मुहम्मद अली दरगाह

पाकिस्तान: गए थे पाप धोने, जान से हाथ धो बैठे

‘गद्दीनशीं अब्दुल वाहिद दरगाह आने वालों को ‘पाक़’ करने के लिए उनकी मर्ज़ी से उन्हें पीटता था. शनिवार को उसने 20 ज़ायरीनों की जान ले ली’