बिहार चुनाव

नीतीश कुमार. (फोटो: रॉयटर्स)

मुख्यमंत्री बनने की मेरी कोई इच्छा नहीं थी, भाजपा अपना सीएम बना सकती है: नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ये बयान ऐसे मौके पर आया है जब कुछ दिन पहले ही अरुणाचल प्रदेश में जदयू के सात में से छह विधायक भाजपा में शामिल हो गए. इस पर जदयू के महासचिव केसी त्यागी ने कहा है कि साझेदारों को वैसी गठबंधन राजनीति का पालन करना चाहिए जैसा अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल या पिछले 15 वर्षों से बिहार में किया गया.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार और जेडीयू के महासचिव केसी त्यागी के साथ पार्टी के नवनिर्वाचित अध्यक्ष आरसीपी सिंह (फोटोः पीटीआई)

आरसीपी सिंह जनता दल यूनाइटेड के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष बने

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आरसीपी सिंह के नाम का प्रस्ताव रखा था, जिसे उनकी पार्टी जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक के आख़िरी दिन अन्य सदस्यों ने सर्वसम्मति से स्वीकार कर लिया.

बिहार की एक चुनावी सभा में असदुद्दीन ओवैसी (फोटो साभार: फेसबुक/@Asaduddinowaisi)

बिहार: क्या एआईएमआईएम को ‘वोटकटवा’ कहने के दावे में कोई दम है?

विशेष रिपोर्ट: बिहार चुनावों में असद्दुदीन ओवैसी की एआईएमआईएम के पांच सीटें जीतने के बाद से सत्ता पाने से वंचित रह गए महागठबंधन के घटक दलों के नेता लगातार ओवैसी पर निशाना साधते हुए उन्हें भाजपा की ‘बी’ टीम क़रार दे रहे हैं. हालांकि आंकड़े जो तस्वीर दिखा रहे हैं, वो इन नेताओं के दावों से उलट है.

New Delhi: Senior Congress leader Ghulam Nabi Azad speaks during a news conference in which MLA's of various local parties in Haryana who joined Congress, in New Delhi, Sunday, Sept. 15, 2019. (PTI Photo/Kamal Kishore) (PTI9_15_2019_000167B)

कांग्रेस नेता आम लोगों से पूरी तरह कटे हुए हैं, पार्टी में ‘फाइव-स्टार कल्चर’: ग़ुलाम नबी आज़ाद

बिहार चुनाव में कांग्रेस को मिली हार पर कपिल सिब्बल, पी. चिदंबरम के सवाल उठाने बाद कांग्रेस नेता ग़ुलाम नबी आज़ाद ने कहा कि वे एक सुधारवादी के रूप में मुद्दे उठा रहे हैं, न कि विद्रोही के रूप में. इसके जवाब में सलमान खुर्शीद ने कहा कि यदि मतदाता उन उदारवादी मूल्‍यों को अहमियत नहीं दे रहे, जिनका हम संरक्षण कर रहे हैं तो लंबे संघर्ष के लिए तैयार रहना चाहिए.

New Delhi: Senior Congress leader P Chidambaram, with his son Karti Chidambaram, leaves after meeting party President Sonia Gandhi at her residence at 10 Janpath in New Delhi, Wednesday night, Dec. 4, 2019. Chidambaram was released from Tihar jail after the Supreme Court on Wednesday granted bail to him in the INX Media money laundering case. (PTI Photo/Arun Sharma) (PTI12_4_2019_000256B)

कपिल सिब्बल के बाद कांग्रेस नेता चिदंबरम ने बिहार चुनाव में पार्टी की हार पर सवाल उठाए

बिहार विधानसभा चुनाव और विधानसभा उपचुनावों में कांग्रेस के ख़राब प्रदर्शन के बाद कपिल सिब्बल ने कहा था कि ऐसा लग रहा है कि अब लोग कांग्रेस को एक प्रभावी विकल्प नहीं मान रहे हैं. इस पर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि पार्टी के कामकाज से जो नाखुश हैं, वे सार्वजनिक तौर पर बयानबाजी करने के बजाय कहीं भी जाने को स्वतंत्र हैं.

शपथ ग्रहण समारोह में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ नीतीश कुमार (फोटो: पीटीआई)

भाजपा के सामने कमज़ोर पड़े नीतीश कुमार क्या फिर जनता का विश्वास पा सकेंगे?

जदयू को फिसलने से रोकने में नाकाम रहे नीतीश कुमार क्या इस बार अपने अधूरे वादे पूरे कर पाएंगे या फिर इस पारी में वे भाजपा के एजेंडा के आगे घुटने टेकने को मजबूर होंगे?

कांग्रेस पार्टी के नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला, विवेक तन्खा, कपिल सिब्बल और सलमान खुर्शीद. (फोटो: पीटीआई)

मीडिया में कांग्रेस के ख़िलाफ़ बोलने पर कई पार्टी नेताओं ने कपिल सिब्बल की आलोचना की

वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने एक साक्षात्कार में कहा था कि ऐसा लग रहा है कि अब लोग कांग्रेस को एक प्रभावी विकल्प नहीं मान रहे हैं. सिब्बल का यह बयान बिहार विधानसभा चुनाव में पार्टी के निराशाजनक प्रदर्शन की पृष्ठभूमि में आया है. इस चुनाव में महागठबंधन की घटक कांग्रेस सिर्फ़ 19 सीटों पर सिमट गई, जबकि उसने 70 सीटों पर चुनाव लड़ा था.

शपथ ग्रहण करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. (फोटो: ट्विटर/@Jduonline)

बिहार: नीतीश कुमार ने सातवीं बार ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, दो उपमुख्यमंत्री बनाए गए

बिहार विधानसभा चुनाव में 125 सीटें हासिल कर बहुमत पाने वाले एनडीए गठबंधन ने 15 सालों तक उपमुख्यमंत्री रहे सुशील मोदी की जगह भाजपा के दो नेताओं- तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी को उपमुख्यमंत्री बनाया है. नीतीश कुमार के साथ कुल 14 मंत्रियों ने शपथ ली है.

(फोटोः पीटीआई)

कांग्रेस बदलावों को लेकर गंभीर नहीं, पार्टी के लिए हर हार सामान्यः कपिल सिब्बल

वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने एक साक्षात्कार में कहा कि ऐसा लग रहा है कि अब लोग कांग्रेस को एक प्रभावी विकल्प नहीं मान रहे हैं. सिब्बल कांग्रेस के उन 23 नेताओं में से एक हैं ,जिन्होंने अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी में बदलाव लाने, जवाबदेही तय करने और हार का उचित आकलन करने की मांग की थी.

बिहार के नवादा में राजद नेता तेजस्वी यादव के साथ राहुल गांधी. (फोटो: पीटीआई)

बिहार: महागठबंधन की हार पर राजद नेता ने की राहुल गांधी की आलोचना, कांग्रेस का पलटवार

बिहार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के ख़राब प्रदर्शन पर राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि गठबंधन के लिए कांग्रेस बाधा की तरह रही, उसने चुनाव 70 सीटों पर लड़ा, लेकिन 70 रैलियां भी नहीं कीं. चुनाव के वक़्त राहुल गांधी पिकनिक मना रहे थे.

(फोटो: अदनान आबिदी/रॉयटर्स)

कोविड-19: बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान निकला 160 टन बायोमेडिकल कचरा

बिहार के चुनाव अधिकारियों का कहना है कि यह बायोमेडिकल कचरा मतदानकर्मियों और मतदाताओं द्वारा इस्तेमाल किए गए दस्ताने, फेस मास्क और सैनिटाइज़र की ख़ाली बोतलों से इकट्ठा हुआ है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की एक जनसभा. (फोटो साभार: फेसबुक/जदयू)

बिहार: नीतीश कुमार एनडीए विधायक दल के नेता चुने गए, लगातार चौथी बार बनेंगे मुख्यमंत्री

नीतीश कुमार की अगुवाई में एनडीए ने राज्यपाल फागू चौहान से बिहार में सरकार बनाने का दावा किया है. उपमुख्यमंत्री के तौर पर अभी आधिकारिक तौर पर किसी का नाम नहीं लिया गया है.

एक जनसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. (फोटो साभार: फेसबुक/जदयू)

बिहार की राजनीति में नीतीश कुमार का कोई विकल्प नहीं है

जदयू को भाजपा से कम सीटें मिलने के बाद नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री बनने को लेकर सवाल उठ रहे थे, लेकिन ऐसी राय है कि जनता, ख़ासकर महिलाओं के राजग को चुनने का श्रेय नीतीश कुमार को ही जाता है, ऐसे में उनके नेतृत्व में नई सरकार का बनना अपरिहार्य है.

नीतीश कुमार. (फोटो: रॉयटर्स)

एनडीए में लोजपा के बने रहने पर भाजपा फैसला करेगीः नीतीश कुमार

जदयू नेता नीतीश कुमार ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि जब सरकार बनती है तब आगे का कार्यक्रम तय होता है. एनडीए की बैठक के बाद आपस में बातचीत करके एक-एक चीज़ तय की जाएगी कि क्या करना है.

मस्जिद पर हुए हमले में घायल लोग (फोटोः स्पेशल अरेंजमेंट)

बिहार विधानसभा चुनाव के बाद भाजपा समर्थकों ने विजय जुलूस के दौरान मस्जिद में तोड़फोड़ की

बिहार में पूर्वी चंपारण ज़िले के जमुआ गांव का मामला. आरोप है कि समर्थकों ने इस दौरान कई वाहनों में तोड़फोड़ की और जय श्री राम का नारा लगाते हुए मस्जिद का माइक और इसके गेट तोड़ दिए गए. पुलिस ने इस संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार किया है.