उपचुनाव

Sangli: Election officials walk through a damp field field as they leave for their respective polling stations from a distribution centre, on the eve of Maharashtra Assembly elections, in Sangli, Sunday, Oct. 20, 2019. (PTI Photo) (PTI10_20_2019_000165B)

महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजे आज

महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों और 18 राज्यों की 51 विधानसभा और दो लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के लिए 21 अक्टूबर को हुए मतदान के वोटों की गिनती सुबह 8 बजे शुरू होगी.

Election-ANI

महाराष्ट्र में सुबह 10 बजे तक 8.92 फीसदी और हरियाणा में 5.77 फीसदी मतदान

महाराष्ट्र में विधानसभा की 288 जबकि हरियाणा में 90 सीटों पर मतदान हो रहा है. दोनों राज्यों में सोमवार सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ जो शाम छह बजे तक जारी रहेगा. इसके साथ ही कई राज्यों की 64 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए भी मतदान हो रहा है.

वीवीपैट की प्रतीकात्मक तस्वीर. (फोटो: पीटीआई)

उपचुनाव परिणाम: भाजपा ने दो सीटों पर जीत दर्ज की, दंतेवाड़ा में कांग्रेस जीती

विधानसभा उपचुनावों में उत्तर प्रदेश के हमीरपुर से भाजपा के युवराज सिंह, त्रिपुरा के बधरघाट से भाजपा के मिमी मजूमदार, केरल के पाला से वामपंथी गठबंधन एलडीएफ के मणि सी. कप्पेन और छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा से कांग्रेस की देवती कर्मा ने जीत दर्ज की.

Ahmedabad: Former prime minister Manmohan Singh with Congress leader Ashok Gehlot during an interactive session with traders and businessmen, in Ahmedabad on Tuesday. PTI Photo by Santosh Hirlekar (PTI11 7 2017 000094A)

राजस्थान: राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए मनमोहन सिंह

असम से पांच बार राज्यसभा सदस्य रह चुके पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह का कार्यकाल 14 जून को ही समाप्त हुआ था. भाजपा के राज्यसभा सदस्य मदनलाल सैनी के निधन के बाद यह सीट खाली हुई थी.

(फोटो: पीटीआई)

2014 के बाद हुए 27 लोकसभा उपचुनाव में एनडीए एक भी नई सीट जीत नहीं पाया

15 राज्यों में लोकसभा की 27 सीटों पर उपचुनाव हुए हैं. इन 27 में से 16 सीटों पर राजग का क़ब्ज़ा था लेकिन उपचुनावों के बाद इसमें से 9 सीटों पर भाजपा और उनके सहयोगी दलों को हार मिली है, जबकि सात सीट बचाए रखने में वो कामयाब रहे हैं.

EP 252_Raw

जन गण मन की बात, एपिसोड 252: उपचुनाव परिणाम और हवा होती मोदी लहर

जन गण मन की बात की 252वीं कड़ी में विनोद दुआ उपचुनाव परिणाम और भाजपा की चुनावी बयानबाज़ी में आए बदलाव पर चर्चा कर रहे हैं.

Lucknow: Samajwadi Party (SP) workers celebrate their party success in Uttar Pradesh by-elections, outside their party office in Lucknow on Thursday, May 31, 2018. (PTI Photo/Nand kumar)(PTI5_31_2018_000089B)

उपचुनाव परिणाम: गोरखपुर-फूलपुर के बाद भाजपा ने कैराना में गठबंधन के आगे ​टेके घुटने

चार लोकसभा और 11 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे भाजपा के लिए सुखद नहीं रहे. विपक्ष ने 11 सीटें जीती, भाजपा और उसके सहयोगी तीन सीटों तक ही सीमित.

The Prime Minister, Shri Narendra Modi during the inauguration of Delhi-Meerut Expressway, in Delhi on May 27, 2018.

उपचुनाव परिणाम: लगता है जिन्ना के भूत पर गन्ना ​किसानों की पीड़ा भारी पड़ गई

वीडियो: विभिन्न राज्यों की चार लोकसभा और 11 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजों का विश्लेषण कर रहे हैं द वायर के संस्थापक संपादक एमके वेणु, अजय आशीर्वाद और कबीर अग्रवाल.

फोटो: पीटीआई

उपचुनाव परिणाम: कैराना में रालोद आगे, कर्नाटक की राज राजेश्वरी सीट पर कांग्रेस जीती

महाराष्ट्र की पालघर लोकसभा सीट भाजपा ने जीत ली है. केरल में माकपा, उत्तराखंड में भाजपा, बिहार में आरजेडी जीती. चार लोकसभा और विभिन्न राज्यों की 11 विधानसभा सीटों पर हाल ही में उपचुनाव संपन्न हुए थे.

Mokhdad: People collect water from a well supplied by the government tankers at a tribal village in Mokhdad district of Maharashtra on Thursday. The region is facing acute shotrtage of water and government tankers supply water to the villagers only one time a day. PTI Photo by Shashank Parade (PTI4_19_2018_000104B)

भंडारा-गोंदिया उपचुनाव: जल संकट के चलते 12 गांव करेंगे लोकसभा उपचुनाव का बहिष्कार

12 गांवों की कुल जनसंख्या करीब 30 हज़ार है. ये गांव सिंचाई और पीने के पानी की समुचित आपूर्ति न होने की समस्या का सामना कर रहे हैं. भंडारा-गोंदिया लोकसभा सीट पर 28 मई को उपचुनाव होने वाला है.

People look out from a window as they watch a protest against the recent killings in Kashmir, on the outskirts of Srinagar

कश्मीर घाटी में ऐसा क्या हुआ कि 2014 के बाद हालात तेज़ी से ख़राब होने लगे?

कश्मीर के मामले में मोदी सरकार ने न तो पहले की सरकारों की विफलताओं से कोई सबक लिया और न ही कामयाबियों से.

Farook-Ahmad-Dar-1024x625

किसी भी तरह के उकसावे पर सैन्य बलों को ग़ैर-क़ानूनी तरीकों का सहारा नहीं लेना चाहिए

सरकार के हिंसा पर एकाधिकार को तब ही स्वीकार किया जा सकता है जब वह क़ानून के दायरे में हो; अगर ऐसा नहीं है तब कोई उसके इस एकाधिकार को तोड़ता है तो उसे ग़लत नहीं ठहराया जा सकता.