जयपुर

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

कोरोना वायरस लॉकडाउन: इस साल राजस्थान में पर्यटकों की संख्या में 69 फ़ीसदी की गिरावट

राजस्थान पर्यटन विभाग की ओर से साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, इस साल प्रदेश में विदेशी पर्यटकों की संख्या में 2019 की तुलना में 59.54 फीसदी की गिरावट आई है. लॉकडाउन के कारण राजस्थान के होटल कारोबारियों, लोक कलाकारों, वाहन चालकों और टूरिस्ट गाइड आदि के सामने आजीविका का संकट खड़ा हो गया है.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

लॉकडाउन: घर भेजे जाने की मांग को लेकर मज़दूरों ने जयपुर में किया प्रदर्शन

जयपुर के शास्त्रीनगर इलाके के नहरी का नाका इलाके में हुआ प्रदर्शन. प्रवासी मज़दूरों ने दावा किया कि पुलिस ने प्रदर्शन के दौरान उन्हें पीटा, लेकिन पुलिस ने इस बात से इनकार किया है.

प्रतीकात्मक फोटो, साभार: Domi/ Flickr (CC BY-NC 2.0)

राजस्थान: लॉकडाउन के दौरान स्कूल में ठहराई गई महिला से गैंगरेप, तीन गिरफ़्तार

मामला राजस्थान के सवाई माधोपुर का है. लापरवाही बरतने के मामले में एक हेड कॉन्स्टेबल को सस्पेंड कर दिया गया है. जिला कलेक्टर ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं.

जैसलमेर में पाक विस्थापित ताराचंद और उनका परिवार.

‘मोदी सरकार हमारी नागरिकता के लिए क़ानून तो ले आई, लेकिन मुश्किल वक़्त में भूल गई’

कोरोना वायरस के मद्देनज़र हुए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान राजस्थान में रह रहे पाकिस्तानी हिंदू शरणार्थियों की सुध लेने वाला कोई नहीं है. राज्य सरकार ने सहायता मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं, लेकिन अब भी सभी विस्थापितों तक मदद नहीं पहुंची है.

फतेहगढ़ में घुमंतु समूह. (फोटो: माधव शर्मा/द वायर)

राजस्थान: दर-बदर रहने वाले घूमंतु समुदाय भुगत रहे हैं लॉकडाउन का खामियाज़ा

कोरोना के चलते हुए देशव्यापी लॉकडाउन के कारण राजस्थान के विभिन्न हिस्सों में घुमंतू समुदाय के कई समूह फंसे हुए हैं, न काम है न खाने पीने की कोई व्यवस्था. कुछ आम नागरिकों से मिली मदद के सहारे रह रहे इस समुदाय का कहना है कि सरकार द्वारा ग़रीबों के लिए हुई घोषणाओं में से उन्हें किसी का लाभ नहीं मिला है.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

राजस्थान: कोरोना के चलते कम आवश्यक सरकारी, अर्धसरकारी और स्वायत्त संस्थान 31 मार्च तक बंद

कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़ने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य में धारा 144 लगा दी थी. मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि जिन व्यक्तियों में इस बीमारी के लक्षण पाए गए हैं, अगर वे होम आइसोलेशन के निर्देशों को न मानें, तो उन परआईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाए.

जयपुर का हरमाड़ा इलाका.

राजस्थान: मारपीट में घायल हुए कश्मीरी युवक की मौत, एक गिरफ्तार

राजस्थान और कश्मीर की पुलिस ने बयान जारी कर कहा कि यह घृणा अपराध या लिंचिंग का मामला नहीं है. हालांकि, पिछले कुछ महीनों में राजस्थान में कश्मीरी छात्रों के खिलाफ हिंसा की यह तीसरी घटना है.

Jaipur-Map

राजस्थान: महिला रेज़िडेंट डॉक्टर ने की आत्महत्या, परिजन का आरोप- सीनियर करते थे परेशान

आरोप है कि जयपुर के सांगानेरी गेट महिला चिकित्सालय के हॉस्टल में एक रेजिडेंट डॉक्टर साक्षी गुप्ता ने अपने सीनियर्स की प्रताड़ना से तंग आकर आत्महत्या की है.

जयपुर स्थित हवा महल. (फोटो साभार: विकिपीडिया)

पिंक सिटी जयपुर को मिला यूनेस्को विश्व धरोहर का दर्जा

पिंक सिटी के नाम से मशहूर जयपुर अपनी जीवंत संस्कृति, इतिहास और वास्तुकला की आश्चर्यजनक विरासतों की वजह से अंतराष्ट्रीय स्तर पर पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय है.

Jaipur-Map

जयपुर में सात साल की बच्ची के साथ बलात्कार, कई जगहों पर विरोध-प्रदर्शन, 16 हिरासत में

सोशल मीडिया पर ये जानकारी फैलने के बाद इस घटना ने सांप्रदायिक रंग ले लिया, जिस अस्पताल में बच्ची का इलाज चल रहा था, वहां स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया. 13 थाना क्षेत्रों में इंटरनेट सेवा बंद.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट. (फोटो: पीटीआई)

गहलोत से राहुल की नाराज़गी के बाद राजस्थान सरकार में मतभेद, सचिन पायलट को सीएम बनाने की मांग

लोकसभा चुनाव में मिली क़रारी हार के बाद राजस्थान कांग्रेस में इसकी जवाबदेही और ज़िम्मेदारी तय किए जाने की मांग उठी. कृषि मंत्री के इस्तीफ़ा देने की चर्चा. पार्टी पदाधिकारियों और नेताओं की बयानबाज़ी से संकट और गहराया.

जयपुर शहर सीट से भाजपा उम्मीदवार रामचरण बोहरा और कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति खंडेलवाल. (फोटो साभार: फेसबुक)

जयपुर शहर सीटः भाजपा और कांग्रेस प्रत्याशियों पर भारी जातीय समीकरण

राजस्थान की जयपुर शहर सीट से भाजपा ने रामचरण बोहरा को टिकट दिया है, जबकि कांग्रेस ने ज्योति खंडेलवाल को अपना प्रत्याशी घोषित किया है.

राजस्थान के जयपुर मेटल एंड इलेक्ट्रिकल्स कंपनी के कर्मचारी 13 साल से ज़्यादा समय से प्रदर्शन कर रहे हैं. (फोटो: माधव शर्मा)

सबसे बड़े लोकतंत्र में धरना-प्रदर्शनों की आवाज़ क्यों नहीं सुनी जाती?

विशेष रिपोर्ट: राजस्थान के कई शहरों और कस्बों में कुछ प्रदर्शन ​आठ से दस वर्षों से चल रहे हैं. इस बीच भाजपा और कांग्रेस की सरकारें आईं और गईं, लेकिन किसी सरकार ने इन लोगों की शिकायतों को कभी गंभीरता से नहीं लिया.

जयपुर विकास प्राधिकरण की कार्रवाई से प्रभावित घुमंतू समुदाय के लोग. (फोटो: माधव शर्मा/द वायर)

राजस्थान: सरकार ने घुमंतुओं को ज़मीन तो दी नहीं, उल्टा उनकी बस्ती उजाड़ दी

जयपुर विकास प्राधिकरण ने बीते 16 फरवरी को जयपुर के रावण गेट के पास रह रहे घुमंतू समुदाय के 200 से ज़्यादा परिवारों की झोपड़ियां अतिक्रमण के नाम पर उजाड़ दीं. अब ये परिवार ठंड के दिनों में खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर हैं.

Hingoniya Gaushala

जयपुरः हिंगोनिया गोशाला में चारा ख़त्म, सैंकड़ों गायों की कथित तौर पर भूख से मौत

गायों की मौत के संबंध में दो लोगों को निलंबित किया गया. अक्षयपात्र फाउंडेशन करता है हिंगोनिया गोशाला का संचालन. भाजपा पार्षदों ने मांग की है कि गायों की मौत के लिए ज़िम्मेदार लोगों पर गोहत्या का मामला दर्ज किया जाए.