भारत

महाराष्ट्र: भाजपा-शिवसेना की सहयोगी पार्टी ने अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के भाई को दिया टिकट

एनडीए गठबंधन में शामिल आरपीआई के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने छोटा राजन के भाई दीपक निकालजे को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार बनाया है. वे सतारा ज़िले की फल्टन सीट से चुनाव लड़ेंगे. इसे अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन का गढ़ माना जाता है.

आरपीआई प्रमुख रामदास आठवले के साथ दीपक निकालजे. (फोटो: पीटीआई)

आरपीआई प्रमुख रामदास आठवले के साथ छोटा राजन के भाई दीपक निकालजे. (फोटो साभार: फेसबुक)

मुंबई: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के भाई दीपक निकालजे को भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए ने अपना उम्मीदवार बनाया है और वे सतारा जिले की फल्टन सीट से चुनाव लड़ेंगे.

बता दें कि, गिरफ्तारी के बाद प्रत्यपर्ण संधि के तहत भारत लाया गया छोटा राजन फिलहाल जेल में बंद है. फल्टन को छोटा राजन का गढ़ माना जाता है.

एनडीए गठबंधन की पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) के प्रमुख केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने निकालजे को अपनी पार्टी का उम्मीदवार बनाया है.

निकालजे ने आठवले की पार्टी से 2004, 2009 और 2014 में चेंबूर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था लेकिन अब सीट बंटवारे के तहत यह सीट शिवसेना को चली गई है.

2009 लोकसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग को दिए हलफनामे के मुताबिक निकालजे के पास 4 करोड़ की संपत्ति और 500 स्क्वेयर फीट का बंगले का खुलासा किया था. पिछले साल 2018 में निकालजे के खिलाफ एक 22 साल की युवती से रेप और यौन शोषण का केस दर्ज हुआ था.

आरपीआई के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘इस बार उन्होंने फलटण से चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर की क्योंकि वह उस इलाके से आते हैं और उनका वहां अच्छा संपर्क है.’

एनडीए में आरपीआई को छह सीटें दी गई हैं. बुधवार को पार्टी ने अपने उम्मीदवारों के नाम का एलान किया.

आरपीआई पश्चिमी महाराष्ट्र के अलावा सोलापुर जिले के मालशिरस, नांदेड़ जिले के भंडारा और नयगांव, परभणी में पाथरी और मुंबई में मानखुर्द-शिवाजी नगर सीट से अपने उम्मीदवार उतारेगी.

महाराष्ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटे हैं. बीजेपी ने अबतक 125 सीटों पर अपने उम्मीदवारों का एलान कर दिया है. वहीं शिवसेना के खाते में 124 सीटें गई है और उसने अपने 70 उम्मीदवारों के नामों का एलान कर दिया है.

बता दें कि, साल 2014 में महाराष्ट्र विधानसभा की 288 विधानसभा सीटों के लिए हुए चुनावों में भाजपा ने 122 सीटें, शिवसेना ने 63 सीटों, कांग्रेस ने 42 सीटें और एनसीपी ने 41 सीटें हासिल की थीं.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)