राष्ट्रीय जनता दल

लालू यादव (फोटो: पीटीआई)

आईआरसीटीसी घोटाला: लालू, राबड़ी और तेजस्वी को दिल्ली की अदालत से मिली जमानत

11 फरवरी को होगी मामले की अगली सुनवाई. फैसले का स्वागत करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि हम आश्वस्त हैं कि न्याय मिलेगा. हमें न्यायपालिका पर भरोसा है.

लालू यादव (फोटो: पीटीआई)

आईआरसीटीसी घोटाला: सीबीआई द्वारा दर्ज मामले में लालू यादव को ​ज़मानत मिली

अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय द्वारा दर्ज एक अलग मामले में राजद प्रमुख लालू यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी, बेट तेजस्वी और अन्य की अंतरिम जमानत अवधि 28 जनवरी तक के लिए बढ़ा दी.

Ranchi: Former Bihar CM Lalu Prasad Yadav being taken to the Special CBI Court from Birsa Munda Jail, in Ranchi on Wednesday. Lalu Prasad Yadav has been found guilty in the third fodder scam case related to fradulent withdrawal from Chaibasa Treasury case. PTI Photo (PTI1_24_2018_000138B)

आईआरसीटीसी घोटाला: राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को अंतरिम ज़मानत मिली

आरोप है कि लालू प्रसाद यादव ने बतौर रेल मंत्री रहते हुए अपने पद का दुरुपयोग करते हुए आईआरसीटीसी के दो होटलों का ठेका सुजाता होटल्स प्राइवेट लिमिटेड नाम की एक निजी कंपनी को दिया था.

New Delhi: Members of Left Unity celebrate after their sucess in Jawaharlal Nehru University Student Union (JNUSU) elections, in New Delhi, Sunday, Sept 16, 2018. (PTI Photo) (PTI9_16_2018_000091B)

जेएनयू छात्रसंघ चुनाव: ‘लेफ्ट यूनिटी’ ने केंद्रीय पैनल की सभी चार सीटों पर जीत हासिल की

लेफ्ट यूनिटी से एन. साई बालाजी, सारिका चौधरी, एजाज अहमद और अमुथा ने जीत हासिल की. इस साल के चुनाव में 67.8 प्रतिशत छात्रों ने मतदान किया था जो कि पिछले साल के मुकाबले लगभग 10 प्रतिशत अधिक है.

Patna: Bihar opposition leader Tejashwi Yadav with RJD leader Tej Pratap and Congress MLAs march towards Raj Bhawan for stake claim to form the government in the state, being the single largest party in the Legislative Assembly, in Patna on Friday. (PTI Photo)(PTI5_18_2018_000097B)

‘कृष्ण’ और ‘बलराम’ को लड़ाने की कोशिश हो रही है: तेज प्रताप यादव

राजद उपाध्यक्ष और अपनी मां राबड़ी देवी के पटना स्थित आवास पर पार्टी नेताओं की बैठक से तेज प्रताप के अनुपस्थित रहने पर सत्ताधारी जदयू और भाजपा ने दावा किया था कि लालू परिवार के भीतर अंतर्कलह चल रही है.

नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार. (फोटो: पीटीआई)

बिहार में क्या भाजपा-जदयू गठबंधन के दिन पूरे हो चुके हैं?

बिहार में इन दिनों घट रहीं सियासी घटनाएं बता रही हैं कि भाजपा और जदयू के बीच 2013 के पहले जैसा तालमेल था, वैसा अब नहीं रहा और इस बार भाजपा-जदयू गठबंधन की उम्र भी बहुत लंबी नहीं रहने वाली है.

Lalu Prasad Yadav and Sons PTi

मेरा सोचना है कि मैं ‘अर्जुन’ को हस्तिनापुर की गद्दी पर बैठाऊं और द्वारका चला जाऊं: तेज प्रताप

राजद प्रमुख लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप ने यह बात एक ट्वीट में कही, जिसे पारिवारिक कलह के तौर पर देखा गया. बाद में तेज प्रताप ने सफाई देते हुए छोटे भाई तेजस्वी यादव को कलेजे का टुकड़ा बताया.

Patna: RJD leader Tejashwi Yadav being garlanded along with former Bihar CM and HAM(S) Chief Jitan Ram Manjhi during a joint press conference in Patna on Wenesday. Manjhi quit the Bharatiya Janata Party (BJP)-led ruling National Democratic Alliance (NDA). PTI Photo  (PTI2_28_2018_000212B)

एनडीए का साथ छोड़ महागठबंधन में शामिल हुए जीतनराम मांझी

दो दिन पहले मांझी ने मार्च में होने वाले राज्यसभा की छह सीटों के चुनाव के लिए बिहार से अपनी पार्टी के व्यक्ति को एनडीए उम्मीदवार घोषित किए जाने की मांग की थी. कांग्रेस के चार एमएलसी जदयू में शामिल.

तेजप्रताप यादव (फोटो: फेसबुक)

तेजप्रताप को थप्पड़ मारने वाले को देंगे एक करोड़: भाजपा नेता

बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव के सुशील मोदी के बारे में दिए गये बयान के जवाब में पटना जिले के भाजपा मीडिया प्रभारी अनिल साहनी के इस बयान की पार्टी ने निंदा की है.

New Delhi: Opposition leaders Ghulam Nabi Azad of Congress, Derek O’Brien of TMC and JD (U) rebel leader Sharad Yadav addressing the media to observe November 8 as Black Day to protest note ban, in New Delhi on Tuesday. PTI Photo by Atul Yadav  (PTI10_24_2017_000040A)

नोटबंदी: आठ नवंबर को विपक्ष मनाएगा काला दिवस, देश भर में होंगे प्रदर्शन

कांग्रेस नेता ग़ुलाम नबी आज़ाद ने कहा, मनमोहन सिंह ने नोटबंदी के कारण जीडीपी में दो प्रतिशत कमी आने की आशंका जताई थी, वह सही साबित हुई.

Mayawati akhilesh

‘यूपी का चुनाव परिणाम सामाजिक न्याय के नेताओं की राजनीति की हार है’

लोकतंत्र में हर पल अपने समाज और वोटरों के बारे में सोचते रहना पड़ता है, लेकिन दुखद यह है कि उत्तर भारत के सामाजिक न्याय के सभी बड़े नेता सिर्फ अपने परिवार और रिश्तेदार के बारे में सोचते हैं, उन जनता के बारे में नहीं जिनके वोट से ये मसीहा बने थे.