बाड़मेर

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील कुमार अरोड़ा, चुनाव आयुक्त अशोक लवासा और चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा. (फोटो: पीटीआई)

असहमति के मत को चुनाव आयोग के फैसले में शामिल करने की अशोक लवासा की मांग ख़ारिज

असहमति के मत को आयोग के फैसले का हिस्सा बनाने के मामले में चुनाव आयोग ने मौजूदा व्यवस्था को ही बरक़रार रखते हुए कहा कि असहमति और अल्पमत के फैसले को आयोग के फैसले में शामिल कर सार्वजनिक नहीं किया जाएगा.

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील कुमार अरोड़ा, चुनाव आयुक्त अशोक लवासा और चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा. (फोटो: पीटीआई)

आयोग में मतभेद पर मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा, एक-दूसरे के क्लोन नहीं हो सकते सदस्य

चुनाव आयुक्त अशोक लवासा के चुनाव आचार संहिता के मुद्दे पर चर्चा करने वाली सभी बैठकों से ख़ुद को अलग करने की रिपोर्ट सामने आने के बाद विवाद खड़ा होने पर मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने जवाब दिया.

चुनाव आयुक्त अशोक लवासा. (फोटो साभार: ट्विटर)

फैसले में असहमति को शामिल नहीं किए जाने पर चुनाव आयुक्त ने आयोग की बैठक का किया बहिष्कार

चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने 4 मई से ही चुनाव आचार संहिता के मुद्दे पर चर्चा करने वाली सभी बैठकों से खुद को अलग कर लिया है. उन्होंने कहा है कि वे चुनाव आचार संहिता के मुद्दे पर चर्चा करने वाली बैठकों में तभी शामिल होंगे जब अलग मत वाले और असंतोष जताने वाले फैसलों को भी आयोग के आदेशों में शामिल किया जाएगा.

(फोटो: रॉयटर्स)

चुनाव आयोग को भाजपा नेताओं के ख़िलाफ़ मिलीं सबसे अधिक आचार संहिता उल्लंघन की शिकायतें

इस लोकसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग को आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की कुल 46 शिकायतें मिलीं. इनमें से 29 भाजपा, 13 कांग्रेस, दो समाजवादी पार्टी और एक-एक टीआरएस और बसपा नेताओं के ख़िलाफ़ थीं.

Forbesganj: Prime Minister Narendra Modi addresses an election rally at Araria lok sabha constituency, in Forbesganj, Saturday, April 20, 2019. (PTI Photo) (PTI4_20_2019_000038B)

राजीव गांधी को ‘भ्रष्टाचारी नंबर वन’ कहने वाले बयान पर भी चुनाव आयोग ने मोदी को क्लीनचिट दी

चुनाव आयोग अब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आचार संहिता उल्लंघन के नौ मामलों में क्लीनचिट दे चुका है.

चुनाव आयुक्त अशोक लवासा. (फोटो साभार: ट्विटर)

मोदी-शाह को मिली पांच क्लीनचिट का चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने किया था विरोध

इन पांच शिकायतों में से चार शिकायतें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुड़ी हैं. सभी मामलों का फैसला 2-1 के बहुमत से हुआ है. चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने इन मामलों पर कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (रॉयटर्स)

चुनाव आयोग द्वारा नरेंद्र मोदी को मिली छठी क्लीनचिट

चुनाव आयोग अब तक प्रधानमंत्री मोदी के ख़िलाफ़ आचार संहिता के उल्लंघन की पांच अन्य शिकायतों को गलत बताते हुए उन्हें क्लीनचिट दे चुका है.

PM Modi addressing rally at Nashik district of Maharashtra. (Photo: PTI)

चुनाव आयोग का मोदी को क्लीनचिट देने का सिलसिला जारी, दो अन्य भाषणों को भी क्लीनचिट

चुनाव आयोग आचार संहिता उल्लंघन मामले में अब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ पांच शिकायतों पर उन्हें क्लीनचिट दे चुका है.

चुनाव आयोग. (फोटो: रॉयटर्स)

चुनाव आयोग द्वारा नरेंद्र मोदी को क्लीनचिट देने का फ़ैसला सर्वसम्मति से नहीं लिया गया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आचार संहिता उल्लंघन के तीन मामलों में चुनाव आयोग से क्लीनचिट मिली है. इनमें से दो मामलों में आयोग की राय एकमत नहीं थी.

Prime Minister Narendra Modi during BJP National Executive Meet, in New Delhi, Saturday, Sept 8, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav)

आचार संहिता उल्लंघन मामले में नरेंद्र मोदी को चुनाव आयोग से तीसरी बार क्लीनचिट मिली

राजस्थान के बाड़मेर में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि भारत के परमाणु हथियार दिवाली के लिए इस्तेमाल किए जाने के लिए नहीं रखे गए हैं. इसी बयान को लेकर चुनाव आयोग से शिकायत की गई थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (रॉयटर्स)

हमारे पास जो न्यूक्लियर बम है, वो दिवाली के लिए रखा है क्या: नरेंद्र मोदी

राजस्थान के बाड़मेर में एक रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘भारत ने पाकिस्तान की धमकी से डरने की नीति को छोड़ दिया. अख़बार वाले भी लिखते थे, पाकिस्तान के पास भी न्यूक्लियर है, तो हमारे पास क्या है भाई, ये दिवाली के लिए रखा है क्या?’

राजस्थान में बाड़मेर ज़िले के दूधियाकलां गांव में दो साल पहले स्कूल बंद हो जाने से अल्पसंख्यक समुदाय के बच्चों की शिक्षा प्रभावित हो रही है. (फोटो: माधव शर्मा/द वायर)

राजस्थान: समायोजन के नाम पर प्राथमिक स्कूल बंद, दो साल से बिना शिक्षा घर बैठे हैं बच्चे

राजस्थान में पिछली वसुंधरा राजे सरकार ने क़रीब 20,000 प्राथमिक सरकारी स्कूलों को माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में मर्ज कर दिया था. इस फैसले का लगभग 10 लाख बच्चों पर असर हुआ.

Barmer: Women take selfie with Rajasthan Chief Minister Vasundhara Raje during 'Rajasthan Gaurav Yatra' at Baytu, near Barmer on Sunday, Sept 2, 2018. (PTI Photo) (PTI9_2_2018_000122B)

वसुंधरा राजे से राजपूतों की नाराज़गी का खामियाज़ा भाजपा को भुगतना पड़ सकता है

वीडियो: मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के कारण राजपूत राजस्थान चुनाव में भाजपा का चुनावी खेल उसी तरह बिगाड़ सकते हैं, जैसे 2013 में जाटों की अशोक गहलोत के ख़िलाफ़ नाराज़गी ने कांग्रेस को नुकसान पहुंचाया था.

Barmer: Women take selfie with Rajasthan Chief Minister Vasundhara Raje during 'Rajasthan Gaurav Yatra' at Baytu, near Barmer on Sunday, Sept 2, 2018. (PTI Photo) (PTI9_2_2018_000122B)

राजस्थान में राजे से राजपूतों की नाराज़गी का खामियाज़ा भाजपा को भुगतना पड़ सकता है

विशेष रिपोर्ट: वसुंधरा राजे के कारण राजपूत राजस्थान चुनाव में भाजपा का चुनावी खेल उसी तरह बिगाड़ सकते हैं, जैसे 2013 में जाटों की अशोक गहलोत के ख़िलाफ़ नाराज़गी ने कांग्रेस को नुकसान पहुंचाया था.

Durg Singh Rajpurohit FB

राजस्थान के पत्रकार पर फ़र्ज़ी मुक़दमे में बिहार पुलिस के अफ़सर की भूमिका संदेह के घेरे में

सूत्रों के मुताबिक बाड़मेर के पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित की गिरफ़्तारी के मामले पर बिहार सरकार द्वारा गठित जांच समिति की रिपोर्ट में एक एएसपी के ख़िलाफ़ अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफ़ारिश की गई है.

Durg Singh Rajpurohit FB

पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित को जमानत, राजस्थान और बिहार सरकार ने दिए मामले की जांच के आदेश

पटना में एससी-एसटी एक्ट के तहत दायर मामले में राजस्थान के पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित को निजी मुचलके पर जमानत मिल गई है.

Durgesh Journalist Rajasthan

राजस्थान से गिरफ़्तार कर बिहार लाए गए पत्रकार ​के मामले का सच क्या है?

पटना में एससी-एसटी एक्ट के तहत दायर मामले में राजस्थान के पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित का कहना है कि वे कभी बिहार नहीं गए. वहीं, दूसरी ओर जिसके नाम से शिकायत दर्ज कराई गई है उसने ऐसी कोई शिकायत दर्ज कराने से इनकार किया है.

Barmer Dalit Guy News18

राजस्थान: मुस्लिम युवती से कथित प्रेम संबंध के चलते दलित युवक की पीट-पीटकर हत्या

बाड़मेर के रामसर में 20 जुलाई को 22 वर्षीय दलित युवक की पीट-पीट कर हत्या के मामले में गिरफ़्तार दो आरोपियों को 7 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा गया है. पुलिस का कहना है कि जांच जारी है.

सितंबर, 2013 में यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी राजस्थान के पचपदरा में रिफाइनरी का शिलान्यास करती हुई. (फाइल फोटो: पीटीआई)

चार साल पहले सोनिया ने किया शिलान्यास, अब मोदी करेंगे, गहलोत बोले- ग़लत परंपरा

कांग्रेस नेता गहलोत ने कहा, चुनावी लाभ पाने के लिए रिफाईनरी का पुन: शिलान्यास करना ग़लत परंपरा की शुरुआत है.