जदयू भाजपा गठबंधन

New Delhi: A view of Supreme Court of India in New Delhi, Thursday, Nov. 1, 2018. (PTI Photo/Ravi Choudhary) (PTI11_1_2018_000197B)

सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार को लगाई फटकार, कहा- मनमर्जी से अदालत नहीं आ सकते सरकारी विभाग

याचिका दाखिल करने में अप्रत्याशित देरी पर सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार पर जुर्माना लगाया, साथ ही सरकार को फटकार लगाते हुए कहा कि देरी के लिए सरकारी कामकाज में सुस्ती को बहाना नहीं बनाया जा सकता है.

bulletin (1)-min

द वायर बुलेटिन: उत्तर प्रदेश में सोशल मीडिया पर मोदी सरकार पर टिप्पणी करने के चलते सात सरकारी शिक्षक निलंबित

आडवाणी के बाद मुरली मनोहर जोशी के भी टिकट कटने समेत आज की बड़ी ख़बरें. दिनभर की महत्वपूर्ण ख़बरों का अपडेट.

गिरिराज सिंह (फोटो: पीआईबी)

बिहार: नवादा से टिकट कटने पर गिरिराज सिंह ने कहा- मेरे आत्मसम्मान को ठेस पहुंची

गिरिराज सिंह ने कहा कि मेरे आत्मसम्मान को ठेस पहुंची है क्योंकि बिहार में किसी भी सांसद की सीट नहीं बदली गई है. भाजपा की राज्य इकाई को मुझे बताना चाहिए कि आखिर ऐसा क्यों किया गया.

बिहार भाजपा प्रभारी भूपेंद्र यादव (फोटो साभार: एएनआई)

बिहार: पटना साहिब से शत्रुघ्न सिन्हा की जगह रविशंकर प्रसाद और बेगुसराय से गिरिराज सिंह को टिकट

बिहार में भाजपा 17, जदयू 17 और लोजपा 6 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. साल 2014 में भागलपुर से लोकसभा चुनाव हारने वाले शाहनवाज हुसैन का टिकट काट दिया गया.

Patna: Bihar Chief Minister Nitish Kumar and Bharatiya Janata Party (BJP) President Amit Shah exchange greetings before a breakfast meeting at the state guest house, in Patna on Thursday, July 12, 2018. (PTI Photo) (PTI7_12_2018_000060B)

लोकसभा चुनाव में बिहार में जदयू और भाजपा बराबर सीटों पर चुनाव लड़ेंगे: अमित शाह

केंद्रीय मंत्री और राजग के सहयोगी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने तेजस्वी यादव से ​की मुलाकात. भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा भी हमारे साथी हैं और सभी एक साथ हैं. सीट बंटवारे पर तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार की जनता इन्हें सबक सिखाएगी.

नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार. (फोटो: पीटीआई)

बिहार में क्या भाजपा-जदयू गठबंधन के दिन पूरे हो चुके हैं?

बिहार में इन दिनों घट रहीं सियासी घटनाएं बता रही हैं कि भाजपा और जदयू के बीच 2013 के पहले जैसा तालमेल था, वैसा अब नहीं रहा और इस बार भाजपा-जदयू गठबंधन की उम्र भी बहुत लंबी नहीं रहने वाली है.