रेवाड़ी

Rewari

रेवाड़ी सामूहिक बलात्कार मामले में आरोपी थलसेना के जवान सहित दो गिरफ़्तार

हरियाणा के रेवाड़ी ज़िले में बीते 12 सितंबर को 19 वर्षीय युवती का अपहरण करने के बाद सामूहिक बलात्कार किया गया था. पुलिस इससे पहले मुख्य आरोपी सहित तीन लोगों को ​गिरफ़्तार कर चुकी है.

(फोटो: रॉयटर्स)​​​

रेवाड़ी गैंगरेप मामले में क़ानून तोड़ने वाले मीडिया घरानों पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई: कोर्ट

मीडिया द्वारा पहचान उजागर करने पर सुप्रीम कोर्ट नाराज़. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मीडिया ने बताया कि वह टॉपर थी. टॉपर का मतलब एक व्यक्ति होता है न कि 20 लोग. इसलिए उसकी पहचान किए जाने में कोई समस्या नहीं रह गई.

Rewari gangrape main accused ANI

रेवाड़ी सामूहिक बलात्कार: मुख्य आरोपी समेत तीन गिरफ्तार

दो अन्य मुख्य आरोपियों को पकड़ने के लिए कई जगहों पर छापेमारी जारी है, जिसमें एक आरोपी सेना का जवान है. बीते 12 सितंबर को हरियाणा के रेवाड़ी ज़िले में एक युवती का अपहरण कर तीन लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया था.

रेवाड़ी में हुए सामूहिक बलात्कार मामले की जांच कर रहीं नूह की एसपी नाज़नीन भसीन. (फोटो साभार: एएनआई)

हरियाणा सामूहिक बलात्कार: रेवाड़ी के एसपी हटाए गए, परिवार ने मुआवज़ा ठुकराया

बीते 12 सितंबर को हरियाणा के रेवाड़ी ज़िले में 19 साल की युवती का अपहरण कर उसके साथ तीन लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया था. आरोपियों में सेना का एक जवान भी शामिल है. मामले में दो लोग गिरफ़्तार लेकिन तीनों आरोपी पुलिस की गिरफ़्त से बाहर.

योगेंद्र यादव. (फोटो: द वायर)

मुझे डराने के लिए मोदी सरकार मेरे परिवार को निशाना बना रही है: योगेंद्र यादव

स्वराज इंडिया पार्टी के नेता योगेंद्र यादव ने किसानों को फसल की उचित कीमत दिलाने और हरियाणा के रेवाड़ी में शराब की दुकानों के ख़िलाफ़ आंदोलन छेड़ा हुआ है. यादव ने कहा कि आयकर विभाग ने मुझे डराने के लिए मेरी बहन के अस्पताल पर छापा मारा.

मांग पूरी होने के बाद जीत की ख़ुशी मनाती छात्राएं. (फोटो: पिंजरा तोड़ के फेसबुक पेज से)

…और छात्राओं ने भूख हड़ताल करके हासिल किया स्कूल

हरियाणा में गोठड़ा और राजगढ़ गांव में पिछले महीने तमाम छात्राएं गांव के स्कूल को बारहवीं तक करने की मांग को लेकर भूख हड़ताल पर बैठीं. अंतत: सरकार ने उनकी मांग मान ली.

haryana girls on hunger strile photo by south live

हरियाणा में छेड़छाड़ से परेशान छात्राएं स्कूल छोड़कर धरने पर

रेवाड़ी ज़िले के एक गांव की तकरीबन 80 लड़कियां गांव के स्कूल को बारहवीं कक्षा तक करने की मांग के साथ भूख हड़ताल पर बैठी हैं. पढ़ाई के लिए गांव से दूर जाने पर रास्ते में होती है छेड़छाड़.