द वायर हिंदी

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

पुणे: कोविड-19 से मरीज़ की मौत, भीड़ ने अस्पताल में तोड़फोड़ की, कर्मचारियों को पीटा

महाराष्ट्र में पुणे शहर के पिम्परी चिंचवाड इलाके का मामला. पुलिस ने बताया कि इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और हमलावर भीड़ में से छह लोगों की पहचान कर ली गई है. अभी तक कोई गिरफ़्तारी नहीं हुई है.

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणनवीस. (फोटो: पीटीआई)

महाराष्ट्रः पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस के 22 साल के भतीजे को कोविड टीका लगने के बाद विवाद

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के 22 साल के भतीजे तन्मय फडणवीस ने इंस्टाग्राम पर एक तस्वीर पोस्ट की, जिसमें वह कोविड-19 वैक्सीन लेते नजर आ रहे हैं. सवाल उठ रहे हैं कि आख़िर कैसे फडणवीस के भतीजे को कोविड-19 वैक्सीन का टीका लगाया गया, जबकि उनकी उम्र टीका लगवाने के दायरे में नहीं आती.

(फोटो: पीटीआई)

मध्य प्रदेश: दिल्ली से घर लौट रहे प्रवासी मज़दूरों से भरी बस पलटी, तीन लोगों की मौत

प्रवासी मज़दूरों से भरी यह बस ग्वालियर-झांसी राजमार्ग के जौरासी घाटी मोड़ पर पलट गई. दिल्ली में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के मद्देनज़र एक हफ़्ते के लॉकडाउन की घोषणा होने के बाद बस मज़दूरों को लेकर मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ होते हुए छतरपुर जा रही थी.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

उद्योग ऑक्सीजन के लिए इंतज़ार कर सकते हैं, कोविड-19 के मरीज़ नहीं: अदालत

कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप की वजह से ​राजधानी दिल्ली समेत देश विभिन्न शहरों में ऑक्सीजन, वे​टिंलेटर और अस्पतालों में बिस्तरों की कमी की ख़बरें आ रही हैं. दिल्ली हाईकोर्ट पीठ ने केंद्र सरकार से यह जानकारी देने को कहा कि कोविड-19 के मरीज़ों के लिए ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति के लिए क्या-क्या किया जा सकता है?

दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल के एक वार्ड में इलाज कराते कोरोना वायरस से संक्रमित लोग. (फोटो: रॉयटर्स)

कोविड-19: बीते एक दिन में सर्वाधिक 1,761 लोगों की मौत, 259,170 नए मामले दर्ज

देश में 15 अप्रैल से लगातार छठे दिन कोरोना वायरस संक्रमण के दो लाख से अधिक दैनिक मामले सामने आए हैं. इसके साथ ही संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 15,321,089 हो गई है और मृतक संख्या एक लाख 80 हज़ार के पार जा चुकी है. विश्व में संक्रमण के 14.20 करोड़ से ज़्यादा मामले दर्ज किए गए हैं और 30.30 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.

ममता बनर्जी. (फोटो: पीटीआई)

विधानसभा चुनाव: टीएमसी का चुनावी अभियान बंगाल के लोगों की उम्मीदों के ठीक उलट है

दस सालों से पश्चिम बंगाल की सत्ता पर काबिज़ तृणमूल कांग्रेस का चुनावी अभियान राज्य के सबसे ज्वलंत मुद्दों से बेख़बर है. इसके बजाय पार्टी का प्रयास भाजपा की ही तरह विभाजन पैदा करना नज़र आता है.

ई-रिक्शा में मृत बेटे के साथ महिला. (फोटो साभार: सोशल मीडिया)

यूपी: वाराणसी से सामने आई दर्दनाक तस्वीर, इलाज के अभाव में रिक्शे में हुई युवक की मौत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक बीमार युवक ने समय पर इलाज न मिलने के चलते इलेक्ट्रॉनिक रिक्शा में उन्हें अस्पताल ले जा रही मां के क़दमों में दम तोड़ दिया. उनका शव वापस ले जाने के लिए भी किसी एंबुलेंस की व्यवस्था न हो पाने के कारण उनकी मां ई-रिक्शा में ही मृत शरीर लेकर जाना पड़ा.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

बंगालः जय श्रीराम नहीं कहने पर भाजपा कार्यकर्ता द्वारा कथित तौर पर दस साल के बच्चे की पिटाई

पश्चिम बंगाल के नदिया ज़िले की घटना. बच्चे के उसके चेहरे, सिर और गर्दन पर कई घाव हैं. पीड़ित के पिता तृणमूल कांग्रेस के समर्थक माने जाते हैं. पिता ने कहा कि चुनाव के दिन भाजपा कार्यकर्ताओं ने मतदाताओं को प्रभावित करने की कोशिश की थी, जिसका उन्होंने विरोध किया था, इसलिए ऐसा लगता है कि उन्होंने उनके बेटे पर हमला किया.

ऑक्सीजन टैंकर के साथ फोटो खिंचाते मध्य प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष आलोक शर्मा व अन्य नेता. (फोटो: Alok_SharmaBJP)

मध्य प्रदेश: भाजपा नेता ने फोटो खिंचवाकर रवाना किए शव वाहन, विपक्ष ने साधा निशाना

कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के बीच भोपाल में भाजपा के स्थानीय नेता कुछ नये ‘मुक्ति वाहनों’ को समारोहपूर्वक फोटो खिंचवाकर रवाना करते हुए नज़र आए. कांग्रेस ने इस पर तंज़ कसते हुए कहा कि ‘फोटोबाज़ी’ करके आपदा में भी अवसर तलाशा जा रहा है. इससे पहले इंदौर में भाजपा नेताओं द्वारा ऑक्सीजन लेकर पहुंचे टैंकर के सामने पूजा-पाठ करने पर भी विवाद हुआ था.

Guwahati: An official checks the documents submitted by people at an National Register of Citizens (NRC) Seva Kendra in Guwahati, Friday, Aug 30, 2019. The NRC with the final list of citizens will be published tomorrow on August 31, 2019. Chief Minister of Assam Sarbananda Sonowal has asked people not to panic, and has directed all Government agencies of Assam to cooperate with people. (PTI Photo)(PTI8_30_2019_000055B)

संबंधित व्यक्ति को सुनने के बाद ही नागरिकता पर कोई फ़ैसला दिया जाए: गुवाहाटी हाईकोर्ट

विदेशी न्यायाधिकरण के एकतरफ़ा आदेश को दरकिनार करते हुए गुवाहाटी हाईकोर्ट ने कहा कि नागरिकता किसी व्यक्ति का सबसे महत्वपूर्ण अधिकार है. इससे पहले हाईकोर्ट ने एक महत्वपूर्ण फैसले में कहा था कि नागरिकता साबित करने के लिए किसी व्यक्ति को वोटर लिस्ट में शामिल सभी रिश्तेदारों के साथ संबंध का प्रमाण देना आवश्यक नहीं है.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

डॉक्टर के लिखने के एक घंटे में जीवन रक्षक दवाएं मुहैया कराए मध्य प्रदेश सरकार: कोर्ट

कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बीच मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा एवं देशव्यापी समस्या होने के कारण केंद्र सरकार को औद्योगिक उपयोग की ऑक्सीजन को मेडिकल ऑक्सीजन के लिए उपयोग करने की व्यवस्था पर विचार करना चाहिए और यदि फ़िर भी यह ऑक्सीजन पर्याप्त नहीं होती है तो इसका आयात करना चाहिए.

(फोटो: द वायर)

प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक में भारत लगातार 142वें स्थान पर, पत्रकारों के लिए बेहद ख़तरनाक देश बताया

रिपोर्टर्स विदआउट बॉर्डर्स की ओर से जारी विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक में भारत 180 देशों में 142वें स्थान पर है. रिपोर्ट में देश में कम होती प्रेस की आज़ादी के लिए भाजपा समर्थकों को ज़िम्मेदार ठहराते हुए कहा गया है कि पार्टी समर्थकों ने पत्रकारों को डराने-धमकाने का माहौल बनाया है. साथ ही पत्रकारों की ख़बरों को ‘राष्ट्र विरोधी’ क़रार दिया है.

बॉम्बे हाईकोर्ट (फोटो: पीटीआई)

कोविड-19: बॉम्बे हाईकोर्ट ने केंद्र और महाराष्ट्र सरकार से रेमडेसिविर के वितरण पर जवाब मांगा

महाराष्ट्र देश में कोरोना वायरस से सर्वाधिक प्रभावित राज्य ​है. यहां पूरे देश के लगभग 40 फ़ीसदी मामले हैं और ज़रूरत के अनुरूप केंद्र सरकार राज्य को रेमडेसिविर आवंटित नहीं कर रही थी, जिसकी सूचना हाईकोर्ट को दिए जाने के बाद अदालत ने जवाब मांगा है.

दिल्ली सरकार द्वारा लॉकडाउन की घोषणा के बाद आनंद विहार में जुटी प्रवासी मजदूरों की भारी भीड़. (फोटो: पीटीआई)

कोविड संकट: कोर्ट ने कहा, दिल्ली सरकार प्रवासी मज़दूरों के लिए पर्याप्त करने में विफ़ल रही

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बाद दिल्ली सरकार ने 26 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन की घोषणा की है. इसके बाद से दिल्ली से पिछले साल की तरह प्रवासी मज़दूर दोबारा अपने घरों को लौटने लगे हैं.

(फोटोः पीटीआई)

मुंबईः कोरोना के 90 फीसदी मामले हाई-राइज़ अपार्टमेंट्स में

मुंबई में कोरोना के लगभग 87,000 सक्रिय मामले हैं जिनमें से 90 फीसदी से अधिक मामले गगनचुंबी इमारतों में हैं जबकि 10 फीसदी झुग्गी-झोपड़ियों से हैं. शहर में कोरोना की पहली लहर में झुग्गी-झोपड़ी सर्वाधिक प्रभावित रहे थे.