डीजल

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

डीज़ल, पेट्रोल पर रिकॉर्ड कर वृद्धि से चालू वित्त वर्ष में उत्पाद शुल्क संग्रह 48 फीसदी बढ़ा

केंद्र सरकार ने चालू वित्त वर्ष के दौरान पेट्रोल पर दो बार में उत्पाद शुल्क 13 रुपये प्रति लीटर और डीज़ल पर 16 रुपये प्रति लीटर बढ़ाया है. इससे पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क बढ़कर 32.98 रुपये प्रति लीटर और डीज़ल पर 31.83 रुपये प्रति लीटर हो गया.

(फोटो: रॉयटर्स)

बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में पेट्रोल और मुंबई में डीज़ल के दाम रिकॉर्ड स्तर पर

पेट्रोलियम कंपनियों ने लगातार दो दिन कीमतों में बढ़ोतरी की है, पेट्रोल के दाम 49 पैसे प्रति लीटर और डीज़ल के 51 पैसे प्रति लीटर बढ़े हैं. दिल्ली में पेट्रोल के दाम 84.45 रुपये प्रति लीटर के नए उच्च स्तर पर पहुंच गए हैं और और डीज़ल 74.63 रुपये प्रति लीटर हो गया है. मुंबई में पेट्रोल के दाम 91.07 रुपये और डीज़ल के 81.34 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गए हैं.

प्रतीकात्मक तस्वीर: पीटीआई

मध्य प्रदेश: ट्रांसपोर्टरों की तीन दिवसीय हड़ताल, 2,000 करोड़ रुपये का कारोबार न होने का दावा

हड़ताल में शामिल संगठन ट्रांसपोर्ट कारोबार पर कोविड-19 की मार का हवाला देते हुए मांग कर रहे हैं कि डीज़ल पर वैट घटाया जाए और इस वित्त वर्ष की दो तिमाहियों रोड टैक्स और जीएसटी में छूट दी जाए. साथ ही राज्य सरकार द्वारा ट्रक चालकों का कोविड-19 का बीमा कराया जाए.

पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ते दामों के विरोध में कांग्रेस नेता मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ रैली निकाली. (फोटो साभार: ट्विटर)

एमपी: पेट्रोल-डीज़ल मूल्य वृद्धि पर कांग्रेस का प्रदर्शन, दिग्विजय सिंह सहित 150 लोगों पर केस

पेट्रोल और डीज़ल के दाम में बढ़ोतरी को लेकर प्रदर्शन करने के लिए भोपाल मध्य से कांग्रेस विधायक आरिफ़ मसूद और उनके पांच समर्थकों ​के ख़िलाफ़ भी केस दर्ज किया गया है. कांग्रेस नेता और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के ख़िलाफ़ इस महीने में यह दूसरी एफ़आईआर दर्ज की गई है.

(फोटो: रॉयटर्स)

16 दिन में पेट्रोल के दाम में 8.30 और डीज़ल के दाम में 9.46 रुपये प्रति ​लीटर की वृद्धि

इस वृद्धि से डीज़ल के दाम जहां नई ऊंचाई पर पहुंच गए हैं, वहीं पेट्रोल के दाम भी दो साल की ऊंचाई पर पहुंच चुके हैं. तेल कंपनियों ने अप्रैल, 2002 में पेट्रोल-डीज़ल के दाम में हर पखवाड़े बदलाव करने की शुरुआत की थी. उसके बाद से किसी पखवाड़े में दाम में यह सबसे बड़ी वृद्धि है.

(फोटो: रॉयटर्स)

बजट में शुल्क बढ़ोतरी के बाद पेट्रोल 2.45 रुपये और डीजल 2.36 रुपये महंगा

पेट्रोल और डीजल के संशोधित मूल्य शनिवार को प्रभावी हो गए. दिल्ली में पेट्रोल का दाम 2.45 रुपये लीटर बढ़कर 72.96 रुपये लीटर हो गया, जबकि मुंबई में यह वृद्धि 2.42 रुपये लीटर बढ़कर 78.57 रुपये प्रति लीटर रही.

(फोटो: रॉयटर्स)

2.50 रुपये की कटौती के बाद पेट्रोल, डीजल के दाम फिर बढ़े

रविवार को पेट्रोल 32 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी के साथ 81.82 रुपये लीटर पर पहुंच गया. वहीं डीजल 58 पैसे चढ़ कर 73.53 रुपये प्रति लीटर पर आ गया.

IMG_20181004_215548

जन गण मन की बात, एपिसोड 312: पेट्रोल-डीजल के दाम में कमी और पुतिन का भारत दौरा

जन गण मन की बात की 312वीं कड़ी में विनोद दुआ केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल की कीमतें घटाने और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के भारत दौरे पर चर्चा कर रहे हैं.

IMG_20180912_211813

जन गण मन की बात, एपिसोड 304: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें

जन गण मन की बात की 304वीं कड़ी में विनोद दुआ पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और उस पर मोदी सरकार की प्रतिक्रिया पर चर्चा कर रहे हैं.

Modi Petrol Ad

सरकार ने पिछले चार साल में तेल के ज़रिये आपका ‘तेल’ निकाल दिया है

यूपीए ने 2005-06 से 2013-14 के बीच जितना पेट्रोल-डीज़ल की एक्साइज़ ड्यूटी से नहीं वसूला उससे करीब तीन लाख करोड़ रुपये ज़्यादा उत्पाद शुल्क एनडीए ने चार साल में वसूला है.

Kolkata: Congress activists stage a demonstration in front of Indian Oil Bhavan against the fuel price hike, in Kolkata on Friday, June 01, 2018. (PTI Photo)(PTI6_1_2018_000062B)

पेट्रोल और डीज़ल के बाद रसोई गैस, केरोसिन और विमान ईंधन हुए महंगे

बिना सब्सिडी वाला सिलेंडर 48.50 रुपये बढ़ा, वहीं सब्सिडी वाले सिलेंडर के दामों में दो रुपये की बढ़ोतरी की गई है. कांग्रेस ने कहा कि जनता का बजट बिगाड़ रहा है मोदी जी का लालच.

EP 251_Raw

जन गण मन की बात, एपिसोड 251: पेट्रोल-डीज़ल के दाम और गौरी लंकेश हत्याकांड

जन गण मन की बात की 251वीं कड़ी में विनोद दुआ पेट्रोल-डीज़ल के दाम और गौरी लंकेश हत्याकांड पर चर्चा कर रहे हैं.

EP 246 RAW

जन गण मन की बात, एपिसोड 246: आसमान छूते पेट्रोल-डीज़ल के दाम और कर्नाटक में राष्ट्रगान विवाद

जन गण मन की बात की 246वीं कड़ी में विनोद दुआ आसमान छूते पेट्रोल-डीज़ल के दाम और कर्नाटक विधानसभा में भाजपा विधायकों द्वारा कथित तौर पर राष्ट्रगान के अपमान पर चर्चा कर रहे हैं.

(फाइल फोटो: रॉयटर्स)

विज्ञापन और भाषण से राशन नहीं मिलता

भारत की राजनीति झूठ से घिर गई है. झूठ के हमले से बचना मुश्किल है, इसलिए सवाल करते रहिए कि 14 दिनों में गन्ना भुगतान और एथनॉल से डीज़ल बनाने के सपने का सच क्या है वरना सिर्फ झांसे में ही फांसे जाएंगे.

farmers photo Flicker

2017 में ज़्यादातर देशों की जीडीपी बढ़ी, बेरोज़गारी घटी लेकिन भारत में ऐसा नहीं हुआ

2017 को एक ऐसे साल के तौर पर याद किया जाएगा, जिसमें भारतीय अर्थव्यवस्था को अपने ही हाथों भारी नुकसान पहुंचाया गया. इससे जीडीपी में तीव्र गिरावट आयी और पहले से ही नए रोज़गार निर्माण की ख़राब स्थिति और बदतर हुई.