अलवर पुलिस

Rajasthan-police-pti

राजस्थान: मुस्लिम पुलिसकर्मियों के दाढ़ी न रखने का फ़ैसला वापस लिया गया

मामला अलवर जिले का है, जहां गुरुवार को एसपी ने जिले में तैनात नौ पुलिसकर्मियों के दाढ़ी रखने पर रोक लगाने का आदेश जारी किया था. ये सभी नौ पुलिसकर्मी मुस्लिम समुदाय से थे.

Alwar

राजस्थान: अलवर गैंगरेप मामले में एसएचओ के ख़िलाफ़ केस दर्ज होगा, पूरे थाने को हटाने के निर्देश

अलवर ज़िले के थानागाजी थाना क्षेत्र में 26 अप्रैल को अपने पति के साथ जा रही एक दलित महिला से पांच लोगों ने सामूहिक बलात्कार कर उसका वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया था. राज्य में 29 अप्रैल को मतदान होना था और आरोप है कि चुनाव के चलते स्थानीय पुलिस मामले को टालती रही और दो मई को मामला दर्ज हुआ था.

Alwar

अलवर की गैंगरेप पीड़िता को राजस्थान सरकार ने पुलिस कॉन्स्टेबल की नौकरी दी

आरोप है कि राजस्थान के अलवर में बीते 26 अप्रैल को पति के साथ रही एक दलित महिला के साथ पांच लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया था. इसके अलावा घटना का वीडियो बनाकर उसे सोशल मीडिया पर डाल दिया था.

Alwar

अलवर सामूहिक बलात्कारः पुलिस ने छह लोगों के ख़िलाफ़ चार्जशीट दाख़िल की

राजस्थान के अलवर में 26 अप्रैल को अपने पति के साथ मोटरसाइकिल पर जा रही दलित महिला के साथ कथित तौर पर पांच लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया था. इस घटना का वीडियो बनाकर उसे सोशल मीडिया पर अपलोड भी कर दिया गया था.

Alwar

राजस्थान: पति के सामने दलित महिला के साथ गैंगरेप, पुलिस पर चुनाव के चलते मामले को दबाने का आरोप

राजस्थान के अलवर ज़िले का मामला. पुलिस ने घटना के 12 दिन बाद तीन आरोपियों को गिरफ़्तार किया. अलवर पुलिस अ​धीक्षक हटाए गए. लापरवाही बरतने के आरोप में थाना प्रभारी, एएसआई और तीन सिपाही निलंबित.

किशनगढ़बास के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पुलिस के साथ मोहम्मद सगीर. (फोटो: द वायर/विजय सिंह)

राजस्थान के अलवर में फिर मॉब लिंचिंग, कथित गोरक्षकों ने पीट-पीटकर किया अधमरा

अलवर ज़िले के किशनगढ़बास थाना क्षेत्र के बघेरी खुर्द गांव में रविवार सुबह मोहम्मद सगीर को कथित गोरक्षकों ने बेरहमी से पीटा. गंभीर रूप से घायल सगीर ज़िला अस्पताल के आईसीयू में ज़िंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहे हैं.

Alwar

अलवर में गायों की 220 खाल बरामद: पुलिस

अलवर ज़िले के गोविंदगढ़ थानाक्षेत्र में बीती 30 जुलाई को पुलिस ने तीन महिलाओं को 40 किग्रा कथित गोमांस के साथ गिरफ़्तार किया था. पुलिस ने इस संबंध में राजस्थान गोवंश पशु अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है.