पुलिस हिरासत में मौत

मद्रास हाईकोर्ट. (फोटो साभार: फेसबुक/@Chennaiungalkaiyil)

तमिलनाडु: हिरासत में मौत की जांच कर रही टीम को धमकाने का आरोप, राजस्व विभाग को सौंपा गया थाना

तुथुकुडी ज़िले में कथित तौर पर हिरासत में हुई पिता-पुत्र की मौत की जांच कर रही न्यायिक टीम की शिकायत पर मद्रास हाईकोर्ट ने तीन पुलिसकर्मियों पर अवमानना की कार्रवाई शुरू की है. साथ ही सथनकुलम पुलिस स्टेशन का नियंत्रण राजस्व अधिकारियों को सौंपने का आदेश दिया है.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

हिरासत में अत्याचार: भारतीय पुलिस का निकृष्टम चेहरा

यूं तो भारतीय पुलिस द्वारा रोज़ाना सैंकड़ों लोगों को प्रताड़ित करने की बात कही जाती है लेकिन गरीब, पिछड़े, और अल्पसंख्यक उनके विशेष निशाने पर होते हैं. एक पूर्व पुलिस महानिदेशक द्वारा सभ्य जनतांत्रिक समाज के इस बदनुमा दाग़ का विस्तृत विश्लेषण.

जयराज (बाएं) और बेनिक्स. (फोटो साभार: ट्विटर)

तमिलनाडु: पिता-पुत्र की हत्या के आरोपी पुलिसकर्मियों पर कई अन्य को प्रताड़ित करने के आरोप

तुथुकुडी जिला जज की न्यायिक रिपोर्ट में पाया गया कि पिता-पुत्र जयराज और बेनिक्स की हत्या के आरोपी अधिकारियों द्वारा कुछ समय पहले सथनकुलम पुलिस स्टेशन में एक नाबालिग सहित आठ लोगों को प्रताड़ित किया गया था.

प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो साभार: Flickr/CC BY NC ND 2.0)

तमिलनाडुः पुलिस हिरासत में पिता-पुत्र की मौत की जांच की मांग, यौन प्रताड़ना के आरोप

19 जून को तुथुकुडी में लॉकडाउन के दौरान तय समय के बाद दुकान खोलने पर पिता और पुत्र को गिरफ़्तार किया गया था, इसके चार दिन बाद अस्पताल में दोनों की मौत हो गई थी. परिजनों ने हिरासत में बर्बरता और यौन प्रताड़ना होने के आरोप लगाए हैं.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

तमिलनाडु: कारोबारी पिता-पुत्र की पुलिस हिरासत में मौत, व्यापारियों ने किया प्रदर्शन

मामला तमिलनाडु के तुथुकुडी ज़िले का है. लॉकडाउन के दौरान तय समय से देर तक अपनी मोबाइल की दुकान खोलने पर पिता और पु​त्र को गिरफ़्तार किया गया था. अगले दिन अस्पताल में दोनों की मौत हो गई थी. प​रिजनों ने हिरासत में उनके साथ बर्बरता किए जाने का आरोप लगाया है. मामले में दो सब-इंस्पेक्टरों को निलंबित किया गया है.

Jorhat Assam

असमः पुलिस हिरासत में युवक की मौत, जांच के आदेश

जोरहाट इलाके में उल्फा-आई और एनएससीएन-आईएम के सदस्यों के होने की मौजूदगी की सूचना मिलने पर सेना और पुलिस के संयुक्त अभियान में जयंत बोरा को उनके घर से हिरासत में लिया गया था.

(फोटो साभार: ट्विटर)

पुलिस हिरासत में पिछले दो साल में 133 लोगों की मौत हुई: गुजरात सरकार

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने सदन में एक प्रश्न के लिखित जवाब में यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि बीते दो साल में पुलिस हिरासत में जिन लोगों की मौत हुई उनके परिजनों को 23.50 लाख रुपये का मुआवज़ा दिया गया है.

Chhattisgarh Surajpur

छत्तीसगढ़: युवक ने पुलिस हिरासत में लगाई फांसी, थाना प्रभारी सहित 10 पुलिसकर्मी निलंबित

घटना सूरजपुर जिले के चंदौरा थाने की है. पति-पत्नी के बीच विवाद को लेकर युवक को पूछताछ के लिए थाना ले जाया गया था. परिजनों का आरोप है कि युवक की मौत पुलिस मारपीट से हुई है.

Bhopal Map

मध्य प्रदेश: पुलिस हिरासत में युवक की मौत, थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मी निलंबित

घटना भोपाल के बैरागढ़ की है. दो युवकों को उनकी गाड़ी टकराने के बाद पुलिस हिरासत में लिया गया, जहां एक युवक की मौत हो गई. मृतक के परिजनों का आरोप है कि पुलिसकर्मियों की पिटाई की वजह से मौत हुई है. गृह मंत्री ने मामले की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं.

प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो साभार: Flickr/CC BY NC ND 2.0)

बिहारः पुलिस हिरासत में दो युवकों की मौत, पांच पुलिसकर्मी निलंबित

बिहार के सीतामढ़ी जिले का मामला. हत्या और लूट के मामले में गिरफ़्तार किए गए गुफ़रान आलम और तसलीम अंसारी नामक युवकों के शरीर पर कीलों से बने घाव के निशान मिले.

तिरुवनंतपुरम स्थित केरल राज्य सचिवालय में धरने पर बैठे श्रीजीत. (फोटो साभार: फेसबुक/ANGO)

केरल: हिरासत में भाई की मौत की सीबीआई जांच के लिए 765 दिन से धरने पर बैठा है युवक

तकरीबन दो साल के धरने के बाद कई राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि युवक से मिलने पहुंचे और केंद्र से की दख़ल की मांग.