कांग्रेस अध्यक्ष

Rahul Gandhi FB

शिक्षक को कांट्रैक्ट पर रखने वाली व्यवस्था नहीं होनी चाहिए: राहुल गांधी

देश के अलग-अलग हिस्सों के शिक्षाविदों से शनिवार को नई दिल्ली में संवाद के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, भारत को किसी एक विचार से नहीं चलाया जा सकता.

Mayawati Reuters

राहुल को ‘विदेशी खून’ बताने वाले बसपा उपाध्यक्ष को मायावती ने पार्टी से हटाया

मायावती ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जय प्रकाश सिंह को बसपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद से हटाने का ऐलान किया. उन्होंने कहा, ‘सिंह द्वारा कही गई बातें उनकी व्यक्तिगत सोच की उपज है, बसपा की नहीं.’

New Delhi: AICC Vice President Rahul Gandhi interacts with street vendors at his residence in New Delhi on Saturday. PTI Photo by Atul Yadav(PTI3_15_2014_000126B)

मोदी सरकार के भारी-भरकम दावे हवा में उड़ गए, डींग हांकने से सच्चाई छुप नहीं सकती: कांग्रेस

राहुल गांधी ने कहा, रोज़गार सृजन 8 साल, बैंक ऋण कारोबार 63 साल और नया निवेश 13 साल के निचले स्तर पर.

rahul-gandhi pti

क्या राहुल की ‘भद्रता’ उनकी कमज़ोरी को छिपाने का बहाना है?

राहुल गांधी व कांग्रेस पार्टी ने मणिशंकर अय्यर से दूरी बनाने की जितनी जल्दबाज़ी दिखाई उससे गुजरात और देश ने यह सबक नहीं लिया कि राहुल एक भद्र व्यक्ति हैं बल्कि यह संदेश गया कि राहुल में लड़ने का माद्दा नहीं है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ​​(फाइल फोटो)

कांग्रेस देश को 21वीं सदी में लेकर आई, मोदी जी आज इसे मध्यकाल में ले जा रहे हैं: राहुल गांधी

राहुल ने थामी पार्टी की कमान. कहा भले ही हम सहमत न हो लेकिन भाजपा को अपना भाई-बहन मानते हैं. वे बदनाम करते हैं, हम सम्मान देते हैं.

congres facebook

गैर-कांग्रेसवाद के घाट पर ही होगा कांग्रेस उद्धार

कांग्रेस अब तक अगर विजयी होती रही है तो उसका कारण यही था कि वह अपने विरोधियों की मांगों और उनके गुणों को आत्मसात कर लेती थी. जब तक वह ऐसा करती रही तब तक चलती रही और जब छोड़ दिया तो अवसान की ओर बढ़ने लगी.

भारतीय संसद (रॉयटर्स)

महिला आरक्षण के मामले में केंद्र के लिए कोई विकल्प नहीं छोड़ेंगे: राहुल

संसद का शीतकालीन सत्र के शुरू होने से पहले बृहस्पतिवार को महिला संगठनों ने महिला आरक्षण विधेयक को पारित कराने की मांग को लेकर रैली निकाली.

rahul (1)

‘राहुल के सवालों का ही नतीजा है कि मोदी केवल हिंदू-मुस्लिम एवं पाकिस्तान की बात कर रहे हैं’

विपक्षी नेताओं को उम्मीद, गुजरात चुनाव के नतीजे अनुकूल हुए तो विपक्षी एकता में नई जान फूंक सकेंगे राहुल गांधी.

Thumbnail 160 Plain

जन गण मन की बात, एपिसोड 160: राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने में तमाशा क्यों?

जन गण मन की बात की 160वीं कड़ी में विनोद दुआ राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने की प्रक्रिया पर चर्चा कर रहे हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल करने के दौरान उन्हें शुभकामनाएं देते पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी. (फोटो: ट्विटर/रणदीप सुरजेवाला)

कांग्रेस को प्रासंगिक बनाए रखना राहुल के लिए सबसे बड़ी चुनौती है

‘राहुल गांधी के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती अपने को एक विश्वसनीय नेता के रूप में साबित करने की है जिसमें वह पिछले 15 सालों से विफल रहे हैं.’

Episode 10 Plain

हम भी भारत, एपिसोड 10: राहुल गांधी की ताजपोशी

हम भी भारत की 10वीं कड़ी में आरफ़ा ख़ानम शेरवानी, राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर राजनीतिक विश्लेषक नीरजा चौधरी और वरिष्ठ पत्रकार जयशंकर गुप्त से चर्चा कर रही हैं.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी. (फोटो: पीटीआई)

क्या राहुल गांधी में बदलाव आया है, या हम उन्हें अलग नज़रिये से देख रहे हैं?

राहुल नए रास्तों पर बढ़ रहे हैं और उनके भाषणों को अतीत के मुक़ाबले ज़्यादा कवरेज दिया जा रहा है. वे अब एक हंसमुख, तनावमुक्त और पैने व्यक्ति के तौर पर नज़र आते हैं.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी. (फोटो: पीटीआई)

क्या ​‘राहुल युग​​​​’ में कांग्रेस की डूबती नैया पार लग सकेगी?

दिसंबर तक राहुल गांधी का कांग्रेस अध्यक्ष बनना लगभग तय है. क़रीब दो दशक बाद कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व में उस समय बदलाव हो रहा है जब वह अपने सबसे बुरे दौर से गुज़र रही है.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी. (फाइल फोटो: रॉयटर्स)

मोदी सरकार ने अपने अहंकार में लोकतंत्र पर काली छाया डाल दी है: सोनिया गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, मोदी सरकार संसद सत्र में पैदा कर रही व्यवधान, आधुनिक भारत का इतिहास बदलने के प्रयास का आरोप लगाया.

Congress Working Committee Meeting Photo INC Facebook

करीब दो दशक बाद कांग्रेस में सत्ता परिवर्तन की तैयारी, राहुल के हाथ होगी कमान!

नए कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव के लिए कार्यक्रम घोषित, राहुल गांधी का निर्विरोध चुना जाना लगभग तय माना जा रहा है.

Kamarajar The King Maker - Very Rare Photo Collection Part III (13)

‘वो नेता जो मानता था जिसे हिंदी और अंग्रेज़ी न आती हो, उसे इस देश का पीएम नहीं बनना चाहिए’

जन्मदिन विशेष: स्वतंत्रता सेनानी, गांधीवादी, तीन बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और कांग्रेस अध्यक्ष रहे के. कामराज को स्वतंत्र भारत की राजनीति का पहला ‘किंगमेकर’ माना जाता है.