कोविड-19

(फोटो: पीटीआई)

कोरोना वायरस: एक दिन में 14,545 नए मामले सामने आए और 163 लोगों की जान गई

देश में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या लगातार तीन दिन से दो लाख से कम बनी हुई है. संक्रमण के कुल मामले 1,06 करोड़ से अधिक हैं और मौतों की संख्या 1,53 लाख हो चुकी है. दुनियाभर में संक्रमण के मामलों की संख्या 9.74 करोड़ से ज़्यादा हो चुकी है और 20.89 लाख से अधिक जानें जा चुकी हैं.

New Delhi: A vendor looks for customers at Rajpath lawns during Unlock 4.0, in New Delhi, Wednesday, Sep 2, 2020. (PTI Photo/Vijay Verma)(PTI02-09-2020 000126B) *** Local Caption

बैंकों ने प्रशासन को लिखा, लॉकडाउन के चलते रेहड़ी विक्रेताओं को दिए लोन एनपीए में बदल रहे हैं

कोविड-19 लॉकडाउन के कारण प्रभावित हुए रेहड़ी-पटरी वाले विक्रेताओं को उनकी आजीविका फिर शुरू करने के लिए सस्ते कार्यशील पूंजी ऋण प्रदान करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री स्‍वनिधि की शुरुआत की गई थी. अब कुछ बैंकों ने स्थानीय प्रशासन को पत्र लिखकर लोन वसूलने में मदद करने को कहा है.

(फोटो: रॉयटर्स)

खाद्य पदार्थों की क़ीमत में बढ़ोतरी और महामारी से एशिया में कई लोग भुखमरी के शिकार: संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र की चार एजेंसियों द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि महामारी से करीब विश्व में 1.9 अरब लोगों के लिए पौष्टिक भोजन जुटा पाना मुश्किल हो रहा है. नवीनतम अनुमानों के मुताबिक, दुनिया में 68.8 करोड़ लोग कुपोषण के शिकार हैं और इनमें से आधे से ज़्यादा एशिया में हैं.

New Delhi: Medics during the launch of a first-of-its-kind Spicehealth Genome Sequencing Laboratory for all positive samples from international travellers, at the airport in New Delhi, Thursday, Jan. 14, 2021. (PTI Photo/Kamal Kishore) (PTI01 14 2021 000065B)

कोरोना वायरसः 24 घंटे के दौरान 15,223 नए मामले आए और 151 लोगों की मौत हुई

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 10,610,883 हो गई है और अब तक 152,869 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. विश्व में संक्रमण के 9.68 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आए हैं और 20.74 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

महामारी से न सिर्फ़ लाखों जानें गईं, बल्कि असमानता और सामाजिक विघटन भी बढ़ रहा: विश्व आर्थिक मंच

विश्व आर्थिक मंच ने अपनी एक रिपोर्ट में अगले दशक पर असर के संदर्भ में संक्रामक बीमारियों को सबसे बड़ा जोख़िम बताया. रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया को 2020 में महामारी के कारण हो सकने वाली तबाही को देख लेने के बाद दीर्घकालिक ख़तरों के लिए तैयार होने की ज़रूरत है.

Surat: An official checks a box of COVID-19 vaccination at Civil Hospital in Surat, Wednesday, Jan. 13, 2021. (PTI Photo)(PTI01 13 2021 000139B)

कोविड-19: सर्वाधिक प्रभावित अमेरिका में मृतक संख्या चार लाख के पार, विश्व में 20 लाख से अधिक की मौत

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के बीते 24 घंटे में 13,823 नए मामले सामने आए हैं और मरीजों के ठीक होने की दर 96.70 प्रतिशत हो गई है. देश में मृतक संख्या 1.52 लाख से अधिक हो चुकी है. वहीं, दुनियाभर में संक्रमण के मामले 9.61 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं और 20.57 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

क्या कोवैक्सीन को मिली मंज़ूरी पहले टीका लेने वालों के लिए इधर कुआं-उधर खाई वाली स्थिति है

कोवैक्सीन को लेकर जानकारियों/आंकड़ों पर गोपनीयता का पर्दा पड़ा हुआ है और हम एक ऐसी मुश्किल स्थिति में हैं, जिसमें कम से कम कुछ लोगों के पास वैक्सीन लेने के अलावा शायद और कोई विकल्प नहीं है, भले ही उनके मन में अपनी सलामती को लेकर कितना ही संदेह क्यों न हो.

(फोटो साभार:​ ट्विटर/भारत बायोटेक)

एलर्जी, बुखार, गंभीर बीमारी वाले, गर्भवती महिलाएं कोवैक्सीन लगवाने से बचेंः भारत बायोटेक

कोराना वायरस के ख़िलाफ़ 16 जनवरी को टीकाकरण अभियान की शुरुआत के बाद भारत बायोटेक ने इस संबंध में एक फैक्ट शीट जारी की है, जिसमें बताया गया है कि किन्हें ये वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए. कंपनी के इस क़दम पर कांग्रेस ने सवाल उठाया है.

(फोटो: पीटीआई)

कोविड-19: देश में सात महीने बाद एक दिन में संक्रमण के न्यूनतम नए मामले सामने आए

देश में बीते 24 घंटे में कोविड-19 से एक दिन में 137 लोगों ने जान गंवाई है, जो बीते क़रीब आठ महीने में सबसे कम है. दुनियाभर में संक्रमण के 9.55 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 20.40 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.

Nested Sequence 05.00_04_53_06.Still003

कोरोना वैक्सीन से जुड़े अहम सवाल, जिन्हें पूछा जाना चाहिए

वीडियो: बीते दिनों भारत के औषध महानियंत्रक यानी डीसीजीआई ने सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीके कोविशील्ड और भारत बायोटेक द्वारा विकसित टीके कोवैक्सीन को देश में सीमित आपात इस्तेमाल की मंज़ूरी दी है. हालांकि इनको लेकर उठे सवाल अब भी अनुत्तरित हैं.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

कोविड-19: टीकाकरण जारी, अब तक प्रतिकूल प्रभाव के 447 मामले सामने आए

देश में आठ महीने बाद 24 घंटे में सबसे कम 145 लोगों की मौत के मामले सामने आए, वहीं एक दिन में संक्रमण के 13,788 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 1.5 करोड़ से अधिक हो चुकी है.

(फोटो: रॉयटर्स)

नॉर्वे: फाइजर का कोविड-19 टीका लगवाने के बाद 23 लोगों की मौत

नॉर्वे में फाइजर के कोविड-19 वैक्सीन का पहला टीका लेने के कुछ ही दिनों के अंदर 23 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से 13 की मौत की वजह टीके के साइड इफेक्ट हैं. ये तेरह लोग एक नर्सिंग होम के मरीज़ थे और उनकी उम्र 80 साल के क़रीब थी.

(फोटो: रॉयटर्स)

कोरोना: बीते चौबीस घंटे में सामने आए संक्रमण के 15,144 नए मामले, 181 की मौत

देश में इस समय कोरोना वायरस से संक्रमित 2,08,826 लोगों का उपचार चल रहा है, जो संक्रमितों की कुल संख्या का 1.98 प्रतिशत है. पूरी दुनिया में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 9,45 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं और अब तक 20,22,279 लोगों की जान जा चुकी है.

(फोटो साभार: ट्विटर/स्वास्थ्य मंत्रालय)

कोरोना: देश में टीकाकरण की शुरुआत, बीते चौबीस घंटे में आए संक्रमण के 15,158 नए मामले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत के बाद पहले दिन तीन लाख से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों को टीके की खुराक देने का लक्ष्य है. भारत में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले डेढ़ करोड़ से अधिक हो चुके हैं और संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या डेढ़ लाख से ज़्यादा है.

New Delhi: Medics during the launch of a first-of-its-kind Spicehealth Genome Sequencing Laboratory for all positive samples from international travellers, at the airport in New Delhi, Thursday, Jan. 14, 2021. (PTI Photo/Kamal Kishore) (PTI01 14 2021 000063B)

कोरोना वायरस: 24 घंटे के दौरान 15,590 नए मामले और 191 लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 10,527,683 हो गए हैं और मरने वालों की संख्या बढ़कर 151,918 हो गई है. विश्व में संक्रमण के 9.3 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आए हैं और 19.95 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.