राजनीति

अमित शाह. (फोटो साभार: फेसबुक)

गुजरात की गांधीनगर सीट से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह 4.5 लाख से ज़्यादा मतों से आगे

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार गांधीनगर सीट पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को अब तक 7,18,443 वोट मिल चुके हैं.

उर्मिला मातोंडकर. (फोटो: पीटीआई)

मुंबई उत्तर सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी उर्मिला मातोंडकर भाजपा उम्मीदवार से 1.67 लाख वोटों से पीछे

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: चुनाव आयोग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, भाजपा उम्मीदवार गोपाल शेट्टी को अब तक 2,60,502 मत मिले हैं, जबकि उर्मिला मातोंडकर को 93,690 वोट प्राप्त हुए हैं.

Ravi Shankar Prasad Shatrughan Sinha PTI Twitter

पटना साहिब सीट: भाजपा के रविशंकर प्रसाद 2.72 लाख वोटों से आगे, शत्रुघ्न सिन्हा पिछड़े

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: बिहार की राजधानी की पटना साहिब सीट पर कांग्रेस के शत्रुघ्न सिन्हा और भाजपा के रविशंकर प्रसाद के बीच सीधा मुक़ाबला है. लंबे समय तक भाजपा में रहे सिन्हा लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस में शामिल में हुए थे.

New Delhi: Aam Aadmi Party's (AAP) East Delhi candidate Atishi addresses a press conference, at party office in New Delhi, Friday, April 26, 2019. (PTI Photo) (PTI4_26_2019_000121B)

पूर्वी दिल्ली सीट से आप उम्मीदवार आतिशी तीसरे स्थान पर, भाजपा उम्मीदवार गौतम गंभीर सबसे आगे

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019ः अब तक के रुझानों में दिल्ली की सभी सात सीटों पर भाजपा उम्मीदवार आगे चल रहे हैं.

वैभव गहलोत. (फोटो साभार: फेसबुक)

राजस्थान: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे भाजपा के गजेंद्र सिंह शेखावत से दो लाख वोटों से पीछे

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: राजस्थान के जोधपुर में 2014 के लोकसभा चुनाव में गजेंद्र सिंह शेखावत ने 4.10 लाख वोट से जीत हासिल की थी. हालांकि, चार माह पहले हुए विधानसभा चुनाव में जोधपुर संसदीय क्षेत्र की 8 विधानसभा सीट में से कांग्रेस ने 6 पर जीत हासिल की, जबकि भाजपा के खाते में महज दो सीट ही आ पाई थी.

Kolkata: West Bengal chief minister and Trinamool Congress chief Mamata Banerjee addresses the party's extended Core Committee meeting in Kolkata, Monday, Feb 25, 2019. (PTI Photo/Swapan Mahapatra) (PTI2_25_2019_000127B)

पश्चिम बंगाल: तृणमूल कांग्रेस 19, भाजपा 14 लोकसभा सीटों पर आगे

पश्चिम बंगाल में कांग्रेस सिर्फ दो सीटों पर आगे चल रही है. आसनसोल से भाजपा उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो तृणमूल कांग्रेस की मुनमुन सेन से 31,670 मतों से आगे चल रहे हैं.

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi during a 'thanksgiving' meeting with the Union council of ministers at BJP headquarters, in New Delhi, Tuesday, May 21, 2019, two days ahead of Lok Sabha polls results. (PTI Photo/Manvender Vashist) (PTI5_21_2019_000121B)

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: वाराणसी में नरेंद्र मोदी आगे

निर्वाचन कार्यालय से मिले शुरुआती आंकड़ों के अनुसार, उत्तर प्रदेश की वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 30,589 वोट, सपा प्रत्याशी शालिनी यादव को 15,895 वोट और कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय को 8,779 वोट मिले हैं.

मध्य प्रदेश में मतगणना केंद्र पर एक साथ बैठे दिग्विजय सिंह और प्रज्ञा ठाकुर. (फोटो साभार: एएनआई)

मध्य प्रदेश: भोपाल सीट से प्रज्ञा ठाकुर 3,23,000 वोटों से आगे

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: प्रज्ञा ठाकुर के निर्णायक बढ़त लेने के बाद दिग्विजय सिंह ने अपनी हार स्वीकार कर ली. उन्होंने कहा कि मैं जनादेश को स्वीकार करता हूं.

Amritsar: A kitemaker displays customised kites made ahead of the Lok Sabha elections results 2019, in Amritsar, Wednesday, May 22, 2019. (PTI Photo) (PTI5_22_2019_000072B)

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: रुझानों में एनडीए को बहुमत के आसार, 100 सीटों के पार जाएगी यूपीए

प्रमुख उम्मीदवारों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी से आगे चल रहे हैं जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केरल के वायनाड सीट से आगे चल रहे हैं. हालांकि राहुल गांधी अपनी पारंपरिक सीट अमेठी से पीछे चल रहे हैं जहां उनका मुकाबला केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से है.

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील कुमार अरोड़ा (बीच में) चुनाव आयुक्त अशोक लवासा (बाएं) और चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा. (फोटो: पीटीआई)

लोकसभा चुनाव में सबसे बड़ा नुकसान चुनाव आयोग की साख को हुआ है

इस लोकसभा चुनाव में चुनाव आयोग में मतदाताओं का भरोसा कम हुआ है. ऐसा होना किसी लोकतंत्र के लिए अच्छी बात नहीं है.

(प्रती​कात्मक फोटो: रॉयटर्स)

कांग्रेस की मौत की कामना करना कितना उचित है?

पिछले पांच साल से देश को कांग्रेसमुक्त करने का आह्वान भाजपा नेताओं के द्वारा किया जाता रहा है, लेकिन न सिर्फ यह कि वह अप्रासंगिक नहीं हुई, बल्कि इस चुनाव में भी भाजपा के लिए वही संदर्भ बिंदु बनी रही. जनतंत्र की सबसे अधिक दुहाई देनेवाले समाजवादियों को जनसंघ या भाजपा के साथ कभी वैचारिक या नैतिक संकट हुआ हो, इसका प्रमाण नहीं मिलता.

फोटो: पीटीआई

क्या एक्ज़िट पोल पर भरोसा किया जा सकता है?

एक एक्ज़िट पोल में पश्चिम बंगाल में भाजपा को 4 से लेकर 22 सीटों तक का आकलन दिया, जिसमें 5 गुने का फर्क है. तमिलनाडु में एनडीए को 2 से 15 सीटें दी गईं, जिसमें सात गुने का फर्क है. एक चैनल ने पंजाब में भाजपा को उतनी सीटें दीं, जितनी वह लड़ ही नहीं रही. उत्तराखंड में उस आम आदमी पार्टी को भी कुछ प्रतिशत वोट दिला दिए जो वहां चुनाव मैदान में ही नहीं है.

सीपीआई नेता फागो तांती

क्या राजनीतिक कारणों से हुई सीपीआई नेता फागो तांती की हत्या?

सीपीआई नेता फागो तांती ने बेगूसराय से सीपीआई प्रत्याशी कन्हैया कुमार का प्रचार भी किया था. सीपीआई नेता और पूर्व विधायक अवधेश राय ने हत्या के पीछे भाजपा का हाथ होने की आशंका ज़ाहिर की है, हालांकि भाजपा ने आरोपों को बेबुनियाद बताया है.