महिला के खिलाफ दिल्ली और पश्चिम बंगाल में अपहरण के दो मामले दर्ज हैं.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘महिला का कहना है कि यह घटना तीन अगस्त को रात लगभग 1.30 बजे के आसपास हुई. महिला ने पुलिसकर्मियों से शौचालय जाने की बात कही, क्योंकि महिला पुलिसकर्मी सो रही थीं तो पुरुष पुलिसकर्मी उनके साथ शौचालय तक गया.’

महिला का आरोप है कि वह शौचालय में थी कि तभी हेड कॉन्स्टेबल अंदर घुस आया और उसके साथ बलात्कार किया. महिला ने बताया कि आरोपी ने उसे यह बात किसी को न बताने की भी धमकी दी. आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है.