वामपंथी

AKI 14 December 2020.00_33_40_07.Still004

किसान आंदोलन: सरकार का ‘टुकड़े-टुकड़े’ राग और सीएए आंदोलन का एक साल

वीडियो: केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि नए कृषि क़ानून के ख़िलाफ़ किसान आंदोलन का फायदा उठाने की कोशिश कर रहे ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि आंदोलन ज्यादातर वामपंथियों और माओवादियों के हाथ में चला गया है. इस मुद्दे पर डीयू के प्रोफ़ेसर अपूर्वानंद से आरफ़ा ख़ानम शेरवानी की बातचीत.

AKI 29 July 2020.00_17_57_02.Still003

क्या सांप्रदायिक ट्वीट्स के लिए बर्ख़ास्त होंगे पूर्व सीबीआई निदेशक?

वीडियो: सीबीआई के पूर्व निदेशक और कार्यरत आईपीएस अधिकारी एम. नागेश्वर राव ने दावा किया कि ‘खूनी इस्लामिक आक्रमण/शासन’ के बारे में लीपापोती कर भारतीय इतिहास के साथ छेड़छाड़ हुई है. इस बारे में उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह से द वायर की सीनियर एडिटर आरफ़ा ख़ानम शेरवानी की बातचीत.

Bidyut-chakrabarty-universitywebsite

विश्व भारती यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर का भाषण रिकॉर्ड करने वाले छात्र को हॉस्टल से निकाला

पश्चिम बंगाल की विश्व भारती यूनिवर्सिटी के एक छात्र ने वाइस चांसलर विद्युत चक्रवर्ती द्वारा गणतंत्र दिवस पर दिए गए संबोधन की वीडियो रिकॉर्डिंग की थी. संबोधन में वे कह रहे थे कि नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने वाले जिस संविधान की प्रस्तावना पढ़ रहे हैं वह अल्पसंख्यक मतों द्वारा तैयार किया गया था लेकिन अब यह हमारे लिए वेद बन गया है. अगर हमें प्रस्तावना पसंद नहीं हैं तो हम मतदाता इसे बदल देंगे.

Bidyut-chakrabarty-universitywebsite

विश्व भारती यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर पर छात्रों को ‘सबक सिखाने’ का आरोप, मामला दर्ज

पश्चिम बंगाल के विश्व भारती यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर विद्युत चक्रवर्ती पर आरोप है कि उन्होंने एक रैली में कहा था कि कुछ छात्रों को सबक सिखाने की जरूरत है. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

लेखक और इतिहासकार रामचंद्र गुहा. (फोटो साभार: द हिंदू)

केरल ने राहुल गांधी को चुनकर विनाशकारी काम किया: रामचंद्र गुहा

इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने केरल साहित्य महोत्सव के दूसरे दिन ‘राष्ट्रभक्ति बनाम अंधराष्ट्रीयता’ विषय पर आयोजित सत्र में कहा कि कांग्रेस का स्वतंत्रता संग्राम के समय ‘महान पार्टी‘ से आज ‘दयनीय पारिवारिक कंपनी‘ बनने के पीछे एक वजह भारत में हिंदुत्व और अंधराष्ट्रीयता का बढ़ना है.

ak roy twitter

अलग झारखंड के लिए आंदोलन शुरू करने वाले मार्क्सवादी और पूर्व लोकसभा सांसद एके रॉय का निधन

वरिष्ठ वाम नेता और सीटू झारखंड प्रदेश समिति के मुख्य संरक्षक रॉय को उम्र संबंधी दिक्कतों के कारण आठ जुलाई को यहां केंद्रीय अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

(फोटो साभार: विकिमीडिया कॉमन्स)

वामपंथ से इतनी घृणा क्यों?

सुब्रमण्यम स्वामी ने पूछा कि ‘विदेशी आतंकवादी’ लेनिन की मूर्ति देश में कहीं भी क्यों होनी चाहिए? काश कोई उन्हें बताता कि लेनिन तब से भारतीय क्रांतिकारी आंदोलन की प्रेरणा हैं, जब स्वामी की पार्टी के पुरखे अंग्रेज़ों का हुक्का भरने में मगन थे.

Subhash-Chandra-Bose-Jawahar-Lal-Nehru-Wiki

क्या नेताजी के ज़िंदा होने की ख़बर नेहरू को घेरने के लिए फैलाई गई थी?

लोगों को यक़ीन दिलाया गया कि नेताजी इसलिए भूमिगत रहे क्योंकि नेहरू ने ब्रिटिश सरकार से गुपचुप समझौता किया था कि अगर नेताजी कभी जीवित मिलते हैं तो उन्हें एक युद्ध अपराधी के रूप में तत्काल ब्रिटेन को सौंप दिया जाएगा.

केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन. (फोटो: पीटीआई)

केरल में केंद्रीय मंत्रियों ने सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास किया: पिनरई विजयन

माकपा नेता कोडियेरी बालाकृष्णन ने कहा, राजनीतिक हिंसा में आरएसएस की ओर से 214 माकपा कार्यकर्ता मारे गए, भाजपा-आरएसएस को जवाब देना चाहिए.

Amit_Shah-PTI

हिंसा की राजनीति वामपंथियों के स्वभाव में है: अमित शाह

माकपा का अमित शाह पर पलटवार, कहा हिंसा की राजनीति का दौर आरएसएस ने शुरू किया, शाह की पदयात्रा मुद्दों से ध्यान भटकाने का हथकंडा है.

जयप्रकाश नारायण. (जन्म: 11 अक्टूबर 1902  मृत्यु: 08 October 1979)

कहते हैं उनको जयप्रकाश जो नहीं मरण से डरता है…

आपातकाल की चर्चा तब तक पूरी नहीं होती जब तक स्वाधीनता संग्राम सेनानी और प्रसिद्ध समाजवादी नेता जयप्रकाश नारायण की चर्चा न की जाए.