बच्चों के खिलाफ अपराध

mallapuram

केरलः 12 साल की बच्ची से दो साल तक 30 लोगों ने बलात्कार किया, पिता समेत तीन गिरफ़्तार

मामला मलप्पुरम ज़िले का है, जहां स्कूल में काउंसिलिंग के दौरान सातवीं कक्षा की छात्रा ने इस बारे में बताया. बच्ची का पिता बेरोज़गार है और ऐसा बताया जा रहा है कि पहले उसने बच्ची की मां को वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया था.

Jodhpur: Senior Congress leader and former chief minister Ashok Gehlot leaves after filing his nomination from Sardarpura constituency ahead of the state Assembly elections, in Jodhpur district, Monday, Nov. 19, 2018. (PTI Photo)(PTI11_19_2018_000161B)

महिलाओं-बच्चों के प्रति होने वाले अपराध की जानकारी देने से क्यों कतरा रही है राजस्थान सरकार

राजस्थान विधानसभा में भाजपा के तीन और कांग्रेस के एक विधायक ने महिलाओं और बच्चों के ख़िलाफ़ होने वाले अपराधों से जुड़े सवाल पूछे थे. गृह विभाग ने इन सवालों के जवाब देने में असमर्थता जता दी है.

Gaya Bihar

बिहार: सामूहिक बलात्कार पीड़िता बच्ची का सिर मुंडवा कर गांव में घुमाया गया

मामला बिहार के गया जिले का है. अज्ञात लोगों द्वारा कथित तौर पर नाबालिग बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार किए जाने के बाद जब उसकी मां न्याय मांगने पंचायत में पहुंची तो पीड़िता को ही दोषी करार देकर उसके सिर के बाल मुंड़वाकर उसे गांव में घुमाया गया.

Child Trafficking Reuters 2

दिल्ली की 19 अदालतों में पॉक्सो के 7,277 मामले लंबित

सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए 25 जुलाई को देश के प्रत्येक जिलों में पॉक्सो के तहत मुकदमों की सुनवाई के लिए विशेष अदालतों के गठन का निर्देश दिया था.

(फोटो: द वायर)

सुप्रीम कोर्ट ने बाल यौन शोषण के मामलों के लिए ज़िलों में विशेष अदालतें बनाने का निर्देश दिया

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि ये अदालतें उन जिलों में गठित की जाएंगी जहां यौन अपराधों से बच्चों को संरक्षण कानून (पॉक्सो) के तहत 100 या इससे अधिक मुक़दमे लंबित हैं. उधर, राज्यसभा में पॉक्सो संशोधन विधेयक पारित. बाल यौन अपराध में मृत्युदंड का प्रावधान.

Kushinagar

उत्तर प्रदेश: कुशीनगर में घर से खींचकर परिजन के सामने नाबालिग से सामूहिक बलात्कार

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर ज़िले के अहिरौली बाज़ार थाना क्षेत्र स्थित एक गांव में हुई घटना में नाली बनाने को लेकर आरोपियों का नाबालिग के परिवार के साथ झगड़ा हुआ था. प्रदेश के हमीरपुर और मेरठ में नाबालिग लड़कियों की बलात्कार के बाद हत्या. कानपुर में भी नाबालिग से बलात्कार का मामला सामने आया है.

Bhopal: Local residents stage a 'chakka jam' protest demanding capital punishment for the accused in the rape and killing of a minor girl, at Nehru Nagar Square in Bhopal, Monday, June 10, 2019. (PTI Photo) (PTI6_10_2019_000079B)

भोपाल: आठ साल की बच्ची से बलात्कार और हत्या का आरोपी गिरफ़्तार, छह पुलिसकर्मी निलंबित

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के कमला नगर थाना इलाके में आठ जून की रात आठ वर्षीय बच्ची से बलात्कार और उसकी हत्या करने के बाद आरोपी ने बच्ची का शव उसी के घर के पास नाले में फेंक दिया था. जबलपुर में भी चार साल की बच्ची से अप्राकृतिक बलात्कार का मामला सामने आया.

Ujjain MP Map

मध्य प्रदेशः बलात्कार के बाद पांच साल की बच्ची की हत्या, एक गिरफ़्तार

मामला उज्जैन का है, जहां भूकी माता मंदिर इलाके से झुग्गी में परिजनों के साथ सो रही एक बच्ची का कथित तौर पर अपहण कर बलात्कार किया गया. इसके बाद बच्ची की हत्या कर शव नदी में फेंक दिया गया.

India-Society-Reuters-2jpg

ऐसी कोई जगह नहीं, जहां बच्चों का लैंगिक शोषण न होता हो

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अध्ययन ‘चाइल्ड एब्यूज़ इन इंडिया’ के मुताबिक भारत में 53.22 प्रतिशत बच्चों के साथ एक या एक से ज़्यादा तरह का यौन दुर्व्यवहार और उत्पीड़न हुआ है. ऐसे में कौन कह सकता है कि मेरे घर में बच्चों का लैंगिक शोषण नहीं हुआ?

indian-parliament

12 साल से छोटी बच्चियों से बलात्कार पर फांसी तक की सज़ा दिलाने वाला विधेयक मंजूर

12 वर्ष से कम उम्र की बच्चियों के साथ बलात्कार के लिए दंड को सात वर्ष के न्यूनतम कारावास से बढ़ाकर 10 वर्ष करने का प्रावधान किया गया है. 16 वर्ष से कम की लड़की से बलात्कार में सज़ा 20 वर्ष से कम नहीं होगी और इसे बढ़ाकर आजीवन कारावास किया जा सकेगा.

जस्टिस मदन बी. लोकुर. (फोटो साभार: फेसबुक/National Commission for Protection of Child Rights)

जघन्य अपराधों के हर मामले में किशोर मुजरिमों को सज़ा-ए-मौत उचित नहीं: जस्टिस लोकुर

उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश जस्टिस मदन बी. लोकुर ने बच्चों और किशोरों से जुड़े मामलों की सुनवाई करने वाली विशेष अदालतों को संवेदनशील बनाने की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुए कहा हम इस देश में यूं बर्बर नहीं हो सकते.

(फोटो: रॉयटर्स)

वर्ष 2016 में 55,000 बच्चे अगवा हुए, बच्चों के ख़िलाफ़ अपराध में वृद्धि: गृह मंत्रालय

गृह मंत्रालय के मुताबिक, वर्ष 2016 में अगवा बच्चों के 40.4 फीसदी मामलों में ही आरोप पत्र दाखिल हुआ. वहीं, 2016 में देश में बच्चों के ख़िलाफ़ अपराध के 1,06,958 मामले दर्ज हुए, 2015 में इनकी संख्या 94,172 थी.

A girl in Kochi, in the south-western state of Kerala, protests against the rape in Kathua, near Jammu, northern India. Photograph: Sivaram V/Reuters

बच्चे यौन हिंसा नहीं बल्कि यौनिक युद्ध का सामना कर रहे हैं, वे न घर में सुरक्षित हैं और न बाहर

विकास के दावों के बीच भारत के अनुभव और ज़मीनी सच्चाई बता रही है कि समाज और सरकारें बच्चों का संरक्षण सुनिश्चित कर पाने में तो नाकाम हैं ही आगे भी इनके नाकाम रहने की आशंका है.

(फोटो: पीटीआई)

रेयान मामला: बच्चे के पिता ने दावा किया मंत्री ने कहा था सीबीआई जांच की मांग मत करो

पिता ने किशोर न्याय बोर्ड से अनुरोध किया कि जांच के दौरान आरोपी छात्र के ख़िलाफ़ एक वयस्क की तरह केस चलाया जाए.

Gurugram: The 11th class student, apprehended in connection with the Pradyuman murder case, being produced before the Juvenile Justice Board in Gurugram on Wednesday. PTI Photo   (PTI11_8_2017_000242B)

प्रद्युम्न हत्याकांड: सीबीआई ने कहा, पिता के सामने आरोपी छात्र ने अपराध कबूला

हरियाणा के गुरुग्राम स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल के शौचालय में आठ सितंबर को प्रद्युम्न का शव मिला था.