भजपा अध्यक्ष अमित शाह

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की एक रैली (फोटो साभार: फेसबुक)

चुनाव आयोग ने अमित शाह के दो भाषणों को दी क्लीनचिट, सर्वसम्मति से नहीं हुआ फैसला

पश्चिम बंगाल के नादिया में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा था कि बालाकोट में आतंकी अड्डों पर बमबारी के बाद पाकिस्तान और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कार्यालय में मातम था. ऐसा ही एक बयान उन्होंने नागपुर में भी दिया था जिसे क्लीनचिट देने पर एक आयुक्त द्वारा असहमति जताई गई थी.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की एक रैली (फोटो साभार: फेसबुक)

यह शहीदों का बदला लेने का चुनाव है: अमित शाह

राजस्थान के जालोर में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि यह देश की सुरक्षा को सुनिश्चित करने का चुनाव है. यह देश के शहीदों का बदला लेने का चुनाव है. यह आतंकियों को एक सबक सिखाने का चुनाव है.

Amit Shah Bengal BJP Twitter

पुलवामा हमले के बाद आतंकियों की तबाही के लिए मोदी ने भेजी ‘अपनी वायुसेना’: अमित शाह

सोमवार को पश्चिम बंगाल की एक चुनावी रैली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का यह बयान योगी आदित्यनाथ के सैन्य बलों को ‘मोदीजी की सेना’ संबोधित करने के कुछ हफ्तों बाद आया है. योगी के बयान पर चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस देते हुए भविष्य में ऐसे बयानों से बचने की चेतावनी दी थी.

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में पश्चिम बंगाल के मालदा में एक मतदान केंद्र के बाहर लगी लाइन. (फोटो साभार: एएनआई)

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के लिए मतदान शुरू, राहुल गांधी और अमित शाह की किस्मत दांव पर

सात चरणों में से सबसे बड़े इस चरण में 14 राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों की 116 सीटों में मतदान हो रहा है.

भाजपा नेता अजय अग्रवाल. (फोटो साभार: फेसबुक)

भाजपा नेता ने कहा, निष्पक्ष चुनाव हो तो 40 सीटों पर सिमट जाएगी पार्टी

भाजपा नेता और सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता अजय अग्रवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है. साल 2014 में कांग्रेस नेता सोनिया गांधी के ख़िलाफ़ चुनाव लड़ने वाले अग्रवाल को पार्टी ने इस बार रायबरेली से टिकट नहीं दिया है.

मनसे प्रमुख राज ठाकरे (फाइल फोटो: पीटीआई)

अगर एनएसए अजीत डोभाल से पूछताछ हो, तो पुलवामा हमले का सच सामने आ जाएगा: राज ठाकरे

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने कहा कि पुलवामा हमले में शहीद हुए 40 जवान ‘राजनीति का शिकार’ बने हैं.

(फोटो साभार: ट्विटर/राहुल गांधी)

क्या पुलवामा आतंकी हमले की जानकारी होने के बाद भी फोटोशूट करा रहे थे प्रधानमंत्री मोदी?

कांग्रेस की ओर से कहा गया है कि अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पुलवामा आतंकी हमला होने की जानकारी थी तो फोटोशूट और जनसभा कर उन्होंने संवेदनहीनता क्यों दिखाई और अगर दो घंटों तक इतने बड़े हमले के बारे में जानकारी नहीं थी कि तो यह देश की सुरक्षा से जुड़ा एक गंभीर सवाल है.

modi and shah

मोदी और शाह विपक्ष ही नहीं, भाजपा को भी तबाह कर रहे हैं

एक समय था जब भाजपा कम्युनिस्ट पार्टियों के अलावा देश की एकमात्र कैडर आधारित पार्टी हुआ करती थी, जिसकी अपनी एक चमक थी.