नासिक महानगरपालिका

संभाजी भिड़े. (फोटो: पीटीआई)

‘बेटों के लिए आम’ वाली टिप्पणी को लेकर संभाजी लिंग चयन निषेध क़ानून के उल्लघंन के दोषी

नासिक नगर निगम की एक सलाहकार समिति ने संभाजी भिड़े के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कराने का फैसला किया है. भिड़े ने दावा किया था कि उनके बगीचे से आम खाकर कई दंपतियों को बेटा हुआ.

संभाजी भिड़े. (फोटो: पीटीआई)

‘मेरे बाग के आम खाकर लोगों को बच्चे हुए’, इस दावे पर संभाजी भिड़े को नोटिस

भीमा-कोरेगांव हिंसा में आरोपी संभाजी भिड़े ने कहा था कि अभी तक बिना बच्चों वाले 180 दंपतियों ने उनसे फल लिए, उनमें से 150 को बच्चा हुआ.