भारत

उत्तर प्रदेश: प्रेम संबंध के चलते ओबीसी युवती के परिजनों ने दलित युवक को ज़िंदा जलाया

घटना हरदोई ज़िले के भदैचा गांव की है. पुलिस ने बताया कि 20 वर्षीय दलित युवक को कथित तौर पर दूसरी जाति की एक युवती से रिश्ते के चलते लड़की के परिजनों ने चारपाई से बांधकर जिंदा जला दिया. घटना की जानकारी के बाद इस सदमे से युवक की मां की भी मौत हो गई.

Hardoi Uttar Pradesh

हरदोई: उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में एक 20 वर्षीय दलित युवक को कथित तौर पर दूसरी जाति की एक महिला के साथ उसके रिश्ते के चलते चारपाई से बांधकर जिंदा जला दिया गया. इस हत्या के कारण उसकी मां की भी सदमे में मौत हो गई.

पुलिस के अनुसार, ऑनर किलिंग का संदिग्ध मामला शनिवार को हरदोई जिले के भदैचा इलाके में हुआ.

पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने कहा कि अभिषेक उर्फ मोनू की पिटाई की गई, उसे एक घर में बंधक बनाकर रखा गया. चीखें सुनकर स्थानीय लोग घटनास्थल पर पहुंचे और युवक को अस्पताल ले गए. युवक को लखनऊ के स्थानीय अस्पताल भेजा गया लेकिन रास्ते में उसने दम तोड़ दिया.

युवक के एक रिश्तेदार ने कहा कि यह खबर सुनकर मोनू की मां की सदमे से मौत हो गई. प्रियदर्शी के अनुसार, स्थानीय लोगों ने बताया कि मोनू के एक लड़की से प्रेम संबंध थे और जब यह घटना हुई, तब वह उससे मिलने गया था.

मोनू के चाचा राजू ने कहा, ‘मोनू अपनी मां 60 वर्षीय रामबेटी के इलाज के लिए 25 हजार रुपये की व्यवस्था करके लौट रहा था. कुछ लोगों ने मोनू को रास्ते में रोका और उसे एक घर में ले गए. उन्होंने मोनू के पैसे छीन लिए और उसे जला दिया.’

प्रियदर्शी ने कहा कि लड़की के दो रिश्तेदारों और दो पड़ोसियों के साथ पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. इस मामले में जांच जारी है. लड़की के दो पड़ोसियों के नाम सत्यम सिंह और शिखर सिंह हैं जो फरार हैं.

हरदाई के कोतवाली पुलिस स्टेशन के एसएचओ शैलेंद्र सिंह ने कहा, ‘उन पर आईपीसी की धारा 302 (हत्या), 147 (दंगा), 504 (जानबूझकर शांति भंग करने के इरादे से अपमान), 506 (आपराधिक धमकी) और अनुसूचित जाति एवं जनजाति अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.’

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (पूर्व) ज्ञानन्जय सिंह ने कहा, ‘हमारी जानकारी के अनुसार भदैचा गांव में अपने चाचा और चाची के साथ रहने वाला मोनू कुमार (दलित युवक) अपनी पड़ोसी लड़की, जो एक ओबीसी समुदाय से है, के साथ रिश्ते में था. शनिवार शाम को मोनू की मां रामबेटी बीमार पड़ गई और उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया. लखनऊ अस्पताल में रेफर किए जाने के बाद मोनू के पिता ने उसे कुछ पैसे लाने के लिए घर भेज दिया.’

उन्होंने कहा, ‘हमारी जानकारी के अनुसार, जब मोनू गांव पहुंचा तो वह उस लड़की से मिलने गया जहां लड़की के परिवार के सदस्यों ने उस पकड़ लिया. इसके बाद मोनू को कथित तौर पर एक चारपाई से बांध दिया गया और पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी गई.’

उन्होंने कहा, ‘इसके बाद मोनू के परिवार को जैसे ही इस घटना के बारे में पता चला उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचित किया. पुलिस की एक टीम जल्द ही गांव में पहुंची और देखा कि मोनू को गंभीर रूप से जला दिया गया है. अस्पताल ले जाते समय उसकी मौत हो गई.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)