गोलवलकर

AppleMark

अगर तिरंगा फहराना ही देशभक्ति है तो संघ पंद्रह साल पहले ही देशभक्त हुआ है

आज़ादी के 70 साल: क्या 2002 के पहले तिरंगा भारतीय राष्ट्र का राष्ट्रध्वज नहीं था या फिर आरएसएस खुद अपनी आज की कसौटी पर कहें तो देशभक्त नहीं था?

फोटो: रॉयटर्स

क्या संघ ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ के ख़िलाफ़ था?

भारत छोड़ो आंदोलन के बाद ब्रिटिश सरकार ने खुशी व्यक्त करते हुए लिखा कि संघ ने पूरी ईमानदारी से ख़ुद को क़ानून के दायरे में रखा, ख़ासतौर पर अगस्त, 1942 में भड़की अशांति में वो शामिल नहीं हुआ.

Prime_Minister_Narendra_Modi_pays_tributes_to_Deendayal_Upadhyaya

दीनदयाल उपाध्याय को महात्मा गांधी के बराबर खड़ा करने की कोशिश कितनी सही है?

क्या यह हास्यास्पद नहीं होगा कि हिंदू-मुस्लिम एकता के लिए शहादत देने वाले गांधी को उन लोगों के समकक्ष खड़ा कर दिया जाए जो मुसलमानों को ही ‘समस्या’ मानते थे.