लोकसभा चुनाव परिणाम 2019

गिरिराज सिंह और कन्हैया कुमार. (फोटो: पीटीआई)

बेगूसराय सीट से हारे कन्हैया कुमार, गिरिराज सिंह 4 लाख से अधिक मतों से जीते

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: गिरिराज सिंह को बेगूसराय में डाले गए कुल 12.17 लाख मतों में से 6.88 लाख वोट मिले, वहीं जेएनयू छात्रसंघ के अध्यक्ष रहे कन्हैया कुमार को कुल 2.68 लाख वोट मिले. 1.97 लाख वोटों के साथ राजद नेता और महागठबंधन उम्मीदवार तनवीर हसन तीसरे स्थान पर रहे.

Delhi MPs Collage

दिल्ली की सातों सीटों पर भाजपा ने विशाल अंतर से जीत दर्ज की

आप के तीन उम्मीदवार चांदनी चौक से पंकज कुमार गुप्ता, नई दिल्ली से बृजेश गुप्ता और उत्तर पूर्व सीट से दिलीप पांडेय अपनी ज़मानत तक नहीं बचा पाए. इसके साथ ही दक्षिण दिल्ली सीट से कांग्रेस उम्मीदवार विजेंदर सिंह की भी ज़मानत ज़ब्त हो गई.

एक चुनावी सभा के दौरान अखिलेश यादव. (फोटो साभार: फेसबुक)

आज़मगढ़: सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव करीब 2.27 लाख वोटों से आगे

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: साल 2014 के लोकसभा चुनाव में इस सीट से अखिलेश यादव के पिता और सपा नेता मुलायम सिंह यादव 63,204 वोटों से जीते थे.

New Delhi: Senior Congress leader Jyotiraditya Scindia addresses a press conference, in New Delhi, on Sunday, June 03, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI6_3_2018_000066B)

मध्य प्रदेश: 29 में से 28 सीटों पर भाजपा आगे, गुना में ज्योतिरादित्य 1.26 लाख वोटों से पिछड़े

सिंधिया परिवार का गढ़ मानी जाने वाली मध्य प्रदेश की गुना लोकसभा सीट पर भाजपा के केपी यादव करीब पांच लाख मतों के साथ पहले नंबर पर चल रहे हैं.

राहुल गांधी और स्मृति ईरानी. (फोटो: पीटीआई)

अमेठी में राहुल गांधी ने हार स्वीकारी, स्मृति ईरानी को दी बधाई

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: कांग्रेस की परंपरागत सीटों में से एक अमेठी में भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से 35 हज़ार वोट से आगे चल रही हैं.

Kolkata: BJP supporters show victory sign as they celecbrate their party's lead in the Lok Sabha elections, at BJP office, in Kolkata, Thursday, May 23, 2019. (PTI Photo/Ashok Bhaumik) (PTI5_23_2019_000073B)

उत्तर प्रदेश: लोकसभा की 80 में से 58 सीटों पर भाजपा आगे, 20 पर महागठबंधन को बढ़त

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: 2014 में उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से 73 सीटें भाजपा और उसके सहयोगी दलों को मिली थींं.

वैभव गहलोत. (फोटो साभार: फेसबुक)

राजस्थान: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे भाजपा के गजेंद्र सिंह शेखावत से दो लाख वोटों से पीछे

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: राजस्थान के जोधपुर में 2014 के लोकसभा चुनाव में गजेंद्र सिंह शेखावत ने 4.10 लाख वोट से जीत हासिल की थी. हालांकि, चार माह पहले हुए विधानसभा चुनाव में जोधपुर संसदीय क्षेत्र की 8 विधानसभा सीट में से कांग्रेस ने 6 पर जीत हासिल की, जबकि भाजपा के खाते में महज दो सीट ही आ पाई थी.

Kolkata: West Bengal chief minister and Trinamool Congress chief Mamata Banerjee addresses the party's extended Core Committee meeting in Kolkata, Monday, Feb 25, 2019. (PTI Photo/Swapan Mahapatra) (PTI2_25_2019_000127B)

पश्चिम बंगाल: तृणमूल कांग्रेस 19, भाजपा 14 लोकसभा सीटों पर आगे

पश्चिम बंगाल में कांग्रेस सिर्फ दो सीटों पर आगे चल रही है. आसनसोल से भाजपा उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो तृणमूल कांग्रेस की मुनमुन सेन से 31,670 मतों से आगे चल रहे हैं.

मध्य प्रदेश में मतगणना केंद्र पर एक साथ बैठे दिग्विजय सिंह और प्रज्ञा ठाकुर. (फोटो साभार: एएनआई)

मध्य प्रदेश: भोपाल सीट से प्रज्ञा ठाकुर 3,23,000 वोटों से आगे

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: प्रज्ञा ठाकुर के निर्णायक बढ़त लेने के बाद दिग्विजय सिंह ने अपनी हार स्वीकार कर ली. उन्होंने कहा कि मैं जनादेश को स्वीकार करता हूं.

Amritsar: A kitemaker displays customised kites made ahead of the Lok Sabha elections results 2019, in Amritsar, Wednesday, May 22, 2019. (PTI Photo) (PTI5_22_2019_000072B)

लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: रुझानों में एनडीए को बहुमत के आसार, 100 सीटों के पार जाएगी यूपीए

प्रमुख उम्मीदवारों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी से आगे चल रहे हैं जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केरल के वायनाड सीट से आगे चल रहे हैं. हालांकि राहुल गांधी अपनी पारंपरिक सीट अमेठी से पीछे चल रहे हैं जहां उनका मुकाबला केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से है.

फोटो: पीटीआई

क्या एक्ज़िट पोल पर भरोसा किया जा सकता है?

एक एक्ज़िट पोल में पश्चिम बंगाल में भाजपा को 4 से लेकर 22 सीटों तक का आकलन दिया, जिसमें 5 गुने का फर्क है. तमिलनाडु में एनडीए को 2 से 15 सीटें दी गईं, जिसमें सात गुने का फर्क है. एक चैनल ने पंजाब में भाजपा को उतनी सीटें दीं, जितनी वह लड़ ही नहीं रही. उत्तराखंड में उस आम आदमी पार्टी को भी कुछ प्रतिशत वोट दिला दिए जो वहां चुनाव मैदान में ही नहीं है.