महाराष्ट्र राज्य मानवाधिकार आयोग

(फोटो साभार: विकिपीडिया)

छात्र की मौत के मामले की ग़लत जांच करने को लेकर सीबीआई पर 15 लाख का जुर्माना

महाराष्ट्र राज्य मानवाधिकार आयोग ने कहा कि मृतक के पिता सात सालों से न्याय के लिए भटक रहे हैं. लेकिन मजिस्ट्रेट कोर्ट को पता चला कि सीबीआई ने गलत जांच की, जिससे उसके काम करने के तरीके पर संदेह उठता है.