नकली शराब

(फोटो: पीटीआई)

पंजाब: ज़हरीली शराब से मरने वालों की संख्या 112 हुई, ऑटोप्सी में देरी का आरोप

राज्य के तीन ज़िलों में ज़हरीली शराब पीने से दम तोड़ चुके लोगों की संख्या 112 हो चुकी है, जबकि कइयों का इलाज चल रहा है. बीमार लोगों ने बताया कि उनकी आंखों की रोशनी प्रभावित हुई है. वहीं पीड़ित परिवारों का कहना है कि उन्हें शव सौंपने में देर की जा रही है.

अमृतसर में पीड़ित परिवारों के साथ शिरोमणि अकाली दल के सुखबीर सिंह बादल. (फोटो: पीटीआई)

पंजाब: ज़हरीली शराब से मरने वालों की संख्या 86 हुई, 7 आबकारी और 6 पुलिसकर्मी निलंबित

बुधवार रात से अब तक तरन तारण में 63, अमृतसर में 12 और गुरदासपुर के बटाला में 11 मौतें हुईं हैं. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि जहरीली शराब के उत्पादन और बिक्री को रोकने में पुलिस और आबकारी विभाग की नाकामी शर्मनाक है.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

पंजाब: तीन ज़िलों में ज़हरीली शराब पीने से 41 लोगों की मौत, जांच के आदेश

बीते दो दिनों में पंजाब के तीन ज़िलों में नकली शराब पीने से हुई 40 से अधिक मौतों के बाद मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने जांच के आदेश दिए हैं. वहीं आंध्र प्रदेश में शराब न मिलने पर सैनेटाइजर पीने से दस लोगों की मौत होने का मामला सामने आया है.