इलाहाबाद हाई कोर्ट

काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर बनाने के लिए ढहाया गया एक मंदिर परिसर. (फोटो: सिद्धांत मोहन/द वायर)

काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर को चुनौती देने वाली जनहित याचिका ख़ारिज

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा कि काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर आम लोगों के लाभ के लिए है और विकास परियोजनाओं को इस तरह से रोका नहीं जा सकता है.

Netaji Subhash Chandra Bose 1 PTI

क्यों कुछ लोग मानते हैं कि अयोध्या में रहने वाले गुमनामी बाबा ही सुभाष चंद्र बोस थे

असाधारण जीवन की तरह असाधारण मृत्यु ने नेताजी के इर्द-गिर्द रहस्यों का जाल-सा बुन दिया है. दुखद यह है कि जांच आयोगों के भंवरजाल में नेताजी किसी जासूसी कथा के नायक बन गए हैं.