भारत

ममता बनर्जी अपनी भाषा और भाव बदल दें, वरना चिदंबरम जैसा हश्र होगा: भाजपा विधायक

भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि अगर ममता बनर्जी को बांग्‍लादेशी घुसपैठियों के बल पर ही राजनीति करनी है तो उन्हें बांग्‍लादेश का प्रधानमंत्री बनना चाहिए.

भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह.(फोटो: एएनआई)

भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह.(फाइल फोटो: एएनआई)

बलिया: विवादित बयानों की वजह से हमेशा सुर्खियों में रहने वाले भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर विदेशी ताकतों के बल पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि वह अपनी भाषा और भाव बदल दें, वरना उनका हश्र भी कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम जैसा ही होगा.

बलिया जिले के बैरिया क्षेत्र के भाजपा विधायक सिंह ने बीते शनिवार बैरिया में दो दिवसीय कृषि मेले के शुभारंभ कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से बातचीत में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर प्रहार किए.

उन्‍होंने पश्चिम बंगाल में राष्‍ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के जरिए नागरिकता की पुष्टि कराने के सिलसिले में ममता के बयान पर कहा कि ममता विदेशी ताकतों के बल पर राजनीति करती हैं.

उन्‍होंने कहा कि ममता भूल जाती हैं कि अब उनके बुरे दिन आने वाले हैं. वह अपने भाव और भाषा बदल दें, वरना उनका हश्र भी कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम जैसा ही होगा.

सिंह ने कहा कि ममता को बांग्‍लादेशी घुसपैठियों के बल पर ही राजनीति करनी है तो उन्हें बांग्‍लादेश का प्रधानमंत्री बनना चाहिए.

उन्होंने कहा कि बंगाल में भगवान राम तथा हनुमान के रूप में अमित शाह और योगी आदित्यनाथ का प्रवेश हो गया है. अगले विधानसभा चुनाव में वहां सत्ता परिवर्तन निश्चित है.

ये पहला मौका नहीं है जब सुरेंद्र सिंह ने इस तरह का विवादित बयान दिया हो.

इससे पहले इसी साल 11 अप्रैल को उन्नाव गैंगरेप मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का बचाव करते हुए विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा था, ‘कोई भी तीन बच्चों की मां का बलात्कार नहीं कर सकता है, यह संभव नहीं है. ऐसा मैं मनोवैज्ञानिक दृष्टि से बोल रहा हूं. यह विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ एक साजिश है. हां, ये हो सकता है कि उसके पिता को कुछ लोगों ने पिटा हो, लेकिन मैं बलात्कार के आरोपों पर विश्वास करने से इनकार करता हूं.’

इससे पहले बीते फरवरी माह में सुरेंद्र सिंह ने कहा था, ‘जो लोग भारत माता की जय नहीं बोल सकते वे पाकिस्तानी हैं और उन्हें देश में रहने का कोई अधिकार नहीं.’

उन्होंने कहा था, ‘जो लोग अपनी जन्मभूमि को मां का दर्जा नहीं देते उनकी देशभक्ति संदेहास्पद है. जिन लोगों को भारत माता की जय बोलने में दिक्कत है, उन्हें राजनीति में शामिल होने की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए.’

इस साल जनवरी महीने में उन्होंने कहा था कि भारत 2024 तक हिंदू राष्ट्र बन जाएगा.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)