बंगाल चुनाव

पश्चिम बंगालः भाजपा का साथ छोड़कर फिर तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुए मुकुल रॉय

मुकुल रॉय 2017 में टीएमसी छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे. मुकुल का कहना है कि मौजूदा स्थिति ऐसी है कि कोई भी भाजपा में नहीं रहेगा. उनके बेटे शुभ्रांशु रॉय भी दोबारा पार्टी में शामिल हुए हैं. वहीं ममता बनर्जी ने कहा है कि पार्टी के दरवाज़े उनके लिए नहीं खुले हैं, जो पैसे के लिए चुनाव से पहले पार्टी छोड़कर गए या जिन्होंने पार्टी की आलोचना की.

पश्चिम बंगाल: तृणमूल कांग्रेस के एक और निवर्तमान विधायक का कोविड-19 से निधन

पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के निर्वतमान विधायक गौरी शंकर दत्ता 2016 के विधानसभा चुनाव में नादिया ज़िले के तेहत्ता क्षेत्र से निर्वाचित हुए थे. तृणमूल कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने पर बीते 10 मार्च को वह भाजपा में शामिल हो गए थे. बीते 17 अप्रैल को बीरभूम ज़िले के मुरारई सीट से टीएमसी के निर्वतमान विधायक अब्दुर रहमान की भी कोविड-19 से मौत हो गई थी.

बहुचरणीय चुनाव पर पुनर्विचार करने का समय आ गया है: पूर्व निर्वाचन आयुक्त टीएस कृष्णमूर्ति

कोरोना वायरस संकट के दौर में पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त टीएस कृष्णमूर्ति ने कहा कि चुनाव के दौरान जनसभाओं और रोडशो पर पाबंदी नहीं लगाई जा सकती, लेकिन निर्वाचन आयोग इस प्रकार की सभाएं करने की अवधि और दिनों की संख्या में काफी हद तक कटौती करने पर गंभीरता से विचार कर सकता है, क्योंकि अब डिजिटल और सोशल मीडिया के ज़रिये प्रचार करने का विकल्प उपलब्ध हैं.

पश्चिम बंगाल चुनाव मैदान में उतरे तीसरे उम्मीदवार की कोविड-19 से मौत

पश्चिम बंगाल की खड़दह सीट से टीएमसी उम्मीदवार काजल सिन्हा का कोरोना संक्रमण से निधन हो गया. इससे पहले रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के मुर्शिदाबाद ज़िले के जंगीपुरा सीट से उम्मीदवार प्रदीप कुमार नंदी और इसी ज़िले की शमशेरगंज सीट से कांग्रेस उम्मीदवार रेज़ाउल हक़ की भी संक्रमण से मौत हो चुकी है. इसी महीने बीरभूम ज़िले के मुरारई सीट से टीएमसी के निर्वतमान विधायक अब्दुर रहमान की भी मौत कोरोना की वजह से हो गई थी.

बंगालः जय श्रीराम नहीं कहने पर भाजपा कार्यकर्ता द्वारा कथित तौर पर दस साल के बच्चे की पिटाई

पश्चिम बंगाल के नदिया ज़िले की घटना. बच्चे के उसके चेहरे, सिर और गर्दन पर कई घाव हैं. पीड़ित के पिता तृणमूल कांग्रेस के समर्थक माने जाते हैं. पिता ने कहा कि चुनाव के दिन भाजपा कार्यकर्ताओं ने मतदाताओं को प्रभावित करने की कोशिश की थी, जिसका उन्होंने विरोध किया था, इसलिए ऐसा लगता है कि उन्होंने उनके बेटे पर हमला किया.

पश्चिम बंगाल: चुनाव मैदान में उतरे दो प्रत्याशियों के बाद टीएमसी विधायक की कोविड-19 से मौत

इससे पहले रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी की ओर से मुर्शिदाबाद ज़िले के जंगीपुरा सीट से चुनाव मैदान में उतरे प्रदीप कुमार नंदी की मौत भी बीते 16 अप्रैल को कोरोना संक्रमण की वजह से हो गई थी. 15 अप्रैल को इसी ज़िले की शमशेरगंज सीट से उम्मीदवार रेज़ाउल हक़ की भी संक्रमण से मौत हो चुकी है. निर्वाचन आयोग ने दोनों सीटों पर मतदान स्थगित कर दिया है.

कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के बीच बंगाल चुनाव में उतरे दूसरे प्रत्याशी की संक्रमण से मौत

रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के उम्मीदवार प्रदीप कुमार नंदी की शुक्रवार को बहरमपुर के एक अस्पताल में मृत्यु हो गई. वह बंगाल विधानसभा चुनाव में मुर्शिदाबाद ज़िले के जंगीपुर विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के उम्मीदवार थे. इससे पहले कोविड-19 से संक्रमित मुर्शिदाबाद के ही शमशेरगंज विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के उम्मीदवार रेज़ाउल हक़ निधन हो गया था.

बंगाल: चुनाव साथ कराने से निर्वाचन आयोग के इनकार के बीच कांग्रेस प्रत्याशी की संक्रमण से मौत

कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद ज़िले की शमशेरगंज विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी रेजाउल हक़ कोलकाता के एक अस्पताल में भर्ती कराए गए थे. निर्वाचन आयोग ने इस सीट पर मतदान स्थगित कर दिया है. साथ ही उन अटकलों को ख़ारिज कर दिया कि देश में वायरस के मद्देनज़र बाकी चरणों के मतदान को एक बार में कराया जाएगा.