भारत

झारखंड में पांच चरणों में होगा मतदान, 23 दिसंबर को होगी मतगणना

राज्य में 30 नवंबर को पहले चरण, सात दिसंबर को दूसरे चरण, 12 दिसंबर को तीसरे चरण, 16 दिसंबर को चौथे और 20 दिसंबर को पांचवें एवं आखिरी चरण का मतदान होगा.

New Delhi: Chief Election Commissioner Sunil Arora speaks during a press conference to announce the schedule for Jharkhand Assembly polls, at Nirvachan Sadan in New Delhi, Friday, Nov. 1, 2019. (PTI Photo/Kamal Kishore) (PTI11_1_2019_000212B)

झारखंड विधानसभा चुनाव की घोषणा मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: झारखंड विधानसभा की 81 सीटों के लिए 30 नवंबर से 20 दिसंबर तक पांच चरणों में मतदान होगा और 23 दिसंबर को मतगणना होगी. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शुक्रवार को इस बारे में घोषणा की.

राज्य में 30 नवंबर को पहले चरण, सात दिसंबर को दूसरे चरण, 12 दिसंबर को तीसरे चरण, 16 दिसंबर को चौथे और 20 दिसंबर को पांचवें एवं आखिरी चरण का मतदान होगा.

पहले चरण में 13 जिलों, दूसरे चरण में 20 जिलों, तीसरे चरण में 17 जिलों, चौथे चरण में 16 जिलों और आखिरी चरण में 15 जिलों में चुनाव होंगे.

वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल अगले साल 5 जनवरी को समाप्त होगा. राज्य में 2014 के विधानसभा चुनाव भी पांच चरणों में हुए थे. ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि चुनाव आयोग झारखंड के साथ-साथ दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए भी कार्यक्रम की घोषणा करेगा. हालांकि ऐसा नहीं हुआ.

मुख्यमंत्री रघुबर दास के नेतृत्व वाली भाजपा आदिवासी बहुल राज्य में सत्ता बरकरार रखने की उम्मीद कर रही है, जहां पार्टी ने पिछले विधानसभा चुनाव में 37 सीटें जीती थीं.

साल 2015 में विधानसभा चुनाव के बाद पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी की पार्टी झारखंड विकास मोर्चा (जेवीएम) के छह विधायकों के चुनाव के तुरंत बाद भाजपा में शामिल होने के बाद भाजपा सरकार बनाने में सक्षम हुई थी.

उस समय भाजपा पर पैसे देकर छह विधायकों अपने दल में शामिल करने का आरोप लगा था.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, लंबे समय से खंडित जनादेश और अस्थिर सरकारों से त्रस्त झारखंड में रघुबर दास पहले मुख्यमंत्री हैं, जिन्होंने पांच साल का कार्यकाल पूरा किया है.

भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनाव में भी राज्य की 14 में से 12 संसदीय सीटों पर जीत हासिल की.

कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) ने गठबंधन की घोषणा की है लेकिन अभी तक सीट बंटवारे को अंतिम रूप नहीं दिया गया है. समाचार एजेंसी आईएएनएस की एक रिपोर्ट में झारखंड कांग्रेस के प्रमुख रामेश्वर उरांव के हवाले से लिखा गया है, ‘सब कुछ पहले से तय है, और जल्द ही महागठबंधन की घोषणा की जाएगी.’ उन्होंने कहा कि मुख्य लक्ष्य भाजपा को बाहर करना है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)