भारतीय राजनीति

(फोटो: पीटीआई)

‘हमें आज़ादी तो मिल गई है पर पता नहीं कि उसका करना क्या है’

आज़ादी के 71 साल: हमारी हालत अब भी उस पक्षी जैसी है, जो लंबी कैद के बाद पिंजरे में से आज़ाद तो हो गया हो, पर उसे नहीं पता कि इस आज़ादी का करना क्या है. उसके पास पंख हैं पर ये सिर्फ उस सीमा में ही रहना चाहता है जो उसके लिए निर्धारित की गई है.

The Prime Minister, Shri Narendra Modi addressing at the inaugural ceremony of the World Culture Festival, in New Delhi on March 11, 2016.

विपक्ष का एकमात्र एजेंडा मुझे हटाना है, मेरे प्रति घृणा ही उन्हें जोड़े रखती है: नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि 1977 में आपातकाल के बाद लोकतंत्र को बचाने के लिए विपक्षी दल साथ आए, 1989 में बोफोर्स के भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़. आज का गठबंधन अपने अस्तित्व और सत्ता की राजनीति से प्रेरित है, देशहित से कोई लेना देना नहीं है.

modi and rahul PTI

क्या भारत की राजनीति ने अपना धर्म चुन लिया है?

कभी हाशिये पर रही हिंदुत्व की राजनीति आज मुख्यधारा की राजनीति बन चुकी है. संघ के लिए इससे बड़ी सफलता भला और क्या हो सकती है कि देश की प्रमुख राजनीतिक पार्टियां नरम/गरम हिंदुत्व के नाम पर प्रतिस्पर्धा करने लगें.

Narendra Modi Constitution Anant Hegde

जिस संविधान की कसमें खाते हैं उसी को मिटाने की ​बात करते हैं

मुल्क की बागडोर संभालते वक्त ‘संविधान को सबसे पवित्र किताब’ कहने वाले तथा अपने आप को ‘आंबेडकर का शिष्य’ घोषित करने वाले प्रधानमंत्री ने भी अनंत कुमार हेगड़े के बयान पर खामोशी बरतना मुनासिब समझा.

Anant Kumar Hegde FB

संविधान बदलने संबंधी हेगड़े का बयान संघ के पुराने इरादे की नई अभिव्यक्ति है

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े के बयान पर दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर अपूर्वानंद से अमित सिंह की बातचीत.

(फोटो: पीटीआई)

संविधान संबंधी हेगड़े के बयान पर दोनों सदनों में हंगामा

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े के संविधान बदलने को लेकर दिए गए बयान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की माफ़ी पर अड़ा विपक्ष. मोदी सरकार ने संविधान में जताई श्रद्धा.

केंद्रीय रोज़गार और कौशल विकास राज्य मंत्री अनंत कुमार हेगड़े. (फोटो साभार/फेसबुक)

कुछ भाजपा नेताओं को लगता है कि सेकुलर होना हिंदू विरोधी होना है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई अवसरों पर कहा है कि हम इसी संविधान और संवैधानिक व्यवस्था में विकास करेंगे. ऐसे में उनका कोई मंत्री इससे अलग बात करता है तो उसे मंत्रिमंडल से बाहर कर देना चाहिए.

Gandhinagar: Prime Minister Narendra Modi, BJP President Amit Shah along with new CM Vijay Rupani and other state ministers during the swearing-in ceremony at Gandhinagar, Ahmedabad in Gujarat on Tuesday. PTI Photo by Santosh Hirlekar(PTI12_26_2017_000028B)

आरएसएस के विजय रूपाणी को दूसरी बार मिली गुजरात की सत्ता

नितिन पटेल ने गुजरात के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली. समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह शामिल हुए.

केंद्रीय रोज़गार और कौशल विकास मंत्री अनंत कुमार हेगड़े. (फोटो साभार: फेसबुक)

जो धर्मनिरपेक्ष होने का दावा करते हैं, उनके माता-पिता और ख़ून की कोई पहचान नहीं: केंद्रीय मंत्री

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने केंद्रीय रोज़गार और कौशल विकास राज्य मंत्री अनंत कुमार हेगड़े के बयान की निंदा करते हुए कहा कि उन्होंने संविधान का अपमान किया है.

दिनाकरण. ​​(फोटो: पीटीआई)

आरके नगर सीट पर दिनाकरण की जीत, भाजपा को नोटा से भी कम वोट

उपचुनाव परिणाम: जयललिता के निधन से चेन्नई की आरके नगर सीट खाली हो गई थी. अरुणाचल में दोनों सीटों पर भाजपा का कब्ज़ा.

गुजरात के सोमनाथ मंदिर में पूजा करते कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी. (फोटो: फेसबुक/राहुल गांधी)

मोदी का गुजरात मॉडल एक झूठ है: राहुल गांधी

गुजरात दौरे पर गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमनाथ मंदिर में पूजा की. भाजपा ने राहुल पर सत्ता पाने के लिए घटिया बयानबाज़ी करने का आरोप लगाया.

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ बीएस​​​​​​​​​​​​​​​​​​​-फोर के संस्थापक आरके चौधरी. ​​(फोटो: पीटीआई)

बीएस-फोर का समाजवादी पार्टी में विलय

बहुजन समाज स्वाभिमान संघर्ष समिति के संस्थापक पूर्व मंत्री आरके चौधरी ने किया ऐलान. चौधरी ने कहा कि हम एकजुट होकर भाजपा को जड़ से उखाड़ फेकेंगे.

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती. (फोटो: पीटीआई)

हिंदुस्तान में पैदा होने से हर व्यक्ति हिंदू नहीं होता: शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने हाल में अपने एक बयान में कहा था कि हिंदुस्तान में रहने वाला हर व्यक्ति हिंदू है.

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और संघ प्रमुख मोहन भागवत. (फोटो: पीटीआई)

हिंदुत्व पर संघ प्रमुख के सुर से सुर मिला रहे उपराष्ट्रपति

अगरतला में संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा, भारत में रहने वाले सभी हिंदू हैं तो उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा, जीवन पद्धति है हिंदुत्व.

(फोटो साभार: वरुण गांधी/फेसबुक)

जनता के लिए योजनाएं जनता के बीच बनानी चाहिए, न कि एसी कमरों में: वरुण गांधी

सुल्तानपुर से भाजपा सांसद वरुण गांधी ने भ्रष्टाचार को बड़ी समस्या बताते हुए कहा कि हमारे यहां पारदर्शिता और जवाबदेही की कमी है.

शायर और गीतकार जावेद अख़्तर. (फोटो साभार: फेसबुक)

नेताओं को पता होना चाहिए कि उन्होंने देश नहीं बनाया, जनता ने बनाया है: जावेद अख़्तर

मशहूर शायर व गीतकार ने कहा, टीपू सुल्तान भारतीय नहीं थे और अगर मैं इससे सहमत नहीं, तो मैं राष्ट्रद्रोही बन जाऊंगा, तो मैं राष्ट्रद्रोही हूं.

Varun Gandhi Facebook

जन प्रतिनिधियों को वापस बुलाने का अधिकार जनता को मिलना चाहिए: वरुण गांधी

भाजपा सांसद ने कहा, अगर वह ‘गांधी’ नहीं होते तो 29 की उम्र में उन्हें सांसद बनने का मौका नहीं मिलता. ऐसी संस्कृति क्रिकेट और फिल्मों में भी है और इसे ख़त्म किया जाना चाहिए.

Episode 8 plain

हम भी भारत, एपिसोड 08: शौर्य डोभाल और ​इंडिया फाउंडेशन

हम भी भारत की आठवीं कड़ी में आरफ़ा ख़ानम एनएसए अजीत डोभाल के बेटे शौर्य डोभाल द्वारा संचालित इंडिया फाउंडेशन में हितों के टकराव संबंधी रिपोर्ट पर पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी और द वायर के संपादक एमके वेणु से चर्चा कर रही हैं.

Doval Collage

शौर्य डोभाल की सफाई जवाब से ज़्यादा सवाल खड़े करती है

द वायर की रिपोर्ट पर इंडिया फाउंडेशन की प्रतिक्रिया बेहद असंतोषजनक है. फाउंडेशन द्वारा न तो रिपोर्ट में उठाये गये और न ही निदेशकों को भेजे गए किसी सवाल का स्पष्ट जवाब दिया गया है.

(फाइल फोटो: रॉयटर्स)

क्या मोदी सरकार के मंत्री अजीत डोभाल के बेटे के संस्थान को फ़ायदा पहुंचा रहे हैं?

विशेष रिपोर्ट: शौर्य डोभाल द्वारा संचालित इंडिया फाउंडेशन में मोदी सरकार के मंत्री निदेशक हैं. यह संस्थान कई ऐसे कॉरपोरेट्स से चंदा लेता है, जो सरकार के साथ सौदे भी करते हैं.

बीते दिनों उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार ने भगवा रंग की बसों को हरी झंडी दिखाकर उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के बेड़े में शामिल किया. (फोटो साभार: योगी आदित्यनाथ/फेसबुक)

पहले शहर में राजनीति होती थी, अब शहरों की राजनीति होती है

पार्टियां और सरकारें बदलती हैं तो सिर्फ़ नुक्कड़ और चौराहों पर लगे इश्तिहार ही नहीं बदलते बल्कि सारे के सारे शहर का पोशाक बदल जाता है.

Gujrat Riot Reuters

वह चुनाव अभियान जिसने सांप्रदायिक राजनीति को बदल दिया

वर्ष 2002 में नरेंद्र मोदी के पहले राजनीतिक चुनाव प्रचार ने सबकुछ बदल दिया. पहली बार किसी पार्टी के नेता और उसके मुख्य चुनाव प्रचारक ने मुस्लिमों के ख़िलाफ़ नफ़रत भरा प्रचार अभियान चलाया.

PTI7_17_2017_000347B

‘सबसे बड़ा झूठ यह कहना है कि भारत का कोई दल भ्रष्टाचार से लड़ रहा है’

अगर सारे दल बीजेपी में शामिल हो जाएं तो हो सकता है कि प्रधानमंत्री टीवी पर ऐलान कर दें कि भारत से राजनीतिक भ्रष्टाचार ख़त्म हो गया है क्योंकि सब मेरे साथ आ गए हैं.

TN Hindi

जन गण मन की बात, एपिसोड 75: गोरक्षा पर प्रधानमंत्री का बयान और दिल्ली गोल्फ क्लब में नस्लीय भेदभाव

जन गण मन की बात की 75वीं कड़ी में विनोद दुआ कथित गोरक्षकों की गुंडागर्दी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान और दिल्ली गोल्फ क्ल​ब में पूर्वोत्तर की महिला के साथ हुए नस्लीय भेदभाव पर चर्चा कर रहे हैं.

vinod dua

जन गण मन की बात, एपिसोड 74: भीड़ द्वारा पीट​​​​-पीटकर नागरिकों की हो रही हत्याएं और जीएसटी

जन गण मन की बात की 74वीं कड़ी में विनोद दुआ भीड़ द्वारा पीट​​​​-पीटकर नागरिकों की हो रही हत्याओं और जीएसटी पर चर्चा कर रहे हैं.

TN Hindi

जन गण मन की बात, एपिसोड 72: राजस्थान के ग़रीब और बेरोज़गारी

जन गण मन की बात की 72वीं कड़ी में विनोद दुआ राजस्थान में ग़रीबों को चिह्नित करने के अभियान और देश में रोज़गार की कमी पर चर्चा कर रहे हैं.

Vinod Dua 71

जन गण मन की बात, एपिसोड 71: रामनाथ कोविंद और दार्जिलिंग में तनाव 

जन गण मन की बात की 71वीं कड़ी में विनोद दुआ राजग के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद और दार्जिलिंग में जारी तनाव पर पर चर्चा कर रहे हैं.

Vinod Dua 70

जन गण मन की बात, एपिसोड 70: न्यूनतम समर्थन मूल्य और प्रणब मुखर्जी

जन गण मन की बात की 70वीं कड़ी में विनोद दुआ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य और राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के कार्यकाल की चर्चा कर रहे हैं.

Vinod Dua EP 69

जन गण मन की बात, एपिसोड 69: लखनऊ विश्वविद्यालय में योगी का विरोध और सुगम्य भारत अभियान

जन गण मन की बात की 69वीं कड़ी में विनोद दुआ लखनऊ विश्वविद्यालय में योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम के विरोध में छात्र-छात्राओं के प्रदर्शन और सुगम्य भारत अभियान पर चर्चा कर रहे हैं.

Vinod Dua 68

जन गण मन की बात, एपिसोड 68: नोटबंदी का किसानों पर असर और आधार व पैन कार्ड 

जन गण मन की बात की 68वीं कड़ी में विनोद दुआ किसानों पर नोटबंदी के असर और आधार व पैन कार्ड से जुड़े अदालत के फैसले पर चर्चा कर रहे हैं.

Vinod Dua EP 67

जन गण मन की बात, एपिसोड 67: गांधी और नोटबंदी

जन गण मन की बात की 67वीं कड़ी में विनोद दुआ भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा गांधी को चतुर बनिया बताए जाने और नोटबंदी से अर्थव्यवस्था पर पड़े दुष्प्रभाव पर चर्चा कर रहे हैं.

Vinod Dua EP 54.jpg

जन गण मन की बात, एपिसोड 54: छोटे-मझोले उद्योगों की अनदेखी और विपक्ष पर हमला

जन गण मन की बात की 54वीं कड़ी में विनोद दुआ बैंकों द्वारा छोटे और मझोले उद्योगों को कर्ज़ देने से मना करने और सरकार द्वारा विपक्ष को घेरने की कोशिशों पर चर्चा कर रहे हैं.

Vinod Dua EP 53

जन गण मन की बात, एपिसोड 53: मोदी सरकार के तीन साल और आईटी क्षेत्र में छंटनी

जन गण मन की बात की 53वीं कड़ी में विनोद दुआ मोदी सरकार के तीन साल और आईटी क्षेत्र में हो रही छंटनी पर चर्चा कर रहे हैं.

Vinod Dua EP 52

जन गण मन की बात, एपिसोड 52, वन बेल्ट वन रोड और कांग्रेस युक्त भाजपा

जन गण मन की बात की 52वीं कड़ी में विनोद दुआ चीन की महत्वाकांक्षी परियोजना ‘वन बेल्ट वन रोड’ और कांग्रेस युक्त भाजपा पर चर्चा कर रहे हैं.