भारत

राहुल गांधी ने विदेश मंत्री से कहा- प्रधानमंत्री मोदी को थोड़ी कूटनीति सिखाएं

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने यह टिप्पणी अमेरिका दौरे पर गए विदेश मंत्री एस. जयशंकर के उस बयान पर की जिसमें उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ह्यूस्टन रैली में ‘अबकी बार ट्रंप सरकार’ का जो नारा दिया था, वह किसी अन्य संदर्भ में था और उसका गलत मतलब न निकालें.

नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी. (फोटो: रॉयटर्स)

नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी. (फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बीते 22 सितंबर को अमेरिका के ह्यूस्टन में आयोजित ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में अपनी ‘अबकी बार ट्रंप सरकार’ का नारा लगाने पर मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तीखी आलोचना करते हुए कहा कि यह उनकी अक्षमता को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि इससे अमेरिका की विपक्षी पार्टी डेमोक्रेट को भारत के साथ समस्या पैदा गई.

हालांकि, मोदी की अक्षमता का बचाव करने के लिए उन्होंने विदेश मंत्री एस. जयशंकर का शुक्रिया अदा किया और उनके अनुरोध किया कि वे प्रधानमंत्री को थोड़ी बहुत कूटनीति सिखाएं.

गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘हमारे पीएम की अक्षमता को कवर करने के लिए जयशंकर जी आपका धन्यवाद. उनके इस समर्थन ने भारत के लिए डेमोक्रेट के साथ गंभीर समस्याएं पैदा कीं. मुझे आशा है कि यह आपके हस्तक्षेप से सही हो जाएगा. इस पर काम करने के दौरान आप उन्हें थोड़ी बहुत कूटनीति के बारे में सिखाएं.’

वाशिंगटन की तीन दिवसीय यात्रा पर गए विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने अमेरिका की घरेलू राजनीतिक की तरफ भारत के निर्दलीय रुख को दोहराते हुए सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ह्यूस्टन रैली में ‘अबकी बार ट्रंप सरकार’ का जो नारा दिया था, वह महज उसका संदर्भ था जो डोनाल्ड ट्रंप ने अपने राष्ट्रपति चुनाव प्रचार अभियान के दौरान भारतीय-अमेरिकी समुदाय का प्यार हासिल करने के लिए कहा था.

उन्होंने इस बात को सिरे से नकार दिया कि प्रधानमंत्री ने 2020 के चुनाव अभियान के लिए ट्रंप की उम्मीदवारी का समर्थन करने के लिए ऐसा कहा था.

विदेश मंत्री ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि हमें बातों का गलत अर्थ निकालना चाहिए. मुझे नहीं लगता कि ऐसा करके आप किसी के लिए अच्छा कर रहे हैं.’

गौरतलब है कि 22 सितंबर को ह्यूस्टन में 50,000 से अधिक भारतीय अमेरिकियों के जनसमूह को संबोधित करते मोदी ने कहा था, ‘उम्मीदवार ट्रंप के ‘अबकी बार ट्रंप सरकार’ शब्दों की गूंज ऊंची और स्पष्ट है.’

प्रधानमंत्री के इस नारे की कांग्रेस पार्टी ने तीखी आलोचना की थी और कहा था कि आप भारत के प्रधानमंत्री हैं, न कि अमेरिकी चुनाव में स्टार प्रचारक.