भारत

गुरुग्रामः ज्योतिगिरी महाराज पर यौन उत्पीड़न के आरोप, मामला दर्ज

हरियाणा के गुरुग्राम में स्वयंभू बाबा ज्योतिगिरी महाराज पर कई महिलाओं और नाबालिग बच्चियों के यौन उत्पीड़न का आरोप है. इस संबंध में सोशल मीडिया पर उनके वीडियो वायरल होने के बाद से वह फरार हैं.

Jyotigiri-maharaj-facebook

ज्योतिगिरी महाराज (फोटो साभार: फेसबुक)

गुरुग्रामः हरियाणा के एक तथाकथित संत ज्योतिगिरी महाराज के खिलाफ महिलाओं और नाबालिग बच्चियों के कथित यौन उत्पीड़न के आरोपों को लेकर एफआईआर दर्ज की गई है.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, इन आरोपों के मुताबिक, हरियाणा के गुरुग्राम के बहोड़ा कलां गांव के बाबा ज्योतिगिरी महाराज पर कई महिलाओं के यौन उत्पीड़न का आरोप है.

इस संबंध में ज्योतिगिरी महाराज के अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है और अब गुरुग्राम पुलिस की साइबर सेल वीडियो की जांच कर रही है.

इस मामले से जुड़े वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने वालों के खिलाफ मामला इसलिए दर्ज किया गया है क्योंकि इन वीडियो में पीड़ित महिला का भी चेहरा साफ दिख रहा है.

आईटी कानून के तहत किसी अन्य माध्यम से अश्लील संदेश भेजना और आईपीसी की धारा 509 यानी किसी महिला की गरिमा को ठेस पहुंचाना इस कानून के दायरे में आता है और उसी के तहत उन पर मामला दर्ज किया गया है. सोशल मीडिया पर ये वीडियो वायरल होने के बाद से यह स्वयंभू बाबा फरार हैं.

आरोप हैं कि ज्योतिगिरी महाराज ने आश्रम आने वाली कई महिलाओं और नाबालिगों के साथ जबरन यौन संबंध बनाए और दर्जनभर बच्चों का यौन उत्पीड़न किया. इन वीडियो में बाबा को नाबालिग बच्चियों का यौन उत्पीड़न करते देखा जा सकता है.

न्यूज18 की रिपोर्ट के मुताबिक, आम आदमी पार्टी की हरियाणा इकाई के मीडिया प्रभारी सुधीर यादव द्वारा दर्ज करवाई गई है.

शिकायत में सुधीर यादव ने लिखा है कि वायरल वीडियो के माध्यम से उन्‍हें पता चला है कि बहोड़ा कलां गांव में बने ज्योतिगिरी के आश्रम में छोटी बच्चियों का यौन शोषण और महिला से उत्पीड़न हो रहा है.

इस मामले के प्रकाश में आने के बाद पुलिस शिकायत की एक कॉपी राष्ट्रीय महिला आयोग, हरियाणा के महिला आयोग और संबद्ध प्रशासन को दी गई.

ज्योतिगिरी के उज्जैन, काशी, गुरुग्राम और हरिद्वार सहित देशभर के कई स्थानों पर आश्रम हैं. हरियाणा में उनके द्वारा गोशाला भी चलाई जाती है.

क्षेत्र में तनाव की स्थिति को देखते हुए आश्रम के आसपास पुलिस चौकसी बढ़ा दी गई है. बहोड़ा कलां गांव के लोगों में नाराजगी है, उनका कहना है कि जब तक आश्रम बंद नहीं हो जाता और ज्योतिगिरी गिरफ्तार नहीं हो जाता, तब तक वे ज्योतिगिरी का विरोध जारी रखेंगे.