ओम थानवी

Ageya

संस्कृति के नाम पर लोगों को आसानी से भड़काया और बरगलाया जा सकता है: अज्ञेय

मुस्लिम मजलिस की तरह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मूल में भी वही दूषित, संकीर्ण और कठमुल्लई मनोवृत्ति है, और वह एक लौकिक भारतीय समाज और खरी राष्ट्रीयता के विकास में बाधक होगी.