भारत

मुंबई: शुक्रवार रात से आरे कॉलोनी के 2,134 पेड़ काटे गए

मुंबई की आरे कॉलोनी में मेट्रो कार शेड बनाने के लिए तकरीबन 2700 पेड़ काटने की मंज़ूरी दे दी गई है, जिसका पर्यावरणविद् और स्थानीय लोग विरोध कर रहे हैं.

A woman reacts as she touches a tree after it was cut down in the Aarey Colony suburb of Mumbai, India, October 4, 2019. Picture taken October 4, 2019. REUTERS/Stringer NO ARCHIVES. NO RESALES.

मुंबई के आरे कॉलोनी में पेड़ काटे जाने के बाद प्रतिक्रिया व्यक्त करते लोग. (फोटो: रॉयटर्स)

मुंबई: मुंबई मेट्रो रेल निगम लिमिटेड (एमएमआरसीएल) ने बीते शुक्रवार से 24 घंटे के भीतर आरे मिल्क कॉलोनी के करीब 2,134 पड़ों को काट दिया है. इंडियन एक्सप्रेस ने वरिष्ठ अधिकारियों के हवाले से ये रिपोर्ट किया है.

बॉम्बे हाईकोर्ट द्वारा आरे कॉलोनी में पेड़ों की कटाई के फैसले को चुनौती देने वाली याचिकाओं को खारिज करने के बाद से ही एमएमआरसीएल ने पेड़ काटने की प्रक्रिया शुरु कर दी थी. महाराष्ट्र सरकार के इस कदम का मुंबई समेत देश भर में व्यापक विरोध हो रहा है.

अखबार के मुताबिक एमएमआरसीएल ने मेट्रो कार शेड बनाने के लिए 2,646 पेड़ों को काटने की कार्रवाई को अंजाम देने के लिए 70 लोगों की एक टीम भेजा था.

बीते शुक्रवार को बॉम्बे हाईकोर्ट से फैसला आने के बाद रात को नौ बजे से दो घंटे के भीतर एमएमआरसीएल ने इलेक्ट्रिक मशीन से 450 पेड़ों को काट दिया था. हालांकि स्थानीय लोगों द्वारा विरोध के बाद कुछ देर तक इस प्रक्रिया को रोक दिया गया था. लेकिन बाद में पुलिस की मदद से शनिवार रात नौ बजे तक में आरे कॉलोनी के करीब 2,134 पेड़ों को काट दिया गया.

मुंबई पुलिस ने आरे कॉलोनी में पेड़ों की कटाई को लेकर हुए विरोध प्रदर्शन के बीच शनिवार सुबह कॉलोनी और उसके आसपास के इलाकों में सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दी थी, जिसके बाद 29 लोगों को गिरफ्तार किया गया.

पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर ली है और किसी को वहां आने की अनुमति नहीं है. पुलिस अधिकारी ने बताया कि 29 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, इनमें से छह महिलाएं हैं.

अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने शुक्रवार रात से अभी तक 40 प्रदर्शनकारियों के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है.

मालूम हो कि बॉम्बे हाईकोर्ट ने उत्तरी मुंबई के हरित क्षेत्र में मेट्रो की पार्किंग बनाने के लिये पेड़ों की कटाई के खिलाफ दायर चार याचिकाओं को खारिज कर दिया था. इसके कुछ घंटों बाद मुंबई मेट्रो रेल निगम लिमिटेड (एमएमआरसीएल) ने शुक्रवार देर रात पेड़ों की कटाई शुरू कर दी थी.